खोज

Vatican News
बीजिंग के सड़को पर यात्रा करते लोग बीजिंग के सड़को पर यात्रा करते लोग   (ANSA)

हांगकांग में कोविद -19 उछाल के बीच पवित्र मिस्सा में रोक

हांगकांग में कोविद -19 मामलों के तेजी से बढ़ने के साथ एक "तीसरी लहर" की चिंताओं के कारण, कार्डिनल जॉन टोंग ने सभी सार्वजनिक मिस्सा समारोह को अगले नोटिस तक रोक दिया है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

हांगकांग, बुधवार 29 जुलाई 2020 (वाटिकन न्यूज) :  हांगकांग में काथलिक कलीसिया ने हाल ही में कोविद -19 वायरल प्रसार से निपटने के लिए हाल ही में लगाए गए महामारी विरोधी उपायों के नोटिस की घोषणा की है। चांसरी धर्मप्रांत ने सोमवार को नोटिस प्रकाशित किया, जिसमें 14 जुलाई को घोषित दिशानिर्देशों का विस्तार किया गया है।

कार्डिनल जॉन टोंग ने कहा, ʺयह निर्णय इसलिए किया गया क्योंकि "कोविद -19 महामारी की स्थिति पिछले दो हफ्तों से बिगड़ती जा रही है और सरकार शायद और भी कड़े महामारी विरोधी उपायों को जल्द अपनाएगी।"

उपायों की आवश्यकता

महामारी के प्रसार को रोकने के उपायों में रविवार और सप्ताह के दिनों में आयोजित मानूहिक मिस्सा पर प्रतिबंध शामिल है। शादी समारोह में भाग लेने हेतु 20 लोगों को अनुमति है और अंतिम संस्कार के लिए प्रतिभागियों की संख्या पर कोई प्रतिबंध नहीं है।

विश्वासियों के निजी प्रार्थना या पवित्र संस्कार की भेंट करने के लिए गिरजाघर और प्रार्थनागृह खुले रहेंगे। विश्वासियों को सामाजिक दूरी बनाये रखना है, मास्क पहनाना है और गिरजाघरों में प्रवेश करने से पहले सभी के शरीर के तापमान की जांच की जानी चाहिए।

दिशानिर्देश में काथलिकों से आग्रह किया गया है कि वे ऑनलाइन मिस्सा में भाग लें, आध्यात्मिक रूप से पवित्र साक्रामेंट प्राप्त करें, या रविवार के पाठों पर मनन करें और रोज़री की प्रार्थना करें।

हांगकांग की स्थिति 

कार्डिनल टोंग ने उन सावधानियों को विस्तार करने का फैसला  किया क्योंकि कोविद -19 मामलों की रिकॉर्ड संख्या में इस क्षेत्र को रखा गया था।

अधिकारियों ने सात दिनों के लिए तीन अंकों में नए संक्रमण की सूचना दी है। नये संक्रमण  सोमवार को 145 और मंगलवार को 106 मामले रेकार्ड किये गये। ज्यादातर मामले सामुदायिक प्रसार के परिणाम हैं। हांगकांग हॉस्पिटल के अधिकारियों का कहना है कि नए मामले तेजी से सामने आ रहे हैं, पब्लिक हॉस्पिटल उन्हें भर्ती कर सकते हैं।

सामुदायिक प्रसार के जवाब में, सरकार ने सोमवार को दो से अधिक लोगों के जमा होने पर प्रतिबंध लगा दिया, सभी रेस्तरां बंद कर दिए और सार्वजनिक रूप से फेस मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया। उपाय आज बुधवार से प्रभावी हुआ और सात दिनों तक चलेगा।

29 July 2020, 14:13