खोज

Vatican News
आग से भस्म दक्षिण ऑस्ट्रेलिया आग से भस्म दक्षिण ऑस्ट्रेलिया  (ANSA)

ऑस्ट्रेलिया में कलीसिया द्वारा बुशफायर रिकवरी फंडिंग को बढ़ावा

ऑस्ट्रेलिया में कई काथलिक संस्थाएँ इस साल की शुरुआत में लम्बे समय तक जंगलों में लगे भयानक आग से प्रभावित लोगों को आध्यात्मिक और मनोवैज्ञानिक सहायता प्रदान करने वाले समूहों के लिए अनुदान प्रदान कर रही हैं।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

ऑस्ट्रेलिया, बुधवार 17 जून 2020 (वाटिकन न्यूज) : ऑस्ट्रेलिया की कलीसिया ने प्राकृतिक आपदाओं का जवाब देने वाली काथलिक एजेंसियों के लिए समन्वय बिंदु के रूप में काम करने के लिए फरवरी में काथलिक आपातकालीन राहत ऑस्ट्रेलिया (सीइआरए) की शुरुआत की।

मंगलवार को, सीइआरए ने घोषणा की कि 15 काथलिक संगठनों ने इस वर्ष के राष्ट्रव्यापी बुशफायर से प्रभावित लोगों की मदद करने के अपने प्रयासों का समर्थन करने के लिए धन प्राप्त किया है।

ब्लैक समर

ऑस्ट्रेलिया के बड़े हिस्से 2019-2020 के जंगलों में आग लगने के दौरान झुलस गए थे, जो ‘ब्लैक समर’ के नाम से जाना जाता है।

जून 2019 से मई 2020 के बीच 18 मिलियन हेक्टेयर में आग लगी।

इस आग में कम से कम 34 लोग मारे गए थे और अन्य 400 से अधिक लोग अप्रत्यक्ष रूप से धुएँ को साँस लेने के कारण के मारे थे। आग की लपटों के कारण लगभग 6,000 इमारतें नष्ट हो गईं और अनुमानित 1 बिलियन जानवरों की मौत हो गई।

झाड़ियों और जंगलों में लगे आग ने देश भर को जला दिया, लेकिन उत्तरी क्षेत्र और न्यू साउथ वेल्स सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्र थे।

अनुदान के लिए आवेदन

काथलिक आपातकालीन राहत ऑस्ट्रेलिया (सीइआरए) ने  देश भर के लोगों को उनकी उदारता पूर्वक धन जमा करने के लिए धन्यवाद दिया और काथलिक संगठनों को अनुदान प्राप्त करने के लिए आवेदन करने हेतु आमंत्रित किया।

24 संगठनों ने अवेदन दिया था, उनमें से 15 संगठनों को कुल $ 110,000 का एयू प्राप्त होगा।

प्राप्तकर्ताओं में कई पल्लियाँ शामिल हैं, जहाँ आदिवासी सलाह कार्यक्रम, बच्चों का समर्थन करने के उद्देश्य से परियोजनाएं, और लोगों को नुकसान के दर्द से उबरने में मदद करने के लिए परामर्श कार्यक्रम चलाये जाएंगे।

आध्यात्मिक और भावनात्मक स्वास्थ्य-लाभ

सीइआरए की प्रमुख सुसान पासको ने कहा कि फंडिंग लोगों के मानसिक स्वास्थ्य और आघात प्रबंधन का समर्थन करने के लिए परियोजनाओं और कार्यक्रमों पर केंद्रित है।

उन्होंने कहा, "सरकार और गैर सरकारी संगठनों ने बुशफायर के मद्देनजर ज्यादातर लोगों की तात्कालिक, भौतिक जरूरतों को पूरा किया। परंतु लोगों के आध्यात्मिक, भावनात्मक और मनोवैज्ञानिक सुधार में ज्यादा समय लगेगा। हमें विश्वास है कि हमारे द्वारा प्रदान की जाने वाली धनराशि बुशफायर से प्रभावित लोगों के जीवन में बदलाव लाएगी।"

17 June 2020, 15:37