खोज

Vatican News
कार्डिनल ग्रेसियस कार्डिनल ग्रेसियस 

कोरोनावायरस से बचने हेतु भारतीय धर्माध्यक्षों द्वारा प्रार्थना

भारत की काथलिक कलीसिया रविवार पेंतेकोस्त महापर्व के दिन मध्याह्न 12 बजे, देश में कोरोना वायरस महामारी एवं शारीरिक, आध्यात्मिक तथा सांसारिक बुराइयों से चंगाई हेतु पवित्र आत्मा से प्रार्थना करेगी।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

नई दिल्ली, शनिवार, 30 मई 2020 (एशियान्यूज)- भारतीय काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के अध्यक्ष कार्डिनल ऑस्वल्ड ग्रेसियस एवं उप-अध्यक्ष मावेलिकारा (केरल) के सिरो मालांकरा एपार्की धर्माध्यक्ष जोशुवा मार इग्नासियुस ने देश के विभिन्न धर्माध्यक्षों एवं कलीसिया को प्रार्थना का प्रस्ताव रखा है।  

धर्माध्यक्ष जोशुआ ने एशिया न्यूज को बतलाते हुए कहा, "हमने निकटवर्ती 5 समुदायों के साथ एक ख्रीस्तीय एकता प्रार्थना सभा का आयोजन किया है जिनमें ऑर्थोडॉक्स कलीसिया, मार थोमास की कलीसिया, दक्षिण भारत की कलीसिया, साल्वेशन आर्मी और सिरो मालांकरा कलीसिया शामिल हैं।  

रविवार को 12 बजे सभी गिरजाघरों एवं ख्रीस्तीय संस्थाओं की घंटियाँ बजायी जायेंगी। इसके बाद हम प्रार्थना शुरू करेंगे।

चूँकि देश अभी भी महामारी के चपेट में है इस कार्यक्रम को भारत के सभी परिवारों एवं लोगों के लिए टीवी पर लाईव प्रसारित किया जाएगा ताकि वे भी पेन्तेकोस्त महापर्व में भाग ले पायें एवं उसे मना सकें।

प्रार्थना सभा में अल्लेलूया एवं परम्परागत भजन गाये जायेंगे, उसके बाद सात चंगाई प्रार्थना - शारीरिक, मानसिक, भावनात्मक, संबंध, समाज, भूमि और आत्मा के लिए अर्पित की जायेगी। सभी प्रार्थनाओं की व्याख्या एक ख्रीस्तीय अगुआ के द्वारा किया जाएगा।

प्रभु की प्रार्थना के बाद, धर्माध्यक्ष जोशुआ मार इग्नासियुस प्रार्थना सभा का समापन भारत के राष्ट्रीय गान से करेंगे।

धर्माध्यक्षों को लिखते हुए कार्डिनल ग्रेसियस ने गौर किया है कि भारत में तालाबंदी के बावजूद कोरोना वायरस से संक्रमण बढ़ता जा रहा है। ऐसा लगता है कि हम महामारी के अंत के निकट नहीं हैं। इस कारण से हमारा आह्वान है कि पेंतेकोस्त के दिन अधिक भरोसे के साथ प्रार्थना करें। यह सभी ख्रीस्तीयों के लिए महान अवसर होगा जब इस मतलब के लिए एक साथ मध्याहन 12 बजे प्रार्थना की जायेगी।

30 May 2020, 14:38