खोज

Vatican News
तुर्की से भेजे गये शरणार्थी ग्रीस की सीमा पर  - 06.03.2020 तुर्की से भेजे गये शरणार्थी ग्रीस की सीमा पर - 06.03.2020  (AFP or licensors)

विश्व आप्रवासी और शरणार्थी दिवस 27 सितम्बर को

सन्त पापा फ्राँसिस ने 106 वें आप्रवासी एवं शरणार्थी दिवस के लिये अपने सन्देश का विषय रखा है, "भागने के लिए येसु मसीह की तरह मजबूर"। यह सन्देश विस्थापितों की प्रेरिताई पर केन्द्रित रहेगा जिनकी संख्या आज विश्व में चार करोड़ दस लाख है।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 6 मार्च 2020 (रेई, वाटिकन रेडियो): सार्वभौमिक काथलिक कलीसिया द्वारा घोषित 106 वाँ आप्रवासी और शरणार्थी दिवस आगामी 20 सितम्बर को मनाया जायेगा। वाटिकन प्रेस द्वारा प्रकाशित विज्ञप्ति में बताया गया कि सन्त पापा फ्राँसिस ने इस दिवस के लिये अपने सन्देश का विषय रखा है, "भागने के लिए येसु  मसीह की तरह मजबूर"। यह सन्देश विस्थापितों की प्रेरिताई पर केन्द्रित रहेगा जिनकी संख्या आज विश्व में चार करोड़ दस लाख है।

 भागने के लिये मजबूर

विज्ञप्ति में कहा गया कि सन्देश के शीर्षक से यह स्पष्ट है कि चिन्तन, विस्थापित एवं शरणार्थी रूप में, येसु एवं उनके परिवार के अनुभव से शुरु होता है। यह स्वागत या आतिथ्य के लिये हम ख्रीस्तानुयायियों को ख्रीस्तशास्त्रीय आधार प्रदान करता है। आगामी माहों में उक्त विषय छः उपविषयों में क्रियाओं के छः जोड़ों द्वारा विकसित किया जायेगा: समझने के लिए जानना; सेवा के लिए निकट आना; सुलह के लिए सुनना; साझा करना और इस प्रकार आगे बढ़ना; बढ़ावा देने के लिए शामिल होना; और अंत में, निर्माण करने के लिए सहयोग करना। 

विज्ञप्ति में कहा गया कि इस वर्ष भी मानव के अखण्ड विकास के लिये गठित परमधर्मपीठीय परिषद आप्रवासी एवं शरणार्थी दिवस के कार्यक्रमों को तैयार करेगी तथा उनका आयोजन करायेगी। संसाधन विकसित किए जा रहे हैं और जल्द ही एक संचार अभियान शुरू होगा। सन्त पापा फ्राँसिस द्वारा चुने गये विषय पर मनन-चिन्तन के लिये प्रत्येक माह मल्टामीडिया माध्यम से सूचनाएँ प्रदान की जाती रहेंगी।

06 March 2020, 11:12