खोज

Vatican News
मुम्बई के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल ओसवाल्ड ग्रेसियस मुम्बई के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल ओसवाल्ड ग्रेसियस  

कार्डिनल ओस्वाल्ड द्वारा कोरोना के खिलाफ आत्म-कर्फ्यू का आग्रह

शुक्रवार को एक वीडियो संदेश में, मुम्बई के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल ओसवाल्ड ग्रेसियस ने खजूर रविवार की पूर्व संध्या तक सामूहिक पूजन धर्मविधियों को निलंबित कर दिया और रविवार 22 मार्च को भारत के राष्ट्रव्यापी कर्फ्यू का सम्मान करने के लिए सभी विश्वासियों से आग्रह किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

मुम्बई, शनिवार, 21 मार्च 2020 (वाटिकन न्यूज) :  कार्डिनल ओसवाल्ड ग्रेसियस ने भारत के प्रधान मंत्री माननीय नरेंद्र मोदी द्वारा रविवार को राष्ट्रव्यापी कर्फ्यू का पालन करने हेतु सभी ख्रीस्तियों को प्रोत्साहित किया।

शुक्रवार को धर्मप्रांतीय वेबसाइट पर अपने वीडियो संदेश में कार्डिनल ओस्वाल्ड ने कहा, "यह स्पष्ट है कि घातक कोरोना वायरस अभी भी फैल रहा है, सभी के लिए एक अत्यंत गंभीर खतरा है।"

 गुरुवार को राष्ट्र के नाम एक संबोधन में,  प्रधानमंत्री मोदी ने सभी देश वासियों से अपील की कि वे 22 मार्च को सुबह 7 से 9 बजे रात तक जनता-कर्फ्यू का पालन करें, ताकि राष्ट्र में लगभग 1.3 बिलियन की आबादी कोरोनो वायरस महामारी से लड़ने के लिए सामाजिक अलगाव का परीक्षण करने का एक हिस्सा बन सके।

भारत के स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को पुष्टि की कि देश में संक्रमणों की संख्या 200 के आंकड़े को पार कर 206 तक पहुंच गई है। अब तक चार लोगों की मौत हो चुकी है। कई राज्य सरकारों ने बीमारी के प्रसार को रोकने के लिए कड़े कदम उठाए हैं।

पश्चिमी राज्य महाराष्ट्र में भारत की वित्तीय, वाणिज्यिक और मनोरंजन की राजधानी मुंबई करीब 12 मिलियन से अधिक की आबादी के साथ देश का सबसे बड़ा शहर है।

सामूहिक मिस्सा समारोहों का निलंबन

कार्डिनल ग्रेसियस ने कहा, "हमारे प्रधानमंत्री के आह्वान पर और हमारे लोगों की सुरक्षा के हित में,  मैंने शुक्रवार 20 मार्च 2020 से लेकर 4 अप्रैल 2020 खजूर रविवार की पूर्व संध्या तक मुम्बई के महाधर्मप्रांत में सभी सामूहिक धर्मविधियों को निलंबित करने का फैसला किया है।"

कार्डिनल ग्रेसियस भारतीय काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन (सीबीसीआइ) के अध्यक्ष हैं, उन्होंने सुझाव दिया कि ख्रीस्तीय टीवी चैनलों जैसे, इडब्ल्यूटीएन,  गुडनेस टीवी और शालोम द्वारा टेलीकास्ट पवित्र मिस्सा समारोह का लाभ उठा सकते हैं, लेकिन कोई बाध्यता नहीं है।

हालांकि, कार्डिनल ग्रेसियस रविवार, 22 मार्च, सुबह 9 बजे महाधर्मप्रांत के ख्रीस्तियों के लिए पवित्र मिस्सा समारोह का अनुष्ठान करेंगे जिसे महाधर्मप्रांतीय यूट्यूब चैनल पर लाइव स्ट्रीम किया जाएगा। एक कठिन और तनावपूर्ण समय को देखते हुए कार्डिनल ने कहा, "हमें ईश्वर की ओर मुड़ने की आवश्यकता है। महाधर्मप्रांत के गिरजाघर हर दिन पवित्र संस्कार की भेंट करने और व्यक्तिगत प्रार्थना करने के लिए कुछ घंटों के लिए खुले रहेंगे।

अपने को दूसरों से दूर रखें

मुम्बई के महाधर्माध्यक्ष ने अपने विश्वासियों से "घर पर ही रहने और समाजीकरण से बचने" का आग्रह किया।

कार्डिनल ने कहा कि वे अपने घरों में रहते हुए भी फोन द्वारा अकेले रहने वाले पड़ोसियों, उपेक्षित और भुला दिए गए लोगों को खोज-खबर ले सकते हैं। उनकी सहायता हेतु अपनी आँखें खुली रखें। संपर्क रखने के लिए टेलीफोन और ईमेल का उपयोग करें।” कार्डिनल ने बीमारी को रोकने के लिए सरकार के प्रयासों की सराहना की और काथलिकों से सहयोग करने का आग्रह किया।

देखभाल करने वालों के प्रति आभार

स्वास्थ्य कर्मियों और देखभाल करने वालों की सराहना हेतु प्रधानमंत्री के सुझाव के जवाब में, कार्डिनल ग्रेसियस ने महाधर्मप्रांत में रविवार को शाम 5 बजे सभी गिरजाघरों की घंटियों को बजाने कहा है।

उन्होंने सभी से प्रार्थना करने का आग्रह किया ताकि देश सामान्य स्थिति में लौट आए।

कार्डिनल ग्रेसियस ने 18 मार्च को महाधर्मप्रांत के विश्वासियों के लिए वीडियो संदेश जारी किया था और 10 मार्च को देश की पूरी काथलिक कलीसिया के लिए कोरोना वायरस महामारी पर एक परिपत्र जारी किया था।

भारत के  सभी धर्मप्रांत

भारत में अन्य धर्मप्रांतों ने भी कोरोना वायरस के खिलाफ निवारक उपायों को अपनाया है और सामूहिक पूजन धर्मविधियों को निलंबित कर दिया है।

हजारीबाग धर्मप्रांत के धर्माध्यक्ष आनंद जोजो ने 20 मार्च को एक परिपत्र जारी कर 20 मार्च से 31 मार्च 2020 तक धर्मप्रांत की सभी पल्लियों में मिस्सा समारोह और सभी सामूहिक कार्यकलापों को निलंबित कर दिया है। उन्होंने भारत के प्रधान मंत्री माननीय नरेंद्र मोदी द्वारा रविवार को जनता-कर्फ्यू का पालन करने हेतु सभी ख्रीस्तियों को प्रोत्साहित किया।

21 March 2020, 14:35