खोज

Vatican News
VATICAN-POPE-MASS कुस्तुनतुनिया के प्राधिधर्माध्यक्ष बरथोलोमियो  (AFP or licensors)

पोप एवं इटली के राष्ट्रपति को प्राधिधर्माध्यक्ष की सहानुभूति

कुस्तुनतुनिया के प्राधिधर्माध्यक्ष बरथोलोमियो ने महामारी के पीड़ित लोगों के प्रति सहानुभूति प्रकट की है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलावार, 24 मार्च 20 (वीएन): कुस्तुनतुनिया के प्राधिधर्माध्यक्ष बरथोलोमियो ने महामारी के पीड़ित लोगों के प्रति सहानुभूति प्रकट की है। कुस्तुनतुनिया के प्राधिधर्माध्यक्ष बरथोलोमियो ने संत पापा फ्राँसिस एवं इटली के राष्ट्रपति सेरजो मत्तारेल्ला को संदेश भेजाकर, महामारी से पीड़ित लोगों के प्रति सहानुभूति प्रकट की है।

इटली कोरोना वायरस महामारी से सबसे अधिक प्रभावित है। शनिवार को 24 घंटे के अंदर 793 लोगों की मौत हो गयी थी, जो अब तक में एक दिन के अंदर मरने वालों की सबसे बड़ी संख्या है। कोरोना वायरस से इटली भर में अब तक 63,927 लोग संक्रमित हो चुके हैं और 6,077 लोगों की जानें जा चुकी हैं। रविवार से मृत्यु दर में थोड़ी गिरावट आयी हैं जिससे कुछ आशा जगी है।

त्याग की भावना                                                     

ऑर्थोडॉक्स कलीसिया के प्राधिधर्माध्यक्ष ने संदेश में लिखा है कि त्याग की भावना एवं साहस का जो परिचय इटली के स्वास्थ्यकर्मियों ने दिया है उसके लिए मैं भी अपनी ओर से उन सभी डॉक्टरों, नर्सों एवं रोगियों की मदद करनेवालों को अपनी कृतज्ञता व्यक्त करता हूँ। उन्होंने उन परिवारों के प्रति अपना सामीप्य व्यक्त किया है जिन्होंने वायरस से लड़ने में अपने प्रियजनों को खो दिया है।

प्राधिधर्माध्यक्ष ने आश्वासन दिया है कि पुण्य सप्ताह में वे मुक्तिदाता येसु ख्रीस्त से लगातार प्रार्थना करेंगे ताकि रोगियों को चंगाई मिल सके, जो मर गये हैं उन्हें अनन्त शांति मिले और उनके प्रियजनों को सांत्वना मिले।

ऑर्थोडॉक्स विश्वासियों को संदेश

प्राधिधर्माध्यक्ष बरथोलोमियो ने ऑर्थोडॉक्स ख्रीस्तीय भाई-बहनों को पहले ही एक संदेश भेजा था जिसमें उन्होंने उन्हें गिरजाघरों में मिस्सा एवं अन्य धर्मविधियों के अनुष्ठान को मार्च के अंत तक स्थगित रखने का आह्वान किया था। उन्होंने विश्वासियों से पुनः आग्रह किया कि वे अधिकारियों के दिशा-निर्देश का सम्मान करें और अपने घरों में रहें। 

ज्ञात हो कि ऑर्थोडॉक्स कलीसिया काथलिक कलीसिया के साथ एक नहीं है। यह दूसरा सबसे बड़ा ख्रीस्तीय समुदाय है जिसके सदस्यों की संख्या विश्वभर में करीब 260 मिलियन है।

24 March 2020, 16:49