खोज

Vatican News
इस्लामी चरमपंथि बोको हराम के लोग इस्लामी चरमपंथि बोको हराम के लोग  (AFP or licensors)

नाइजीरिया: एसीएन द्वारा अपहृत गुरुकुल छात्र के मौत की घोषणा

जरुरतमंद कलीसिया की सहायता समुदाय (एसीएन) ने नाइजीरिया के कडूना राज्य में 8 जनवरी को अपहृत चार गुरुकुल छात्रों में से अंतिम की मृत्यु की घोषणा की।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

कडूना, सोमवार 3 जनवरी 2020 (वाटिकन न्यूज) : "अपार दुःख के साथ हम आपको सूचित करते हैं कि अपहरणकर्ताओं के हाथों अंतिम गुरुकुल छात्र, माइकेल की हत्या कर दी गई।" यह खबर जरुरतमंद कलीसिया की सहायता समुदाय, इटली के एक ट्वीट में आई है। गुरुकुल छात्र माइकेल, कडूना राज्य के काकाऊ में गुड शेफर्ड मेजर सेमिनरी से तीन अन्य गुरुकुल छात्रों के साथ अपहरण कर लिया गया था।

अन्य तीन गुरुकुल छात्रों को पिछले दिनों छोड़ दिया गया था और उनकी चिकित्सा देखभाल की जा रही है। जरुरतमंद कलीसिया की सहायता समुदाय ने सूचित किया कि सेमिनरी के निदेशक ने गुरुकुल छात्र माइकेल के शरीर की पहचान की। नाइजीरिया के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के अध्यक्ष और बेनिन के महाधर्माध्यक्ष अगुस्टीन ऑकबेज ने शुक्रवार को ‘एसीएन’ से पूरे देश में अराजकता को देखते हुए व्याप्त असुरक्षा के बारे में शिकायत की थी।

महाधर्माध्यक्ष ऑकबेज ने बताया,“हालांकि नाइजीरिया में सभी सेमिनरियों में सुरक्षात्मक दीवारें हैं, पर"वे इस्लामी चरमपंथियों बोको हराम के हमलों को रोकने के लिए पर्याप्त नहीं हैं," 2009 के बाद से इस्लामी चरमपंथियों द्वारा की गई हिंसा में, हाल ही में संयुक्त राष्ट्र के आंकड़ों के अनुसार, 35,000 से अधिक लोगों की मौत हुई है।”

उन्होंने कहा कि सभी संरचनाओं में सुरक्षा कैमरे नहीं हैं। "यदि सभी सेमिनरियों, मठों और कॉनवेंटों के भवनों में सुरक्षा कैमरे होते, तो कम से कम, कुछ आतंकवादियों को पकड़ने के लिए यह उपयोगी होगा।" एसीएन का कहना है कि दुर्भाग्य से कलीसिया के संसाधन सीमित हैं और कुछ पल्लियों को रविवार के मिस्सा समारोह के दौरान पुलिस सुरक्षा के लिए उन्हें भुगतान करने के लिए भी मजबूर किया जाता है।

03 February 2020, 16:16