खोज

Vatican News
नये वेबसाइट का उद्घाटन करते हुए कार्डिनल तागले नये वेबसाइट का उद्घाटन करते हुए कार्डिनल तागले 

मनिला महाधर्मप्रांत ने ‘दोमिनुस एस्ट’ वेबसाइट लॉन्च किया

मनिला के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल तागले ने असाधारण मिशनरी महीने में नये वेबसाइट के लॉन्च कार्यक्रम में भाग लिया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

मनिला, बुधवार 23 अक्टूबर 2019 (एशिया न्यूज) :  मनिला महाधर्मप्रांत के नवीन सुसमाचार प्रचार कार्यालय (ओपीएनई) की नवीनतम पहल ‘दोमिनुस एस्ट’ है, यह कहानियों और साक्षियों को साझा करने की एक नई वेबसाइट है और मिशनरी शिष्यों के जीवन का नेतृत्व करने के लिए ख्रीस्तियों को प्रोत्साहित करती है।

पिछले शुक्रवार, मनिला के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल लुईस अंतोनियो तागले ने पासे शहर के क्यूनेटा एस्ट्रोडोम में असाधारण मिशनरी महीने के उत्सव के भाग के रूप में नये वेबसाइट का उद्घाटन किया।

‘दोमिनुस एस्ट’ का अर्थ है "ये प्रभु हैं!" (योहन 21:7)। यह कार्डिनल तागले का धर्माध्यक्षीय आदर्श वाक्य भी है। वेबसाइट ‘ओपीएनइ’ के प्रमुख फादर जेसोन एच. लागुएर्टा की देखरेख में कलीसियाओं की विभिन्न कहानियों, संतों, पुरोहितों, धर्मबहनों, संगठनों और "विश्वास के विभिन्न मुद्दों" को प्रस्तुत करेगी।

वेबसाइट में लिखा है, “हम एक काथलिक समुदाय हैं जो आपके साथ मसीह के प्रति हमारे प्रेम और उन सभी चीजों को साझा करने के लिए प्रेरित हैं जिनके द्वारा हम प्रभु के प्रति अपने प्रेम में बढ़ रहे हैं। नवीन सुसमाचार प्रचार के आह्वान का जवाब देने के लिए, हमें हमारे संरक्षक, संत पापा जॉन पॉल द्वितीय के उदाहरण द्वारा निर्देशित किया गया है।

ज्यादा से ज्यादा उपयोगकर्ताओं तक पहुंचने और संचार के अधिकांश नए साधनों का प्रयोग करते हुए, मनिला महाधर्मप्रांत ने दोमिनुस एस्ट को अपने मुख्य सामाजिक मंच (फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब) पर लॉन्च किया है।

नौ साल से मनिला में रह रहे विदेशों में मिशन के लिए बने परमधर्मपीठीय समुदाय (पीआइएमइ) के फादर सिमोन चेल्ली ने एशिया न्यूज से कहा कि इस तरह के पहल सुसमाचार की घोषणा के लिए बहुत ही उपयोगी है। “जाहिर है, अकेले यह पर्याप्त नहीं है। मानव संपर्क आवश्यक है, एक रिश्ता जो वास्तविक मुलाकात से आता है। यह हमेशा अंतिम लक्ष्य होता है। फिर भी, फिलीपींस के अधिकांश हिस्सों में, सामाजिक संचार के सभी नए रूप व्यापक हैं।”

फिलीपींस दुनिया का पांचवा सबसे बड़ा ख्रीस्तीय देश है और दक्षिण पूर्व एशिया में पहला है। फादर चेल्ली के लिए, सुसमाचार प्रचार के प्रयास को जारी रखना महत्वपूर्ण है। "हालांकि, लगभग 80 प्रतिशत आबादी काथलिक होने का दावा करती है और कलीसिया 2021 में फिलीपींस में ख्रीस्तीय धर्म के 500 वर्षों का उत्सव मनाने की तैयारी कर रही है, सुसमाचार को अभी भी स्थानीय संस्कृति में गहराई से प्रवेश करना है।

23 October 2019, 16:31