खोज

Vatican News
लूर्द का मरियम तीर्थ लूर्द का मरियम तीर्थ 

रोम धर्मप्रांत द्वारा लूर्द की तीर्थयात्रा

रोम विखारियेट ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि 26 से 29 अगस्त को धर्मप्रांतीय स्तर पर लूर्द में एक तीर्थयात्रा का आयोजन किया गया है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

रोम, बृहस्पतिवार, 22 अगस्त 19 (रेई)˸ विश्वासियों का नेतृत्व कार्डिनल विकर अंजेलो दी दोनातिस करेंगे। तीर्थयात्रा का आयोजन उनीतालसी के साथ ओपेरा रोमाना पेलेग्रीनाजी द्वारा किया गया है। तीर्थयात्रा में सहायक धर्माध्यक्ष पाओलो रिकियारदी, जॉनरिको रूत्सा, ग्वेरिनो दी तोरा, जॉनपियेरो पालमिएरी एवं गुरूकुल छात्र भाग लेंगे।  

तीर्थयात्रा की विषयवस्तु होगी, "धन्य हो तुम, जो दरिद्र हो! स्वर्गराज्य तुम लोगों का है।" (लूक. 6, 20) तथा "मैं तुम्हें इस दुनिया में खुशी देने की प्रतीज्ञा नहीं करती बल्कि दूसरी दुनिया में।" विषयवस्तु संत लूकस रचित सुसमाचार से एवं संत बेर्नादेत को माता मरियम द्वारा कहे गये शब्दों से लिया गया है।

चार दिवसीय तीर्थयात्रा के दौरान ग्रोटो के पास ख्रीस्तयाग, क्रूस का रास्ता, मोमबत्ती जुलूस, पापस्वीकार एवं कार्डिनल दी दोनातिस का प्रवचन होगा।

मोनसिन्योर कौवारिनी ने कहा, "रोम धर्मप्रांत द्वारा अगस्त माह के अंत में लूर्द की तीर्थयात्रा दशकों पुरानी है। पहले हम ट्रेन से यात्रा करते थे, आज हवाई जहाज से यात्रा की जाती है किन्तु विश्वासियों का उत्साह बरकरार है। यह विभिन्न धर्मप्रांतों, पल्लियों एवं धर्माध्यक्षों को एक साथ आने का एक सुन्दर अवसर है।"

इस साल की तीर्थयात्रा में रोमन मेजर सेमिनरी के गुरूकुल छात्रों का एक दल भी भाग लेगा, अतः उनके साथ भी मुलाकात करने और आदान-प्रदान करने का अवसर प्राप्त होगा।

कार्डिनल विकर के लिए लूर्द की तीर्थयात्रा एक ऐसा अवसर है जब रोम धर्मप्रांत को कुँवारी मरियम के हाथों सौंप दिया जाता है। उन्होंने कहा कि तीर्थयात्रा संत पापा फ्राँसिस के आह्वान का उत्तम प्रत्युत्तर है जिन्होंने लूर्द के तीर्थस्थल के आध्यात्मिक विकास हेतु अपने एक धर्माध्यक्ष को प्रदान किया है।    

22 August 2019, 16:49