खोज

Vatican News
संत सेबास्टियन गिरजाघर संत सेबास्टियन गिरजाघर  

श्रीलंका के संत सेबास्टियन गिरजाघर को पुनः प्रतिष्ठापित किया गया

श्रीलंका के संत सेबास्टियन काथलिक गिरजाघर, कैटुवापिटिया, नेगोम्बो शहर में, 21 जुलाई को आत्मघाती बम हमलों की श्रृंखला के 3 महीने बाद 21 अप्रैल को फिर से प्रतिष्ठापित किया गया। बम हमले में दो अन्य गिरजाघऱ और 4 होटल भी शामिल थे।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

कोलंबो, बुधवार 24 जुलाई 2019 (वाटिकन न्यूज) :  कोलंबो के उत्तर में स्थित, नेगोम्बो शहर में संत सेबास्टियन गिरजाघर को रविवार को पुन: प्रतिष्ठापित किया गया। तीन महीने पहले ईस्टर रविवार को आत्मघाती बम विस्फोट में बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया था। रविवार को एक स्मारक पत्थर का अनावरण किया, जिसमें 21 लोगों का नाम खुदा हुआ है, जो 21 अप्रैल के हमले में मारे गए थे।

एक समूह द्वारा तीन गिरजाघरों और चार होटलों पर समन्वित हमलों में तथाकथित इस्लामिक स्टेट (आईएस) के साथ संबंध होने की बात कही गई, जिसमें 259 लोग मारे गए और कुछ 500 घायल हो गए थे।

तीन गिरजाघरों में दो काथलिक गिरजाघर थे, कोलंबो का संत अंतोनी श्राइन गिरजाघर और नेगोम्बो में संत सेबास्टियन गिरजाघर तथा पूर्वी तटीय शहर बैटलिकलोआ के इवांजेलिकल सियोन गिरजाघर।

अधिकांश दुर्घटना संत सेबास्टियन गिरजाघऱ में हुई।

कोलम्बो के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल माल्कम रंजीत ने पीड़ितों के परिवारों सहित बड़ी संख्या में लोगों की उपस्थिति में  गिरजाघर को फिर से प्रतिष्ठापित किया और पवित्र मिस्सा समारोह की अध्यक्षता की।

श्रीलंकाई नौसेना ने गिरजाघर के पुनर्निर्माण में मदद की।

कार्डिनल रंजीत ने विस्फोटों की चल रही जांच पर सवाल उठाया और कहा कि उन्हें डर है कि जांच "कालीन के नीचे धकेल दी जाएगी"।

71 साल के कार्डिनल ने ईस्टर रविवार बम विस्फोटों के लिए सरकार की आलोचना की है जिसे वे अब भी बनाए रखते हैं। इस दुर्घटना को रोका जा सकता था। "उन्हें भारतीय उच्चायोग द्वारा तीन बार से अधिक हमलों के बारे में सूचित किया गया था।"

कार्डिनल ने कहा, "मौजूदा नेता विफल हो गए हैं। उनके पास कोई दम नहीं है। उन्हें सरकार छोड़नी चाहिए और घर में बैठना चाहिए तथा किसी और को देश पर शासन करने की अनुमति देनी चाहिए।"

हमलों के बाद, काथलिक गिरजाघर को स्थानीय और दुनिया भर से लगभग 1.77 मिलियन यूरो दान प्राप्त हुए हैं, जिसका उपयोग अनाथ बच्चों को सहारा देने, प्रभावित बच्चों को शिक्षित करने, पीड़ितों के परिवारों की मदद करने और हमले से प्रभावित लोगों के शारीरिक और मानसिक पुनर्वास के लिए किया जाएगा। फंड का एक हिस्सा एवांजेलिकल सियोन गिरजाघर के पुनर्निर्माण में भी दिया जाएगा।

24 July 2019, 16:35