Cerca

Vatican News
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर  (AFP or licensors)

"लौदातो सी" की भावना में म्यांमार की कलीसिया द्वारा वृक्षारोपण

यांगून के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल चार्ल्स बो, 6 जुलाई को म्यांमार के वाणिज्यिक शहर के बाहरी इलाके में एक सरकारी आरक्षित वन क्षेत्र में पेड़ लगाने के लिए काथलिक सामाजिक कार्यकर्ता और युवा लोगों के साथ शामिल हुए।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

यांगून, बुधवार 10 जुलाई, 2019 (वाटिकन न्यूज) : संत पापा फ्राँसिस के प्रेरितिक उद्बोधन, "लौदातो सी" की भावना में पर्यावरण की रक्षा की जिम्मेदारी के तहत म्यांमार में पिछले सप्ताह 200 से अधिक काथलिक सामाजिक कार्यकर्ता और युवा लोग पेड़ लगाने वाले कार्यक्रम में शामिल हुए।

 यांगून के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल चार्ल्स बो, 6 जुलाई को म्यांमार के वाणिज्यिक शहर के बाहरी इलाके में एक सरकारी आरक्षित वन क्षेत्र में पेड़ लगाने के लिए काथलिक सामाजिक कार्यकर्ता और युवा लोगों के साथ शामिल हुए। कार्डिनल और यंगून के मुख्यमंत्री फ्यो मिन थीन, 200 से अधिक प्रतिभागियों के साथ शामिल हुए और टिक्की नगरी में लगभग 2,000 पेड़ लगाए।

सामान्य घर की देखभाल

काथलिक कलीसिया की सामाजिक शाखा कारितास म्यांमार 18 जून से एक पेड़-रोपण अभियान में सक्रिय रूप से शामिल हो गई है, जिसने संत पापा फ्राँसिस के प्रेरितिक उद्बोधन ‘लौदातो सी’ की चौथी वर्षगांठ पर "हमारे सामान्य घर की देखभाल" के तहत कार्यक्रम जारी किया है।

अन्य मुद्दों के अलावा, प्रेरितिक उद्बोधन  जलवायु परिवर्तन पर जिम्मेदार और शीघ्र कार्रवाई के लिए पूरे विश्व का आह्वान करता है। 2018 के बाद से, कारितास म्यांमार नेटवर्क देश भर में अपने 16 धर्मप्रांतो में अभियान को व्यवस्थित करने के लिए काम कर रहा है।

कारितास म्यांमार ने अपने पांच साल (2018-22) के पेड़ लगाने के कार्यक्रम को नयापीटा के सरकारी अधिकारियों के सामने प्रस्तुत किया है और वन विभाग ने हजारों नर्सरी पौधे प्रदान किए हैं। उत्तरी शान राज्य में कारितास लैशियो के कार्यक्रम प्रबंधक एडी ने कहा कि उन्होंने जुलाई के दूसरे सप्ताह में कलीसिया की स्वामित्व वाली भूमि पर 1,800 पेड़ लगाने की योजना बनाई है।

10 July 2019, 16:39