खोज

Vatican News
फादर जेरार्ड फ्रांसिस्को टिमोनेर फादर जेरार्ड फ्रांसिस्को टिमोनेर  

दोमिनिकन धर्मसंघ के पहले एशियाई प्रमुख एक फिलिपिनो निर्वाचित

वियतनाम के ‘बिएन हो’ में चल रहे दोमिनिकन धर्मसंघ की आमसभा के दौरान शनिवार को फिलीपीन के पुरोहित, फादर जेरार्ड फ्रांसिस्को टिमोनेर को मास्टर ऑफ द प्रीचर्स या दोमिनिकन धर्मसंघ का प्रमुख चुना गया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

फिलीपींस, सोमवार 15 जुलाई 2019 (वाटिकन न्यूज) :  दुनिया भर में दोमिनिकन धर्मसंघ के इतिहास में पहली बार एक एशियाई को प्रधान के रूप में चुना गया है।

वियतनाम के ‘बिएन हो’ में चल रहे दोमिनिकन धर्मसंघ की आमसभा के दौरान शनिवार को फिलीपींस के पुरोहित, फादर जेरार्ड फ्रांसिस्को टिमोनेर को मास्टर ऑफ द प्रीचर्स या दोमिनिकन धर्मसंघ का प्रमुख चुना गया।

गैर-ईसाई देश वियतनाम में दोमिनिकन धर्मसंघ की पहली आम सभा है।

51 वर्षीय फिलिपिनो पुरोहित, 1215 में धर्मसंघ की स्थापना करने वाले स्पेनिश पुरोहित, गुज़मैन के संत दोमिनिक के 87वें उत्तराधिकारी हैं। वे नौ साल तक इस पद पर रहेंगे। इससे पहले फादर टिमोनेर एशिया प्रशांत के लिए फिलिपिनो दोमिनिकन धर्मसंघ के प्रमुख, फ्राँस के फादर ब्रूनो कैडर के सहायक थे।

संक्षिप्त जीवनी

फादर टिमोनेर का जन्म 26 जनवरी 1968 को कैमराइन्स नॉर्टे प्रांत के डाइट में हुआ था।

फिलीपीन दोमिनिकन सेंटर ऑफ इंस्टीट्यूशनल स्टडीज से दर्शनशास्त्र और संत थोमस विश्वविद्यालय (यूएसटी) से ईशशास्त्र की पढ़ाई खत्म करने के बाद, 1995 में उनका पुरोहिताभेषेक हुआ।

2004 में, उन्होंने नीदरलैंड में निज़ामेगन के काथलिक विश्वविद्यालय में पवित्र धर्मशास्त्र में स्नात्कोतर की डिग्री हासिल की।

फादर टिमोनेर ने यूएसटी सेंट्रल सेमिनरी में रेक्टर के रूप में 2007 से 2012 तक काम किया।

2014 में संत पापा फ्रांसिस ने फादर टिमोनेर को अंतरराष्ट्रीय धर्मशास्त्रीय आयोग का सदस्य नियुक्त किया। वाटिकन की 30 सदस्यीय आयोग धार्मिक सैद्धांतिक मामलों पर उठे प्रश्नों की जांच करती है।

15 July 2019, 13:38