खोज

Vatican News
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर  (ANSA)

रोम में पल्ली दिवस समारोह

रोम के विया फ्लमीनिया स्थित हमारे प्रभु येसु ख्रीस्त के पवित्रतम लोहू को समर्पित गिरजाघर में 2 जून को पल्ली दिवस बड़े धूमधाम से मनाया गया।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

रोम, मंगलवार, 4 जून 2019 (वाटिकन न्यूज)˸ पल्ली दिवस के अवसर पर कई महत्वपूर्ण कार्यक्रम आयोजित किये गये थे। इन कार्यक्रमों में पल्लीवासियों ने पूरे जोश के साथ भाग लिया।

यूखरिस्त के चमत्कारों की प्रदर्शनी

इस अवसर पर पल्ली के स्काउट की ओर से पवित्र यूखरिस्त के चमत्कारों की प्रदर्शनी लगायी गयी थी जो सभी विश्वासियों के लिए, खासकर, युवाओं के लिए विश्वास में सुदृढ़ होने हेतु एक बड़ी प्रेरणा रही। यह प्रदर्शनी इसलिए अधिक महत्वपूर्ण थी क्योंकि इसमें विभिन्न देशों में घटित पवित्र यूखरिस्त के चमत्कारों को दर्शाया गया था, जिसका संग्रह प्रभु सेवक कारलो अकुतिस ने किया था। उनकी मृत्यु सिर्फ 15 साल की उम्र में 2006 में हो गयी। कहा जाता है कि उन्हें पवित्र यूखरिस्त के प्रति बड़ी भक्ति थी जिसके कारण मात्र 11 साल की उम्र में ही पवित्र यूखरिस्त के प्रति अपनी भक्ति को प्रकट करने के लिए उन्होंने पवित्र यूखरिस्त के चमत्कार हुए स्थलों का दौरा किया तथा उन घटनाओं का संग्रह तैयार किया। संग्रह किये गये चमत्कारों की संख्या कुल 142 है। उनका कहना था कि "पवित्र यूखरिस्त ही स्वर्ग जाने के लिए मेरे जीवन का सीधा मार्ग है।" पवित्र यूखरिस्त की प्रदर्शनी का उद्घाटन 26 मई को किया गया था।

नाटक की प्रस्तुति

पल्ली दिवस के उपलक्ष्य में दूसरा महत्वपूर्ण कार्यक्रम था पल्ली के युवाओं द्वारा नाटक की प्रस्तुति। 26 मई की संध्या युवाओं ने एक नाटक का मंचन किया जिसका शीर्षक था "डेविड"। इताली भाषा में प्रस्तुत इस नाटक में आधुनिक दुनिया के परिपेक्ष में सामाजिक एवं आध्यात्मिक जीवन की चुनौतियों एवं उनके समाधान पर प्रकाश डाला गया था।

30 मई को धर्मशिक्षा प्राप्त करने वाले बच्चों के लिए कार्यक्रम आयोजित किया गया था। उसके बाद शनिवार को ओरातोरियो के बच्चों के लिए भी पर्व का आयोजन किया गया था जिसमें भारी संख्या में भाग लेकर बच्चों ने पल्ली दिवस का आनन्द उठाया।

समारोही ख्रीस्तयाग एवं जुलूस

2 जून के पहले दिन गिरजाघर और उसके परिसर की सुन्दर सजावट की गयी। पल्ली दिवस का समारोही ख्रीस्तयाग येसु मरिया धर्मबहनों के प्रांगण में अर्पित किया गया। ख्रीस्तयाग के मुख्य अनुष्ठाता थे पल्ली पुरोहित फादर डोन जॉन मतेओ, उनके साथ चार अन्य पुरोहितों ने ख्रीस्तयाग अर्पित किया। ख्रीस्तयाग में येसु मरिया एवं संत अन्ना की पुत्रियों के धर्मसंघ राँची की धर्मबहनों के साथ भारी संख्या में पल्ली के विश्वासी सहभागी हुए। मुख्य अनुष्ठाता ने प्रवचन में येसु ख्रीस्त के महान प्रेम बलिदान पर प्रकाश डालते हुए विश्वासियों को प्रेरित कर कहा "अब हमें एक महान् पुरोहित प्राप्त हैं, जो ईश्वर के घराने पर नियुक्त किये गये हैं। इसलिए हम अपने हृदय को पाप-दोष से मुक्त कर और अपने शरीर को स्वच्छ जल से धोकर निष्कपट हृदय से तथा परिपूर्ण विश्वास के साथ ईश्वर के पास चलें।"

प्रीतिभोज

ख्रीस्तयाग के अंत में पवित्र यूखरिस्त का जुलूस किया गया। विश्वासियों ने बड़ी भक्ति के साथ प्रार्थना करते एवं भजन गाते हुए जुलूस में भाग लेकर पवित्र यूखरिस्त को विशेष भक्ति अर्पित की। जुलूस का समापन पल्ली गिरजाघर में हुआ जहाँ पवित्र संस्कार की आराधना एवं आशीष की गयी।

पल्ली दिवस की संध्या पल्ली के सभी विश्वासियों ने एक साथ भोजन का आनन्द लिया, एक-दूसरे को खुशी बांटी और पल्ली की एकता एवं प्रेम का परिचय दिया।  

04 June 2019, 17:24