खोज

Vatican News
महागिरजाघर में आतंकी हमले महागिरजाघर में आतंकी हमले   (ANSA)

फिलीपींस धर्माध्यक्षों द्वारा महागिरजाघर में आतंकी हमले की निंदा

फिलीपींस के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के अध्यक्ष ने एक बयान जारी कर जोलो में माउंट कार्मेल की माता मरियम महागिरजाघर में हुए बमबारी की निंदा की।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

मनिला, मंगलवार 29 जनवरी 2019 (वाटिकन न्यूज) : फिलीपींस के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के अध्यक्ष महाधर्माध्यक्ष रोमुलो वाल्लेस ने सभी धर्माध्यक्षों की ओर से महागिरजाघर में आतंकी हमले के शिकार लोगों के परिजनों को हार्दिक सांत्वना दी। यह हमला रविवार को जोलो में माउंट कार्मेल की माता मरियम महागिरजाघर में पवित्र मिस्सा समारोह के दौरान हुआ।  दो बम विस्फोट में 20 लोगों के मारे गये और दर्जनों लोगों के घायल हुए।

महाधर्माध्यक्ष रोमुलो वाल्लेस ने लिखा, "हम घायल हुए लोगों के प्रति अपनी सहानुभूति भी व्यक्त करते हैं," साथ ही जोलो अपोस्तोलिक विकारिएट की पल्ली समुदाय और महागिरजाघर के अंदर जितने भी लोगों इस दुखद धटना को झेला, उन सभी के प्रति हम अपना सामीप्य प्रकट करते हैं।

आतंकवादी कृत्यों की निंदा

फिलीपींस के धर्माध्यक्षों ने भी "आतंकवाद के इस कृत्य की निंदा की हैं जो बंगसमोरो ऑर्गेनिक लॉ(बीओएल) के कुछ दिनों बाद ही हुआ है।" बंगसमोरो ऑर्गेनिक लॉ मुस्लिम मिंडानाओ में बंगसमोरो स्वायत्त क्षेत्र (बाराम) के निर्माण का प्रावधान करता है। महाधर्माध्यक्ष वाल्लेस ने कहा,"जैसा कि हम शांति प्रक्रिया में (बाराम)  के निर्माण के लिए एक नया चरण शुरू करते हैं, हम अपने ख्रीस्तीय भाइयों, सभी शांतिप्रिय मुस्लिमों और जनजातीय लोगों को हिंसात्मक अतिवाद के समर्थन में हाथ मिलाने के लिए कहते हैं।"

महाधर्माध्यक्ष वाल्लेस ने उम्मीद के साथ अपने बयान को समाप्त करते हुए कहा, "हमारे सभी धर्म हमें मिंडानाओ के लोगों के लिए एक उज्जवल भविष्य की तलाश में हमारा मार्गदर्शन करे।"

मनपरिवर्तन के लिए प्रार्थना

रविवार को संत पापा फ्राँसिस ने पनामा में विश्व युवा दिवस के अंतिम दिन “कासा होगार एल बोस समारितानो”  एड्स रोगी आश्रम में देव दूत प्रार्थना के बाद जोलो के महागिरजाघर में हुए बमबारी की निंदा की तथा पिता ईश्वर से हत्या के शिकार और घायलों के लिए प्रार्थना की। संत पापा ने कहा,“प्रभु इन बम धमाकों को अंजाम देने वालों का मनपरिवर्तन करें और उस क्षेत्र के निवासियों को एक शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व प्रदान करें।"

29 January 2019, 16:30