खोज

Vatican News
जर्मनी में एकत्रित धर्माध्यक्ष जर्मनी में एकत्रित धर्माध्यक्ष 

अमेरिका के धर्माध्यक्षों की आध्यात्मिक साधना

संत पापा ने निर्देश पर बुधवार को अमेरिका ने धर्माध्यक्षों ने शिकागो के मुंदेलेइन गुरूकुल में सात दिवसीय आध्यात्मिक साधना की शुरूआत की।

दिलीप संजय एक्का-वाटिकन सिटी

शिकागो, गुरूवार, 03 जनवरी 2019 (रेई) अमेरिका के धर्माध्यक्षों ने बुधवार 02 जनवरी को वाटिकन के उपदेशक, कप्पुचीन पुरोहित रानियेरो कांतालामेस्सा की अगुवाई में अपनी सात दिवसीय आध्यात्मिक साधना की शुरुआत की। इस आध्यात्मिक साधना की विषयवस्तु है,“उन्हें बाहर शिष्यों को नियुक्त किया जिससे वे सुसमाचार प्रचार हेतु भेजे जायें।” विगत 21 दिसम्बर को अमेरिकी धर्माध्यक्षीय सम्मेलन द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार बुधवार को शुरू होने इस आध्यात्मिक यात्रा की घोषणा की थी जिसका निर्देशन संत पापा फ्रासिस की ओर से यु.एस. सी.सी. बी. के सभापति कार्डिनल दानियल दीनार्डो को उनका अक्टूबर के महीने में रोम तीर्थ के दौरान किया गया था।

संत पापा के प्रति कृतज्ञता

कार्डिलन ने इस आध्यात्मिक साधना की घोषणा अक्टूबर के महीने में ही संत पापा से अपनी मुलकात के उपरांत की थी जहाँ उन्होंने उनके प्रति अपने हृदय के उद्गार प्रकट किया क्योंकि आध्यात्मिक साधना की अगुवाई हेतु पुरोहित कांतालामेस्सा को वाटिकन की ओर से निर्धारित किया था। अपने दिसम्बर से वक्तव्य में कार्डिनल ने संत पापा के प्रति पुनः कृतज्ञता के भाव जाहिर किये जहाँ उन्होंने अमेरिकी धर्माध्यक्षों को इस बात के लिए निमंत्रण दिया कि अपने लिए एक समय निधारित करें जहाँ वे ईश्वर की वाणी को सुनते हुए वर्तमान परिवेश के गहन मुद्दों का उत्तर दें सकें।

आध्यात्मिक साधना के उद्देश्य

सी.एन.सी. समाचार ने पुरोहित कांतालामेस्सा की बातों को रखते हुए कहा कि संत पापा फ्रांसिस ने उन्हें दिसम्बर के महीने में अनुरोध किया था कि वे आध्यात्मिक साधना में अमेरिक के धर्माध्यक्षों की अगुवाई करें। उन्होंने कहा कि उन दिनों में वे धर्माध्यक्षों को अपने दैनिक जीवन के उत्तरदायित्व से अलग रखते हुए एक शांतिमय प्रार्थना के महौल में उन्हें अपने व्यक्तिगत जीवन पर चिंतन करते हुए ईश्वर से मुलाकात करने में मदद करेंगे। उन्होंने कहा कि यह उन्हें पवित्र आत्मा की शक्ति और ज्योति से आलोकित करेगा और वे अमेरिका की कलीसिया को इस संकट के समय सही दिशा निर्देश देने में सक्षम हो पायेंगे।

प्रार्थना हेतु आग्रह

कार्डिनल डीनार्डो ने धर्माध्यक्षों के लिए प्रार्थना का करने का निवेदन किया जिससे वे अपने को पवित्र आत्मा के विवेक और निर्देशों के अनुसार संचालित कर सकें। उन्होंने यौन दुराचार से प्रभावित लोगों के लिए भी प्रार्थना की अपील की जो आज भी जीवित हैं जिससे कि वे उनकी मदद करते हुए समाज और कलीसिया से इस भंयकर बुराई को जड़ से उखाड़ फेंकने में सक्षम हो सकें।

कार्यक्रम की रुपरेखा

सात दिवसीय कार्यक्रम की रुपरेखा के बारे में आध्यात्मिक साधना के संचालन के कहा कि धर्माध्यक्षों के लिए पूरा सप्ताह शांति में मनन चिंतन करने का समय होगा, जहाँ वे प्रतिदिन यूख्रारिस्त में भाग लेंगे, व्यक्तिगत प्रार्थना के अलावे सामूहिक रूप से पवित्र यूखारिस्त की आराधना और अपना पापस्वीकार करेंगे।

मूंदेलेइन गुरूकुल

आध्यात्मिक साधना का स्थल शिकागो का संत मेरी का झील मूनदेलेइन गुरूकुल है जो उत्तरी शिकागो में स्थित है। यह अमेरीका का सबसे बड़ा गुरूकुल है जहाँ वर्तमान में अमेरिका के 40 धर्मप्रांतों और विभिन्न देशों से 200 विद्यार्थी विद्यार्जन कर रहें हैं।

03 January 2019, 16:24