बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
चिरको माक्सिमो में एकत्रित इटली के युवा चिरको माक्सिमो में एकत्रित इटली के युवा  (ANSA)

इटली के युवाओं की प्रार्थना सभा में संत पापा फाँसिस

इटली के 226 धर्मप्रांतों से 70,000 युवक युवत्तियाँ दो दिवसीय युवा सम्मेलन में भाग लेने हेतु रोम आये हुए हैं। चिरको माक्सिमो में युवाओं के प्रतिनिधि तीन युवा संत पापा फ्राँसिस से प्रश्न पूछेंगे। वे जागरण प्रार्थना में भाग लेंगे और रविवार को संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्रांगण में य़ूखारीस्तीय समारोह में सहभागी होंगे।

माग्रेट सुनीता मिंज - वाटिकन सिटी

रोम, शनिवार 11 अगस्त 2018 (रेई) : रोम में इटली के धर्माध्यक्षीय सम्मेलन द्वारा आयोजित दो दिवसीय युवा सम्मेलन में भाग लेने हेतु इटली के 226 धर्मप्रांतों से 70,000 युवक युवत्तियाँ रोम पहुचे हैं। जिनमें 195 धर्मप्रांतों से 40,000 युवाओं ने 3 अगस्त को पैदल तीर्थयात्रा की शुरुआत किया और सप्ताह भर की यात्रा के बाद रोम पहुचे हैं। उनके साथ 120 धर्माध्यक्ष भी रोम आये हुए हैं।

पैदल तीर्थ यात्रा के प्रयोजन कर्ताओं का उद्देश्य था, यात्रा के दौरान युवा मौन रहते हुए अपने जीवन के बारे सोचने विचारने का अवसर देना, ईश्वर के वचनों पर मनन करना और उन्हें आपस में साझा करना। तीर्थ यात्रा का विषय था "हजारों सड़कों के पार।"

11 अगस्त-“हम यहाँ हैं”

"हजारों सड़कों के पार" बड़ी उम्मीदों और उत्साह के साथ युवक रोम पहुँच गये हैं और वे कह सकते हैं “सियामो क्वी” यानी “हम यहाँ हैं।” युवाओं का पहला लक्ष्य चिरको माक्सिमो है। शनिवार को वे विशेष रूप से संत पापा फ्राँसिस के साथ मिलकर बातें करेंगे और प्रार्थना जागरण में भाग लेंगे।

संत पापा फ्राँसिस इटली के युवाओं की प्रार्थना में भाग लेने हेतु शाम साढ़े छः बजे चिरको माक्सिमो पहुँचेंगे। संत पापा का स्वागत करने के बाद युवाओं के प्रतिनिधि तीन युवा संत पापा फ्राँसिस से प्रश्न पूछेंगे और संत पापा उनका जवाब देंगे। उसके बाद जागरण प्रार्थना शुरु होगी। जागरण प्रार्थना में सुसमाचार से पाठ पढ़े जाएंगे। मनन चिंतन के लिए विशेष समय दिया जाएगा। बीच में धार्मिक गीत, नृत्य और इटली के जाने माने गायकों का गायन भी रहेगा। प्रार्थना के दौरान संत पापा अपने प्रवचन में युवाओं को संदेश देंगे।

रात्रि जागरण प्रार्थना

इटली के मार्खे क्षेत्र के युवा संत दमियानो के क्रूस और लोरेटो की माता मरियम की प्रतिमा लाये हैं। शनिवार रात को इन प्रतिमाओं के सामने मार्खे के युवा रात्रि जागरण के लिए विशेष प्रार्थना की अगुवाई करेंगे। अगले वर्ष विश्व युवा दिवस के लिए इटली के युवाओं का प्रतिनिधि मंडल इन्हें लेकर पानामा जायेंगे। रोम के संत पेत्रुस महागिरजाघर और अन्य 14 गिरजाघर युवाओं के प्रार्थना, आराधना और पाप स्वीकार संस्कार के लिए खुले रहेंगे।

समारोही मिस्सा

रविवार को संत पेत्रुस महागिरजाघऱ के प्रांगण में युवाओं के लिए युखारीस्तीय समारोह का अनुष्ठान इटली धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के अध्यक्ष कार्डिनल ग्वालतियेरो बस्सेती करेंगे। मिस्सा के अंत में संत पापा फ्राँसिस अगले वर्ष पानामा में होने वाले विश्व युवा दिवस के लिए संत दमियानो के क्रूस और लोरेटो की माता मरियम की प्रतिमा पर आशीष देकर युवाओं को सौंपते हुए प्रेरितिक कार्यों को पूरा करने का जनादेश देंगे।

11 August 2018, 16:49