Cerca

Vatican News
मेजोगोरिया मेजोगोरिया 

संत पापा के विशेष दूत द्वारा मिशन की शुरुआत

मेजोगोरिया में संत जेम्स पल्ली के लिए विशेष दूत के रूप में संत पापा फ्राँसिस द्वारा नियुक्त महाधर्माध्यक्ष हेनरिक होसर ने रविवार 22 जुलाई को अपना कार्य शुरू किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

मेजोगोरिया, सोमवार 23 जुलाई 2018 (रेई) : पोलैंड में वॉरसॉ-प्राग के सेवानिवृत्त महाधर्माध्यक्ष हेनरिक होसर ने, रविवार को क्रोएशिया के मेजोगोरिया में संत जेम्स पल्ली हेतु विशेष दूत स्वरूप अपनी सेवा शुरू की। उन्होंने रविवार शाम को सभी विश्वासियों और तीर्थयात्रियों की मौजूदगी में पवित्र यूखारिस्त समारोह के साथ अपने सेवा कार्य की शुरु की।

संत पापा द्वारा प्रथम जनादेश

संत पापा फ्राँसिस द्वारा अपने विशेष दूत के रूप में महाधर्माध्यक्ष होसर को पहली बार 11 फरवरी 2017 को संत जेम्स पल्ली में नियुक्त किया गया था। उस समय वाटिकन प्रेस कार्यालय ने कहा कि वारसॉ-प्राग के तत्कालिक महाधर्माध्यक्ष को एक मिशन सौंपा गया  है जिससे वे वहाँ के प्रेरितिक कार्यों और परिस्थितियों का गहराई से अध्ययन करें। विशेषकर तीर्थयात्रा आये हुए विश्वासियों की आध्यात्मिक जरुरतों को ध्यान में रखते हुए भविष्य में पुरोहितों के प्रेरितिक कार्यों के लिए सुझाव पेश करना। "बयान में कहा गया था कि उनके मिशन को सन् 2017  गर्मियों के अंत में समाप्त किया जाएगा।

उसी दिन प्रेस कार्यालय के निदेशक ग्रेग बर्क ने इस कथन को रेखांकित किया कि "विशेष दूत का मिशन तीर्थयात्रियों के प्रति संत पापा का ध्यान है। यह मेषपालीय कार्य है, अर्थात संत पापा के विशेष दूत मेजोगोरिया में माता मरियम के दर्शन से संबंधित किसी भी मामलों में प्रवेश नहीं करेगे, जो विश्वास के सिद्धांत हेतु गठित धर्मसंघ की जिम्मेदारी है।

दूसरा जनादेश

31 मई 2018 को संत पापा फ्राँसिस ने महाधर्माध्यक्ष होसर को दूसरी बार "मेजोगोरिया पल्ली में अपने विशेष दूत के रुप में नामित किया।" वाटिकन प्रेस कार्यालय द्वारा जारी बयान के मुताबिक, यह आदेश "एक अनिर्धारित अवधि के लिए है।

एक बार फिर, महाधर्माध्यक्ष होसर अपने पहले मिशन को फिर से जारी रखेंगे जो हाल ही में खत्म हुआ था, विशेष दूत रुप में उनका मिशन मेजोगोरिया पल्ली समुदाय और तीर्थयात्रियों की आध्यात्मिक जरुरतों का विशेष ध्यान देना है। 

23 July 2018, 15:59