Vatican News
तिमोर लेस्ते के दिली शहर में स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति, एक समस्या- प्रतीकात्मक तस्वीरः 27.08.20 तिमोर लेस्ते के दिली शहर में स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति, एक समस्या- प्रतीकात्मक तस्वीरः 27.08.20   (ANSA)

तिमोर लेस्ते के राजदूत ने प्रस्तुत किया प्रत्यय पत्र

तिमोर लेस्ते के राजदूत ने शुक्रवार को वाटिकन में सन्त पापा फ्राँसिस के समक्ष अपना प्रत्यय पत्र प्रस्तुत किया।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 28 अगस्त 2020 (रेई,वाटिकन रेडियो): तिमोर लेस्ते के राजदूत ने शुक्रवार को वाटिकन में सन्त पापा फ्राँसिस के समक्ष अपना प्रत्यय पत्र प्रस्तुत किया।

जीवन वृतान्त

वाटिकन के लिये तिमोर लेस्ते की नवनियुक्त राजदूत यूविता रोडरिग्ज़ बार्रेतो दे आताइद गोनज़ालवेज़ का जन्म 30 जून सन् 1973 ई. को तिमोर लेस्ते के तीबा में हुआ था। नवनियुक्त राजदूत गोनज़ालवेज़ की पाँच सन्तानें हैं। आपने तिमोर लेस्ते के बिज़नेस संस्थान से स्नातक की पढ़ाई की है तथा 1995 से 2010 तक विभिन्न वित्त संस्थाओं एवं बैंकों में सेवा अर्पित की है। 2012 से 2016 तक आप तिमोर लेस्ते के पर्यटन मंत्रालय में प्रशासन और वित्त विभाग की  सलाहकार रही हैं तथा 2017 से 2020 तक देश के व्यापार संगठन तथा राष्ट्रीय महिला उत्थान बोर्ड में सक्रिय कही हैं।  

काथलिक बहुल तिमोर लेस्ते

तिमोर लेस्ते पुर्तगाल का पूर्व उपनिवेशी राष्ट्र है, जिसका पूरा नाम है डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ तिमोर लेस्ते। सन् 1975 ई. में इन्डोनेशिया सहित पूर्वी तिमोर ने पुर्तगाल से अलग होकर स्वायतत्ता प्राप्त की थी तथा 20 मई 2002 को तिमोर लेस्ते इन्डोनेशिया से स्वतंत्र होकर 21 वीं सदी का पहला नया संप्रभु राज्य बना। अपने पुर्तगाली इतिहास की वजह से तिमोर लेस्ते एक काथलिक बहुल गणतंत्र है, जहाँ की 96 प्रतिशत जनता काथलिक धर्मानुयायी है। सन् 2006 में प्रकाशित आँकड़ों के अनुसार काथलिकों की संख्या देश में 900,000 थी।  

28 August 2020, 11:16