Vatican News
पेरु की झुग्गी झोपड़ियों में शिक्षा प्रदान करनेवाली इताली मिशनरी नादिया मुनारी पेरु की झुग्गी झोपड़ियों में शिक्षा प्रदान करनेवाली इताली मिशनरी नादिया मुनारी  

पेरु में इताली मिशनरी की हत्या पर सन्त पापा का शोक सन्देश

पेरु में सेवारत इटली की लोकधर्मी मिशनरीनादिया मुनारी की हत्या पर गहन शोक व्यक्त करते हुए सन्त पापा फ्राँसिस ने एक शोक सन्देश प्रेषित किया है।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 30 अप्रैल 2021 (रेई, वाटिकन रेडियो): पेरु में सेवारत इटली की लोकधर्मी मिशनरीनादिया मुनारी की हत्या पर गहन शोक व्यक्त करते हुए सन्त पापा फ्राँसिस ने एक शोक सन्देश प्रेषित किया है।

विगत मंगलवार रात्रि को पेरु के चिमबोटे स्थित एक प्रशिक्षण केन्द्र में नादिया मुनारी पर एक हिंसक आक्रमण किया गया था जिसके बाद विगत शनिवार को उनकी मृत्यु हो गई थी।   

हिंसा का खण्डन

वाटिकन राज्य सचिव कार्डिनल पियेत्रो पारोलीन द्वारा चिमबोटे के काथलिक धर्माध्यक्ष को प्रेषित शोक सन्देश में कहा गया कि सन्त पापा फ्राँसिस किसी भी प्रकार की हिंसा की कड़ी निन्दा करते हैं तथा नादिया की हत्या के लिये गहन शोक व्यक्त करते हैं। उन्होंने कहा कि सन्त पापा दुखी हैं इसलिये कि इसी प्रकार की हिंसा का शिकार कई अन्य मिशनरियों को बनाया गया है जो समर्पण एवं निष्कपट भाव से सुरक्षाविहीन लोगों की सेवा में संलग्न थे।    

परिजनों को दिलासा

शोक सन्देश में कहा गया कि स्वयंसेविका नादिया की चिर शांति हेतु सन्त पापा प्रार्थना करते तथा उन्हें ईश माता मरियम के सिपुर्द करते हैं। प्रार्थना में सभी शोकाकुल परिजनों के समीप रहने का भी सन्त पापा आश्वासन देते हैं।  

इटली के विचेन्सा नगर की निवासी 50 वर्षीया नादिया मुनारी द्वारा पेरु के चिमबोटे में पाँच नर्सरी एवं प्रायमरी स्कूल चलाये जा रहे थे जिनमें निर्धन से निर्धनतम लगभग 500 बच्चे शिक्षा प्राप्त कर रहे थे।

30 April 2021, 11:48