Vatican News
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर  (AFP or licensors)

अंतरराष्ट्रीय समुद्र दिवस पर संत पापा का अभिवादन

12 जुलाई को वार्षिक समुद्र रविवार मनाया गया, जिसमें कई ख्रीस्तीय समुदायों ने भाग लिया। इस दिन नाविकों के कार्यों की विशेष याद की जाती है। यह समुद्र में नाविकों एवं उनके परिवार वालों के लिए प्रार्थना करने का भी अवसर प्रदान करता है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

देवदूत प्रार्थना के उपरांत संत पापा ने विभिन्न घटनाओं की याद दिलायी। उन्होंने अंतरराष्ट्रीय समुद्र दिवस की याद करते हुए कहा, "जुलाई  के इस दूसरे रविवार को अंतरराष्ट्रीय समुद्र दिवस मनाया जाता है। मैं समुद्र में काम करने वाले सभी लोगों का हार्दिक अभिवादन करता हूँ विशेषकर, जो अपने प्रियजनों एवं अपने देश से दूर हैं।"

संत पापा ने चिविताभेक्या तारक्वीनिया बंदरगाह पर यूखरिस्त में भाग लेने वाले सभी लोगों का अभिवादन किया।

संत सोफिया के लिए संत पापा का दुःख

तत्पश्चात् संत पापा ने इस्तम्बुल के संत सेफिया की याद की, जिसको मस्जिद में बदल दिया गया है। उन्होंने दु:ख प्रकट करते हुए कहा, "समुद्र मुझे दूर इस्तम्बुल तक, याद करने के लिए प्रेरित कर रहा है। मैं संत सोफिया की याद कर रहा हूँ और मैं बहुत दुःख महसूस कर रहा हूँ।"

रोम धर्मप्रांत के स्वस्थ की प्रेरिताई के प्रति पोप का आभार

उसके बाद संत पापा ने रोम एवं विभिन्न देशों के विश्वासियों का अभिवादन किया खासकर, उन्होंने, फोकोलारे आंदोलन के सदस्यों की याद की। उन्होंने रोम धर्मप्रांत  के स्वस्थ की प्रेरिताई के प्रतिनिधियों, पुरोहितों, धर्मबहनों, धर्मबंधुओं, लोकधर्मियों की विशेष रूप से याद की जो महामारी के समय में बीमार लोगों के करीब हैं। उन्होंने कहा, "आपने जो कुछ किया और कर रहे हैं उसके लिए धन्यवाद।"

अंत में, उन्होंने अपने लिए प्रार्थना का आग्रह करते हुए सभी को शुभ रविवार की मंगलकामनाएँ अर्पित की।      

13 July 2020, 15:16