Vatican News
ईराक में नई सरकार का गठन ईराक में नई सरकार का गठन 

कार्डिनल साको नई ईराकी सरकार के प्रति आशान्वित

ईराक में बुधवार को संगठित नई सरकार के प्रति कार्डिनल लूईस साको ने ईराक के भविष्य हेतु आशा जताई है। खलदैई ख्रीस्तीयों के काथलिक धर्माधिपति बाबिलॉन के प्राधिधर्माध्यक्ष कार्डिनल लूईस राफ़ाएल साको ने वाटिकन न्यूज़ से बातचीत में कहा, अब "सम्पूर्ण ईराक के लिये आशा का संचार हुआ है"।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

ईराक, शुक्रवार, 8 मई 2020 (रेई,वाटिकन न्यूज़): ईराक में बुधवार को संगठित नई सरकार के प्रति कार्डिनल लूईस साको ने ईराक के भविष्य हेतु आशा जताई है। खलदैई ख्रीस्तीयों के काथलिक धर्माधिपति बाबिलॉन के प्राधिधर्माध्यक्ष कार्डिनल लूईस राफ़ाएल साको ने वाटिकन न्यूज़ से बातचीत में कहा, अब "सम्पूर्ण ईराक के लिये आशा का संचार हुआ है"।  

नई सरकार गठित  

ईराक ने बुधवार को घोषणा की थी कि उसने एक नई सरकार का गठन कर लिया है। विगत नवम्बर माह में अब्दुल माहदी के इस्तीफा देने के छः महीनों बाद नई सरकार का गठन किया जा सका। नए प्रधानमंत्री मुस्तफा अल-कदीमी हैं, जो ईराक के खुफ़िया प्रमुख तथा पत्रकार रह चुके हैं।

कार्डिनल साको ने कहा कि नये प्रधान मंत्री का भाषण तथा उनकी भावी योजनाओं के बारे में सुनने के बाद यह आशा जाग्रत हुई है। नए प्रधान मंत्री के बारे में अपनी व्यक्तिगत राय प्रकट करते हुए उन्होंने कहा कि वे ईमानदार हैं, ईराक का भला चाहते हैं तथा उन्होंने "योग्य मंत्रियों" को चुना है, हालांकि कुछ को अभी भी नियुक्त किया जाना है।

ईराक की प्राथमिकता

इस बात की ओर ध्यान आकर्षित कराते हुए कि अभी भी देश में लड़ाका दल अनियंत्रित हैं तथा समस्याएं खड़ी कर रहे हैं, कार्डिनल साको ने कहा कि इस समय ईराक की प्राथमिकता है एकता तथा सभी ईराकियों के प्रति एकात्मता। उन्होंने कहा कि नई सरकार को समर्थन देना आवश्यक है ताकि वह अपनी योजनाओं को लागू कर सके तथा राष्ट्र से भ्रष्टाचार को समाप्त कर सके।

देश की अर्थ व्यवस्था के बारे में कार्डिनल साको ने स्वीकार किया कि यह बहुत ही सीमित है तथा ईराक के लिये एक महान चुनौती है। तथापि, उन्होंने कहा, इस समय पहली प्राथमिकता है, "सभी ईराकियों के लिए सुरक्षा, शांति और समानता।"

08 May 2020, 11:43