खोज

Vatican News
मानव अधिकार दिवस मानव अधिकार दिवस  (AFP or licensors)

मानवाधिकार दिवस युवाओं की सक्रियता का उत्सव

मानवाधिकार दिवस संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 10 दिसंबर1948 को मानवाधिकारों की ऐतिहासिक घोषणा की गई, जो सभी लोगों के अपरिहार्य अधिकारों की घोषणा करता है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 11 दिसम्बर 2019 (वाटिकन न्यूज) : संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार दिवस पर जीवन में मानअधिकार सुनिश्चित  करने में युवाओं की भूमिका को रेखांकित किया।

 मंगलवार 10 दिसम्बर को मानवाधिकार दिवस के अवसर पर संयुक्त राष्ट्र महासचिव अंतोनियो गुटेरेस ने कहा कि दुनिया भर में युवा लोग आगे बढ़ रहे हैं संगठित हो रहे हैं और अपनी आवाज बुलंद कर रहे हैं। एक स्वस्थ पर्यावरण के अधिकार के लिए, महिलाओं और लड़कियों के समान अधिकारों की खातिर, निर्णय प्रक्रिया में भागीदारी के लिए और अपनी राय बिना किसी भय के व्यक्त करने के लिए युवा लोग एक शांति पूर्ण भविश्य, न्याय और समान अवसरों के अधिकार के लिए आगे बढ़ रहे हैं।

उन्होंने कहा, “सभी व्यक्ति इन अधिकारों के हकदार हैं, सिविल, राजनैतिक, आर्थिक सामाजिक और सांस्कृतिक, चाहे वे कहीं भी रहते हों, उनकी नस्ल, जातीय मूल, धर्म, लिंग,राजनैतिक व अन्य विचार जो कुछ भी हो,विकलांग या अन्य स्थिति कुछ भी हो, अंतरराष्ट्रीय दिवस पर सभी से मैं युवाओं को समर्थन देने और उनकी हिफाजन करने का आह्वान करता हूँ जो मानव अधिकारों के लिए आवाज बुलंद कर रहे हैं।”  

जलवायु परिवर्तन अभियान में युवा सक्रियता

संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार उच्चायुक्त ने बताया कि इस वर्ष पर मैड्रिड में होने वाले संयुक्त राष्ट्र कोप 25 सम्मेलन का मुद्दा जलवायु परिवर्तन होगा।   

एक अलग संदेश में, संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार उच्चायुक्त मिशेल बाश्लेट ने कहा कि इस वर्ष के मानवाधिकार दिवस को "जबरदस्त सक्रियता" के युग से चिह्नित किया जा रहा है, विशेष रूप से युवा लोगों द्वारा।

बाश्लेट ने उन लाखों बच्चों, किशोरों और युवा वयस्कों के प्रति अपना आभार व्यक्त किया जो हमारे ग्रह में आने वाले संकट के बारे में जोर-शोर से बोल रहे हैं, उनका और भावी पीढ़ी की भविष्य दांव पर है।

11 December 2019, 16:33