Vatican News
इमान, 21 साल की अपनी बेटी जूलान के साथ इमान, 21 साल की अपनी बेटी जूलान के साथ  कहानी

बेथलहेम में पैदा हुआ

येसु के जन्मस्थान में, एक काथलिक मातृत्व संस्थान फिलिस्तीनी क्षेत्रों में अद्वितीय देखभाल प्रदान करता है, जो किसी के चिकित्सा कौशल से परे और सबसे ऊपर सार्वभौमिक शांति का संदेश फैलाता है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

बेथलहम के पवित्र परिवार की गेरू की दीवारों के साथ भव्य इमारत के सामने, पास के चौराहे पर स्थित एक साइन पोस्ट कुछ मीटर की दूरी पर  येसु के जन्म के महागिरजाघर को इंगित करता है।  क्रिसमस महोत्सव के लिए कुछ ही दिन बाकी रह गये हैं। इटली और ब्राजील के दर्जनों तीर्थयात्री फिलिस्तीनी शहर की सड़कों पर और मसीह के जन्मस्थान की ओर जाते नजर आ रहे हैं। बड़े प्रांगण में गौशाले के बगल में  क्रिसमस के विशाल पेड़ चमचमाती बत्तियों से खिल गया है। 1882 में सेंट विंसेंट डे पॉल की बेटियों द्वारा निर्मित अस्पताल के गलियारों में, येसु के जन्म के महागिरजाघर की ओर जाने वाली सड़कों की तुलना में वातावरण शांत है।

डेनिस सेवास्ट्रे, अस्पताल ऑफ द होली फामिली के निदेशक
डेनिस सेवास्ट्रे, अस्पताल ऑफ द होली फामिली के निदेशक

1990 में पहले बच्चे के जन्म से, पवित्र परिवार का प्रसूति चिकित्सालय पूरे फिलिस्तीन के संदर्भ में एक बिंदु बन गया है। माल्टा के ऑर्डर द्वारा प्रशासित यह चिकित्सालय गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशुओं को सबसे अच्छी चिकित्सा देखभाल प्रदान करता है। 2013 में उद्घाटन किए गए बाल चिकित्सा और नवजात देखभाल विभाग के पास दुनिया के सर्वश्रेष्ठ अस्पतालों से ईर्ष्या करने के लिए कुछ भी नहीं है। गौरवपूर्ण इतिहास और सुसमाचार संदेश की ताकत के बावजूद, बेथलहम में पैदा होने का मतलब हमेशा एक अच्छे स्टार के तरह पैदा होना नहीं होता है। यहाँ फिलीस्तीनी प्राधिकरण द्वारा प्रबंधित सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली दुर्लभ है और सबसे ऊपर राजनीतिक संदर्भ में अधिकारी-वर्ग द्वारा इसका उपभोग किया जाता है।

हमेशा हमारे पास एक जगह है

फिलिस्तीनियों का दैनिक जीवन वास्तव में बहुत दुखद है, क्योंकि पड़ोसी इजरायल के साथ शांति की उम्मीद अप्राप्य सपने लगती है। येरूशलेम केवल आठ किलोमीटर दूर है, लेकिन पवित्र शहर में प्रवेश करने के लिए बहुत समय लगता है। पवित्र परिवार अस्पताल के निदेशक डेनिस सेविस्ट्रे बताते हैं, " शहर में प्रवेश करने के लिए रोज़ सुरक्षा जांच होती है और रोज़ सुबह 5 बजे से बेथलेहम के लोगों को चेकपॉइंट पर कतार में लगना पड़ता है। पवित्र परिवार अस्पताल के निदेशक डेनिस सेविस्ट्रे पूर्व फ्रांसीसी सेना अधिकारी हैं जो अपनी पत्नी के साथ पांच साल पहले बेथलेहम में बस गये हैं। माली और अफ़गानिस्तान में विध्वंसकारी संचालन करने के बाद, अब तार्किक बाधाओं और आवर्ती तनावों के बावजूद वे  अस्पताल की सुविधा और 140 कर्मचारियों के प्रबंधन के लिए जिम्मेदार है। वे कहते हैं, "हमेशा हमारे साथ एक जगह है," जन्म देने आई कुछ महिलाओं ने घंटों यात्रा के साथ-साथ इजरायली सेना की सावधानीपूर्वक जांच करने में भी संकोच नहीं किया। लेकिन यह एक चमत्कार ही है कि इस महिलाओं का स्वागत किया जाता है। इनमें ज्यादातर मुस्लिम हैं। शिशुओं की देखभाल बड़े लाड़-प्यार से किया जाता है, जो माल्टीज़ क्रॉस के साथ मुद्रित कंबल में लिपटे होते हैं।

होली फैमिली अस्पताल के गलियारों में
होली फैमिली अस्पताल के गलियारों में

यदि ईश्वर चाहते हैं, तो शांति यहां आएगी

जब स्थितियां अधिक जटिल और नाजुक होती हैं, तो बाल चिकित्सा सहायता सेवा सक्रिय हो जाती है। यह एक चारिटी अस्पताल हैं। डेनिस सेविस्ट्रे, अपने संस्थान के लक्ष्य को याद करते हुए कहते हैं,“धर्म या आर्थिक संसाधनों की परवाह किए बिना, गुणवत्ता स्वास्थ्य सेवा प्रदान की जाती है। होली फैमिली अस्पताल ने एक सामाजिक कार्यकर्ता को भी काम पर रखा है जो मरीज के परिवारों की परिस्थितियों का अध्ययन करता है। कुछ परिवार  नाम मात्र के लिए कुछ शेकेल का ही भुगतान करते हैं।

इस अस्पताल के 56% कर्मचारी ईसाई हैं, जो फिलिस्तीनी राष्ट्रीय औसत से बहुत अधिक है। लेकिन होली फैमिली अस्पताल माताओं के घूंघट या गर्दन के क्रूस को नहीं देखता है। उत्कृष्ट चिकित्सा के अलावा, उनका स्वागत कई फिलिस्तीनी महिलाओं को अपने बच्चे को जन्म देने के लिए फिर से वहीं आने के लिए प्रेरित करता है। दो दिन पहले पैदा हुए अपने छोटे अली को अपनी बाहों में लिये ब्यूहिना कहती है, "यहां जन्म लेने वाला बच्चा विशेष है, क्योंकि यह एक पवित्र शहर है।”  अट्ठाईस साल के इस मुस्लिम के लिए, बेथलहम येसु का शहर है, जिसका कुरान में पैगंबर के रूप में उल्लेख किया गया है और होला फैमिली का अस्पताल शांति का नखलिस्तान है।

बेथलेहम नर्सरी में नर्स
बेथलेहम नर्सरी में नर्स

राजनेता दीवारों का निर्माण करते हैं, डॉक्टर दिल खोलते हैं

फिलिस्तीनी अस्पताल की प्रसिद्धि अब एक वास्तविकता है। इस अस्पताल के सभी फिलिस्तीनी डॉक्टर विदेशों में, फ्रांस में, संयुक्त राज्य अमेरिका या यूक्रेन में अध्ययन किया है। रोम में "बाम्बिनो येसु" बच्चों के अस्पताल में होली फैमिली अस्पताल की दो नर्सों को भी प्रशिक्षित किया गया था। "वे वाटिकन के अनुरोध पर बाद में स्थानीय कर्मियों को भी प्रशिक्षित किया!" डेनिस सेविस्ट्रे, मुस्कुराते हुए और गर्व से कहते हैं,पूर्व सैनिक अक्सर कहते हैं कि "राजनेता दीवारों का निर्माण करते हैं जबकि डॉक्टर दिल खोलते हैं।"

समय से पहले जन्म ने वाले बच्चों के बड़े कमरे में इक्कीस वर्षीय इमान अपनी बेटी जूलान को देखती है। चार महीने पहले, जन्म के समय उनका वजन सिर्फ 830 ग्राम था। दिवार पर टंगा एक बड़ा क्रूस उस कमरे को सुशोभित करता है जहाँ नौ विशेष इनक्यूबेटर लगाए गए हैं। इमान  दक्षिण में हेब्रोन से हर दिन यात्रा कर अस्पताल आता है। बेथलहम से हेब्रोन शहर केवल 25 किलोमीटर दूर है, लेकिन यात्रा में लगभग एक घंटे और कभी आधे घंटे लगते हैं। आठ सप्ताह के गहन देखभाल ने चमत्कार किया, जूलान का वजन अब 2.5 किलो है। हालाँकि, अभी भी येरूशलेम न्यूरोसर्जिकल अस्पताल में उसका सर्जरी प्रक्रिया जारी है।

ऑपरेशन कमरे के प्रवेश द्वार पर, पवित्र परिवार की तस्वीर।
ऑपरेशन कमरे के प्रवेश द्वार पर, पवित्र परिवार की तस्वीर।

सुरक्षा से पहले करुणा

अस्पताल के प्रांगण में, कुंवारी मरियम की एक भव्य और सुन्दर मूर्ति है। यह इमारत और उसके आसपास के क्षेत्र के आकर्षण के केंद्र है। रात में, उसे बत्तियों से प्रकाशित किया जाता है और लगता है कि जैसे कि चरनी पर माता मरियम जिस तरह से बालक येसु पर एकटक नजरें लगाई हुई हैं उसी तरह उसकी नजर पूरे शहर में है।  उद्यान में नारंगी और जैतून के पेड़ हैं, जो शांति के प्रतीक हैं और यहां साक्ष्य के रूप में लगाए गए हैं। एक फ्रांसीसी महिला मार्जोलीन ने बताया कि उन्होंने पिछले वर्ष कई महीने प्रसूति वार्ड में बिताए। जब वे अपने दोस्तों को बताते हैं कि उसने बेथलहेम में प्रसूति वार्ड में काम किया है," तो वे कहते हैं," होली फैमिली का अस्पताल वास्तव में एक ईसाई स्थान है, हम येसु के जन्म स्थान के बहुत करीब हैं। सबसे ऊपर यह शांति का संदेश देता है और पूरे फिलिस्तीनी समाज का प्रतिनिधित्व करता है। हमने बच्चों को पैदा होते देखा हैं और उनके परिवार को बसते देखा है।  हम यह भी महसूस करते हैं कि समाज में महिलाओं का स्थान क्या है।

जेनिन के मूल निवासी अहमद अपने नवजात बेटे को खोज लेता है।
जेनिन के मूल निवासी अहमद अपने नवजात बेटे को खोज लेता है।

एक बड़े क्रिसमस ट्री को अभी तक एक प्रसूति कक्ष में स्थापित किया जाना है। हेल्थकेयर स्टाफ के प्रत्येक सदस्य अपनी खुद की सजावट लाएंगे। यहाँ क्रिसमस को तीन बार बेथलहम के ईसाईयों द्वारा, काथलिकों के लिए 25 दिसंबर, ऑर्थोडॉक्स के लिए 6 जनवरी और आर्मेनियाई लोगों के लिए 19 जनवरी को मनाया जाता है। इसतरह मसीह के जन्म की खुशी को तीन बार मनाते हैं।

यात्रा के दौरान, डेनिस ने हमें एक किस्सा बताया जो कई भाषणों से बढ़कर है। "हम योम किप्पुर की यहूदी छुट्टी के बीच तेल अवीव में एक बच्चे को भेजने में कामयाब रहे। उसे तत्काल ओपन-हार्ट सर्जरी की आवश्यकता थी। आखिरकार उन्होंने सर्जनों की टीम को बुलाया और हमारे लिए एक विशेष वाहन भेजा गया। "प्रसूति के निदेशक इजरायल के सैनिकों के बारे में बात करते हैं, जो चेकपॉइन्ट पर, उस बच्चे के वाहन को स्थानांतरित करने में मदद करते हैं जो दीवार को पार कर सकता है। आप इसे पहली नजर में नहीं देख सकते कि वाहन में छोटा बच्चा है। बेथलहेम में शांति के राजकुमार का चमत्कार।

 

 

 

 

23 December 2019, 17:38