खोज

Vatican News
निहसीना रकोतारीमनाना,नाई नम्बर  7 निहसीना रकोतारीमनाना, नाई नम्बर 7  कहानी

नाई नम्बर 7

एंटानानारिवो के लोकप्रिय जिले के “सिटी 67 हा” (67 हेक्टेयर का शहर), में उसकी तलाश करने का कोई फायदा नहीं है। वह इस बेहतरीन जिले में, अनोसी झील के पास देश के सबसे बड़े होटल कार्लटन पर अपनी नज़र रखता है और वहाँ वह अपना जीवनयापन करता है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

उसका नाम निहसीना रकोतारीमनाना है। लेकिन (कहानीकार) जोन पियेर उसे "नाई न. 7" उपनाम दिया है, क्योंकि वही उनकी दुकान का नम्बर है। उसका "सैलून" लगभग तीन वर्ग मीटर का एक दुकान है, जो दो अन्य नाई की दुकान के बीच में स्थित है, जहां वह अपने ग्राहकों की प्रतीक्षा में दिन बिताता है। वह खुद को "एंटानानारिवो, मडागास्कर का एक पेशेवर नाई" कहता है। वह मुस्कुराते हुए अपनी दुकान पर जोन पियेर का स्वागत करता है। जोन पियेर अपने होटल के कमरे से जगह देखा था, यह 150 मीटर से भी कम था जहाँ संत पापा फ्राँसिस के मडागास्कर की प्रेरितिक यात्रा को कवर करने वाले अंतरराष्ट्रीय प्रेस टीम के पत्रकार ठहरे हुए थे। इस पांच सितारा होटल में रहने की तुलना सामने के छोटे जिले से कैसे करें?  उनके बीच का अंतर दिन और रात की तरह था, एक तरफ धनी वर्ग जिनके पास सबकुछ है तो दूसरी तरफ गरीबी, खाने-पीने और रहने की तंगी।

निहसीना रकोतारीमनाना का स्थान
निहसीना रकोतारीमनाना का स्थान

इस गरीब पड़ोस में, बच्चे बिलियर्ड टेबल पर पूल खेलने में अपना समय बिताते हैं। अन्य लोग पैसे के लिए ताश खेलते हैं। थोड़ी दूर पर, सड़क के किनारे जमीन पर बैठकर महिलाएं केले बेचकर गुजारा करती हैं। नाई न. 7 की दुकान के सामने एक "रेस्तरां" है जहाँ ग्राहक काउंटर पर खड़े होकर भोजन करते हैं। भोजन की एक प्लेट की कीमत 2,000 एर्री, (मालागासी मुद्रा) लगभग 0.50 यूरो सेंट होती है।

7 फुटबॉलर ख्रीस्तयानो रोनाल्डो द्वारा पहनी गई जर्सी की संख्या है। वे एक विश्व प्रसिद्ध फ़ुटबॉल खिलाड़ी हैं और गरीबी से बहुत दूर रहते हैं। लेकिन नाई न. 7 एक स्टार होने से बहुत दूर है, मेहनत से कमाई कर जीवन को आगे ले जा रहा है। हर दिन उसे अपने परिवार के लिए कमाना पड़ता है। पर उसके चेहरे पर व्यापक मुस्कान स्वतः दूसरों को आकर्षित कर लेती है। उसकी मुस्कान मानो कहती है, "मैं गरीब हूँ लेकिन मैं खुश हूँ!" एक बाल कटवाने की कीमत उसकी दुकान में एक तख्ते पर लिखी गई है: 2,000 एर्री, अभी भी लगभग 0.50 यूरो सेंट जैसे कि यहां लगभग सब कुछ 2,000 एर्री का है।

यह समझने के लिए कि नाई न.7 कहां काम करता है, आपको यह जानने की जरूरत है कि एंटानानारिवो शहर कैसे बना है: यह शहर मैदानों, पहाड़ियों और पहाड़ों के बीच स्थित है और एनॉसी जिले का झील एम्पेफिलोहा नाई न. 7 का कार्यस्थल है, जहां किसी का ध्यान नहीं जाता है। वर्षों से यह पड़ोस, शहर का केंद्र बन गया है। यहाँ देश के महान संस्थानों का भवन है: रिपब्लिक ऑफ प्रेसीडेंसी, सतं माइकल जेसुइट कॉलेज, सांख्यिकी कार्यालय, न्यायालय, रजिस्ट्री कार्यालय, साथ ही मालागासी नेशनल रेडियो, मालगासी टेलेविजन इत्यादि। सेंट्रल बैंक ऑफ मडागास्कर और राष्ट्रीय पुस्तकालय भी आस-पास के क्षेत्र में स्थित हैं। यह जिला 46 हेक्टेयर में फैला हुआ है और इसे दो मुख्य भागों में विभाजित किया गया है: सामाजिक आवास और प्रशासनिक और मंत्री स्तरीय इमारतों वाला क्षेत्र। एम्पेफिलोहा को रोवोहान्गी अस्पताल, मानारिनसोआ पुल, एम्पेफिलोहा मोडर्न स्कूल, और कार्लटोन होटल द्वारा बॉर्डर किया गया है। विशेष रूप से रात में, एम्पेफिलोहा में अच्छी सुरक्षा व्यवस्था है। यहां तक ​​कि अगर आप केवल 500 मीटर की दूरी पर हैं, तो भी आपको चलने के बदले, टैक्सी लेने की सलाह दी जाती है, खासकर अगर आप विदेशी हैं। प्रशासनिक भवनों और मंत्रालयों के बगल में, श्रमिक वर्ग का आवास है। यह पड़ोस गरीब आवास का एक चक्रव्यूह है और यहीं पर हमें नाई न. 7 की दुकान मिलती है।

राजधानी में सबसे धनी जनसंख्या वाले, एम्पेफिलोहा सबसे वंचित जिलों में से एक है। समतल भाग में बसा शहर "सिटी 67 हा" के नाम से जाना जाता है। टाना शहर में कई पड़ोस हैं, जो कि मालागासी राजधानी का दूसरा नाम है, लेकिन आप उत्तर-पश्चिम में स्थित "67 हेक्टेयर के शहर" को देखे बिना अंटानानारिवो की कल्पना नहीं कर सकते। बहुत सारे लोग यहां रहते हैं। इस जिले में, आपको हर प्रांत या क्षेत्र के मालागासी लोग मिलेंगे, जो शहरी सपने को साकार करने के लिए अपने ग्रामीण इलाकों को छोड़ चुके हैं। "सिटी 67 हा" में जीवन और गरीबी दोनों है। यहाँ प्रवेश करने से पहले, कोई आपको अपनी जेब, वॉलेट, फोन, सब कुछ देखने के लिए याद दिलाएगा। यहाँ छोटा-मोटा अपराध आम बात है। जब आप एक कार में हैं तो कार की खिड़कियां खोलनी नहीं चाहिए। एक ने मुझे बताया कि इस मोहल्ले में लोगों ने उनके बाल भी चुरा लिया था। चोर, कैंची से लैस, राहगीरों के बीच घुलमिल जाते हैं और मौका पाकर लंबे बालों को काटकर ले जाते हैं। उन बालों को उँचे कीमतों पर बेचते हैं। इन बालों से विग बनाया जाता है। "सिटी 67 हा" को "रेड ज़ोन" के रूप में वर्गीकृत किया गया है। फिर भी, यह वह जगह है जहाँ इसके अधिकांश निवासियों को भोजन और जरुरत के सामान मिल जाते हैं। यहां सब कुछ बिकता है और कुछ भी मिल सकता है। सड़क के किनारे खुले स्टोर और कसाई की दुकानें, जमीन पर सब्जियां, मसाले, फल, कपड़े, जूते वगैरह की दुकाने लगाई जाती हैं। परिणाम स्वरूप वाहन धीमी हो जाती हैं, जिससे ट्रैफिक जाम और अड़चनें आती हैं। भयावह गरीबी के बावजूद, वहां जीवन है। लोग मुस्कुराते दिखाई देते हैं।

निहसीना रकोतारीमनाना  की पत्नी के ग्राहक
निहसीना रकोतारीमनाना की पत्नी के ग्राहक

नाई न. 7 का जन्म 11 जुलाई 1975 को हुआ था। उनकी शादी हो चुकी है और उनके तीन बच्चे हैं: तोजो 24 साल का है, रोवा 22 साल और मुरिएल 18 साल का है। वे अभी भी पढ़ाई कर रहे हैं। निहसीना ने विभिन्न तरह के काम किया। 1998 में एक नाई बनने का फैसला करने से पहले वह ईंट बनाता था। उन्होंने कहा कि फुटबॉल के लिए अपने जुनून के कारण नौकरी बदल दी। उन्हें काम के बाद फुटबॉल खेलना पसंद था, लेकिन एक ईंट वाले के रुप में उसके पास फुटबॉल खेलने के लिए समय नहीं था। एक नाई के रूप में उसकी नौकरी उसके जुनून के साथ टकराती नहीं है।

निहसीना रकोतारीमन की टीम, दाएं से दूसरे स्थान पर
निहसीना रकोतारीमन की टीम, दाएं से दूसरे स्थान पर

"नाई की दुकान से उसे जीने और परिवार का खर्चा चलाने के लिए पर्याप्त मिल जाता है। वह मुझे बताता है,“मुझे हर दिन आराम किए बिना कड़ी मेहनत करनी पड़ती है" एक परिवार को पालना महंगा है: उसे तीन बच्चों के लिए स्कूल और विश्वविद्यालय की फीस देना है और एक महीने में का किराया 150,000 एर्री – (लगभग 40 यूरो) है। वह एक बाल कटवाने के लिए 2,000 एर्री से लेते हैं और रविवार को छोड़कर हर दिन काम करते हैं। प्रतिदिन 10 ग्राहकों की सेवा करते हुए, वह एक महीने में लगभग 520,000 एर्री (लगभग 130 यूरो) कमा सकते हैं, अपने सभी खर्चों का भुगतान करने के लिए पर्याप्त है, जिसमें किराया भी शामिल है। दुर्भाग्य से, उसके पास अक्सर एक दिन में 10 से कम ग्राहक आते हैं, जिसके कारण उसकी कमाई कम होती है। सौभाग्य से, वह अपनी पत्नी के योगदान पर भी भरोसा कर सकता है, जिसकी दुकान नाई की दुकान से 50 मीटर दूर पर है, वह दूध, चाय चीनी, बादाम, तेल, टूथब्रश, रेजर ब्लेड वगैरह बेचती है।

निहसीना रकोतारीमनाना की पत्नी
निहसीना रकोतारीमनाना की पत्नी

निहसीना कहते हैं, “भविष्य धूमिल है। मेरा भविष्य अनिश्चित है क्योंकि मेरा काम मेरे बुढ़ापे के लिए कोई गारंटी नहीं देता। लेकिन मैं बड़ा सपना देखता हूँ, मैं अपने बच्चों, अपने परिवार के लिए एक बड़ा घर बनाना चाहूंगा। इन सबसे ऊपर, मुझे आर्थिक सुरक्षा चाहिए और यह होगा। निहसीना ने कहा कि निश्चित रूप से नाई की नौकरी मुझे अपने सपनों को साकार नहीं करा सकती। "मैं कुछ और करना चाहता हूं", लेकिन नहीं जानता कि वह क्या है। "मुझे अभी भी इसके बारे में सोचना है। उदाहरण के लिए, मैं एक नाई के रूप में अपनी नौकरी समाप्त करने के बाद, रात का चौकीदार की नौकरी कर सकता हूँ। हालांकि रात का चौकीदार की नौकरी भी कम फायदेमंद होगा, क्योंकि यह हर दूसरे दिन होगा। नाई न.7 फुटबॉल के अपने शौक को नहीं छोड़ना चाहता: वह अपने खाली समय में अपने को प्रशिक्षित करना चाहता है।

उन्हें यह भी उम्मीद है कि राज्य अपना कर्तव्य निभाएगा और सभी मालागासी लोगों के लिए बेहतर भविष्य सुनिश्चित करेगा। निहसीना की उम्मीद है कि उनके बच्चे अपनी पढ़ाई पूरी कर सकेंगे और अपना भविष्य उज्वल बनायेंगे। मैं नहीं चाहता कि वे मेरी तरह कठिन मेहनत करें। उसने कहा कि कठिन मेहनत कर उसने बच्चों की शिक्षा के लिए पैसों का जुगाड़ किया है। जब मैंने उससे उसके जीवन के सबसे सुखद क्षण के बारे में पूछा, तो उसने बिना किसी हिचकिचाहट के जवाब दिया: "यह तब था जब मैंने अपनी बचत का इस्तेमाल अपनी छोटी बाइक खरीदने के लिए किया था।" लेकिन यहां तो एक मोटरसाइकिल भी आदमी को खुश करने के लिए पर्याप्त नहीं है।

अपनी मोटरसाइकिल पर निहसीना रकोतारीमनाना
अपनी मोटरसाइकिल पर निहसीना रकोतारीमनाना

नाई न. 7 के जीवन में सबसे कठिन समय 2002 का राजनीतिक संकट था। 16 दिसंबर 2001 के राष्ट्रपति चुनावों के तुरंत बाद, देश एक एक गहरे राजनीतिक संकट में पड़ गया था। चुनावों के पहले आधिकारिक परिणाम 25 जनवरी 2002 को घोषित किए गए और इसके तुरंत बाद मजबूत विरोध प्रदर्शन शुरु हो गया। उन लोगों पर बड़े पैमाने पर धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए, मुख्य विपक्षी उम्मीदवार, मार्क रावलोमनाना ने पहले दौर से जीत का दावा किया। राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार, डिडिएर रत्सिराका ने उस परिणाम के लिए उच्च संवैधानिक न्यायालय के आदेश के बावजूद, चुनाव परिणामों को वैधता से सत्यापित करने से इनकार कर दिया। नतीजा, लोकप्रिय विरोध का एक विशाल शांतिपूर्ण आंदोलन विकसित हुआ। रावलोमनाना ने 22 फरवरी 2002 को खुद की सरकार बनाने की घोषणा की, लेकिन पूरे देश में अपनी सत्ता का विस्तार करने में विफल रहे। पांच तटीय प्रांतों के गवर्नर रत्सिराका के समर्थन में सामने आए। वोट की वैधता से उत्साहित होकर, रत्सिराका ने राजधानी की नाकाबंदी की। इसमें, पुलों का विनाश, स्थानीय मीडिया और प्रतिष्ठान पर नियंत्रण और  प्रांतों में रावलोमनाना के समर्थकों के प्रति आतंक का माहौल था। लोगों के आंदोलन में बाधा डालने वाले कार्यों के लिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय की निंदा के बावजूद, रावलोमनाना अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त करने में असमर्थ थे। इसका मतलब था कि, चार महीनों के लिए, प्रशासनिक और आर्थिक गतिविधियां गंभीर रूप पंगु हो गई थी।

नाई न. 7 इस संकट से बुरी तरह प्रभावित था। उसने कहा, "मैं और भी गरीब हो गया था। उस समय, मैं एक दिन में 1000 एर्री (लगभग 25 यूरो सेंट) कमाने में कामयाब रहा और 2002 का संकट अभी भी मेरा सबसे बुरा सपना है।"

निहसीना रकोतारीमनाना
निहसीना रकोतारीमनाना

ऊंची इमारतों और अमीर लोगों के पड़ोस में रहना, जबकि वह और उसका परिवार गरीबी में रहते हैं, नाई न. 7 को समझना आसान नहीं है। लेकिन वह इन स्पष्ट और शर्मनाक असमानताओं के बारे में सवाल पूछते हुए भी जी रहा है। "मैं इस स्थिति की व्याख्या नहीं कर सकता। यहाँ एक दूसरे से बहुत दूर, दो सड़कें हैं, एक ऐसे धनी लोगों के लिए जो जीवन में सफल हैं और खुशहाल जीवन जीते हैं, दूसरी सड़क, गरीबी में जी रहे लोगों के लिए हैं। यह एक ऐसी प्रणाली है जिसे निर्धारित किया गया है। हमारे देश में बहुत अधिक भ्रष्टाचार है और यह गहराई से निहित है। मैं इस स्थिति में हूँ क्योंकि मैं आलसी रहा हूँ या कड़ी मेहनत नहीं की है। फिर भी, मैं अपने जीवन को मुस्कुराते हुए स्वीकार करता हूँ।

29 October 2019, 16:53