खोज

Vatican News
केरल के कोची क्षेत्र में बाढ़ का एक दृश्य, तस्वीरः 09.08.2019 केरल के कोची क्षेत्र में बाढ़ का एक दृश्य, तस्वीरः 09.08.2019   (AFP or licensors)

बाढ़ पीड़ितों की सेवा में केरल की कलीसिया

"केरल सामाजिक सेवा मंच" के महासचिव काथलिक पुरोहित फादर जॉर्ज वेट्टिकाटिल ने वाटिकन रेडियो को बताया कि केरल में घनघोर वर्षा, बाढ़ और भूस्खल के बाद से काथलिक कलीसिया की कल्याणकारी एजेन्सियाँ बाढ़ पीड़ितों की राहत सेवा में जुटी हुई हैं।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

केरल, शुक्रवार, 16 अगस्त 2019 (रेई, वाटिकन रेडियो): केरल के 32 काथलिक धर्मप्रान्तों में कल्याणकारी सेवा का समन्वय करनेवाले "केरल सामाजिक सेवा मंच" के महासचिव काथलिक पुरोहित फादर जॉर्ज वेट्टिकाटिल ने वाटिकन रेडियो को बताया कि केरल में घनघोर वर्षा, बाढ़ और भूस्खल के बाद से काथलिक कलीसिया की कल्याणकारी एजेन्सियाँ बाढ़ पीड़ितों की राहत सेवा में जुटी हुई हैं।

भारत में वर्षा का कहर

विगत दिनों की मूसलाधार वर्षा से केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र एवं गुजरात सहित कई राज्य प्रभावित हुए हैं। इन राज्यों में कम से कम 200 लोगों की मृत्यु की पुष्टि भी की जा चुकी है तथा लगभग 12 लाख लोग प्रभावित हुए हैं।

इसी बीच, उत्तराखण्ड एवं जम्मू काशमीर में भी भूस्खल के परिणास्वरूप नौ लोगों के मरने की ख़बर है। पश्चिम बंगाल एवं ओडिशा में वर्षा से सम्बन्धित पाँच लोगों की मौत हो गई है। वर्षा का सर्वाधिक कहर केरल राज्य को सहना पड़ा है जहाँ कम से कम 85 लोग मारे गये और ढाई लाख लोग विस्थापित हो गये हैं। ये लोग अब 1,600 राहत शिविरों में शरण ले रहे हैं जिनमें कलीसिया द्वारा संचालित राहत शिविर भी शामिल हैं।  

कलीसिया के दरवाज़े सबके लिये खुले

फादर जॉर्ज वेट्टिकाटिल ने बताया कि कलीसिया द्वारा संमचालित कल्याकारी एजेन्सियाँ लगभग 300 कलीसियाई संस्थाओं में 45,000 लोगों को शरण प्रदान कर रहीं हैं।

उन्होंने कहा, "हमने अस्थायी और सुरक्षित आवासों में जरूरतमंद लोगों को समायोजित करने के लिए अपने सभी संस्थान खोल रखे हैं।"

वाटिकन न्यूज़ से फोन पर बातचीत करते हुए उन्होंने बताया कि केरल के 14 ज़िलों में से कम से कम 10 ज़िले वर्षा से प्रभावित हुए हैं, 100 से अधिक भूस्खल की घटनाएँ हुई हैं तथा कई लोग अभी भी लापता हैं।

फादर वेट्टिकाटिल ने केरल के काथलिक मछुआ समुदाय के प्रति भी आभार व्यक्त किया जो राहत कार्यों में लगा हुआ है और जिसने अब तक बाढ़ से लगभग 65,000 लोगों को बचाया है।

16 August 2019, 11:56