खोज

Vatican News
ब्राजील के मनौस शहर के घर आग में जलते हुए ब्राजील के मनौस शहर के घर आग में जलते हुए  

अमाजोन पीड़ित, तो पूरा विश्व पीड़ित, लातिनी अमरीकी धर्माध्यक्ष

लातीनी अमरीका के धर्माध्यक्षों एवं कारेबियाई धर्माध्यक्षों (चेलम) ने विश्व के जंगलों में लगी विनाशकारी आग पर गंभीर चिंता जतायी।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार, 24 अगस्त 2019 (रेई)˸ भीषण आग की लपटें अलास्का, साईबेरिया, ग्रीन लैंड, कैनरी द्वीप और खासकर, अमाजोन तक पहुँच गयी हैं। अमाजोन जो विश्व का सबसे बड़ा वर्षावन है दो सप्ताह से जल रहा है।

संत पापा फ्राँसिस जिन्होंने आदिवासियों के अधिकारों के लिए संघर्ष पर विशेष जोर दिया है उन्होंने अक्टूबर माह में पान अमाजोन क्षेत्र के धर्माध्यक्षों के लिए सिनॉड का आह्वान किया है।

आशा से दुःख की ओर

22 अगस्त को जारी एक वक्तव्य में धर्माध्यक्षों ने कहा कि "जबरदस्त प्राकृतिक त्रासदी" जो अमाजोन को नष्ट कर रही है उसने एक आशामय सिनॉड की प्रतीक्षा को गहरे दुःख में बदल दिया है।"

धर्माध्यक्षों ने आदिवासियों के प्रति सहानुभूति प्रकट करते हुए कहा, "हमारे प्यारे भाई-बहन जो इस वर्षावन में रहते हैं, हम उनके प्रति अपना सामीप्य व्यक्त करते हैं। हम उनके साथ मिलकर विश्व से इस त्रासदी के लिए एकात्मता एवं तत्काल ध्यान की गुहार लगाते हैं।"

अधिक समृद्ध, अधिक महत्वपूर्ण

आगामी सिनॉड के लिए प्रारंभिक दस्तावेज का हवाला देते हुए धर्माध्यक्ष ने लिखा कि अमाजोन वर्षावन जो जैव विविधता में बहुत अधिक समृद्ध है, पूरे ग्रह के लिए भी इसका अत्यधिक महत्व है। कलीसिया का कहना है कि ऐसा क्षेत्र "बहु-जातीय, बहु-सांस्कृतिक और बहु-धार्मिक... सभी लोगों के संरचनात्मक और व्यक्तिगत परिवर्तन की मांग करता है।"

सिनॉड की तैयारी हेतु निर्मित दस्तावेज में कहा गया है कि यह गंभीर संकट जो "एक लंबी अवधि तक मानव हस्तक्षेप से रोका गया था, अब यहाँ कचरे की संस्कृति प्रबल हो गयी है।

दुनिया का फेफड़ा

अंततः धर्माध्यक्षों ने अमाजोन देशों, संयुक्त राष्ट्र एवं अंतरराष्ट्रीय समुदायों से मदद की अपील की है ताकि दुनिया के फेफड़े (अमाजोन) को बचाया जा सके।

संत पापा के शब्दों की याद करते हुए उन्होंने अधिकारियों से मांग की है कि जो लोग जिम्मेदारपूर्ण पदों पर आसीन हैं वे ईश्वर की योजना जो प्रकृति में अंकित है, उस सृष्टि के रक्षक बनें तथा हमारे विश्व में विनाश और मृत्यु के चिन्हों को बढ़ने से रोकें क्योंकि यदि अमाजोन पीड़ित है जो पूरा विश्व पीड़ित है।

24 August 2019, 16:43