खोज

Vatican News
फ्राँस के कार्डिनल फिलिप बारबारिन फ्राँस के कार्डिनल फिलिप बारबारिन  (AFP or licensors)

फ्राँस के कार्डिनल बारबारिन को छह महीने की सज़ा

फ्राँस में लियोन की एक अदालत ने नाबालिगों के विरुद्ध पुरोहितों के यौन दुराचारों की रिपोर्ट न करने के लिये, गुरुवार को, कार्डिनल फिलिप बारबारिन को दोषी ठहराया।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

लियोन, शुक्रवार, 8 मार्च 2019 (रेई, वाटिकन रेडियो): फ्राँस में लियोन की एक अदालत ने नाबालिगों के विरुद्ध पुरोहितों के यौन दुराचारों की रिपोर्ट न करने के लिये, गुरुवार को, कार्डिनल फिलिप बारबारिन को दोषी ठहराया.   

लियोन की अदालत ने जुलाई 2014 और जून 2015 के बीच के मामलों की रिपोर्ट नहीं करने के लिए कार्डिनल फिलिप बारबारिन को छह महीने की निलंबित जेल की सज़ा सुनाई है.

68 वर्षीय कार्डिनल गुरुवार को अपनी सजा सुनने के लिए अदालत में उपस्थित नहीं थे. उनके वकील, जाँ फेलिक्स लुसियानी ने कहा कि वह अपील करेंगे, वकील ने कहा, "अदालत की दलीलों पर मुझे यक़ीन नहीं है इसलिये हम आगे अपील करेंगे." उन्होंने कहा कि मामले पर विभिन्न वित्त चित्रों एवं फिल्म के परिणामस्वरूप अदालत दबाव में थी.   

वकील ने बताया कि जनवरी में मुकदमों के बाद अभियोजक ने कार्डिनल या उनके साथ आरोपी कलीसिया के पांच अन्य अधिकारियों के खिलाफ सजा की मांग नहीं की थी.

बारबारिन सौपेंगे इस्तीफा

लियोन स्थित धर्माध्यक्षीय निवास में प्रेस से रूबरु होते हुए कार्डिनल फिलिप बारबारिन ने घोषित किया कि आगामी दिनों वे रोम जाकर सन्त पापा फ्राँसिस के समक्ष अपनी इस्तीफा सौंप देंगे.  

फ्राँस के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन ने एक बयान जारी कर कहा कि वह तब तक सजा पर टीका नहीं करेगा जब तक कि कार्डिनल अपील करने के अपने अधिकार का इस्तेमाल न कर लें.  बयान में कहा गया कि कार्डिनल के इस्तीफे के बारे में भी वह कोई टिप्पणी नहीं करेगा इसलिये कि यह व्यक्तिगत अन्तःकरण का मामला है.

पीड़ितों की आवाज़

पुरोहितों द्वारा यौन दुराचार के शिकार बने नौ व्यक्तियों ने कार्डिनल बारबारिन के खिलाफ मुकद्दमा दायर किया था. उनका दावा था कि लियोन धर्मप्रान्त का बर्नार्ड प्रेनात नामक पुरोहित कई वर्षों तक नाबालिगों के विरुद्ध यौन दुराचार करता रहा था किन्तु कार्डिनल बारबारिन ने अपराधी पुरोहित के विरुद्ध कोई कार्रवाई नहीं की थी तथा लियोन महाधर्मप्रान्त के उच्चाधिकारी दुराचारों पर पर्दा डालते रहे थे.

जनवरी माह में मुकदमे के दौरान कार्डिनल बारबारिन ने एक बायन जारी कर कहा था कि उन्होंने कभी भी किसी दुराचार के मामलों  को छिपाने का प्रयास नहीं किया है. इसके अतिरिक्त, 2015 में कार्डिनल ने पुरोहित प्रेनात को उसके पौरोहित्य कार्यों से मुक्त कर निकाल दिया था. उन्होंने कहा कि उन्होंने वही किया जो रोम द्वारा आदेशित था.   

बर्नार्ड प्रेनात नामक पुरोहित ने स्वीकार किया है कि 70 एवं 80 के दशक में उसने बच्चों के विरुद्ध यौन दुराचार का पाप किया था.

08 March 2019, 11:48