Cerca

Vatican News
सीरिया का एक बच्चा बाहर की ओर देखते हुए सीरिया का एक बच्चा बाहर की ओर देखते हुए  (AFP or licensors)

अलेप्पो में बेरोजगारी एवं एकाकी की समस्या

अभाव के कारण दिन में केवल एक घंटा बिजली की अपूर्ति की जाती है। राजमार्ग एवं हवाई अड्डों को पुनः खोल दिया जाना चाहिए। ख्रीस्तीय अब भी पलायन कर रहे हैं क्योंकि सीरिया में कोई भविष्य नहीं है केवल येसु ही खुले घावों को चंगा कर सकते हैं।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

अलेप्पो शहर के फादर इब्राहिम अलसाबाह के अनुसार स्थिति अभी भी बहुत खराब है। नागरिकों को अनवरत रूप से क्रूस उठाना पड़ रहा है, जैसे दिन में एक ही घंटा बिजली की अपूर्ति की जाती है।

एशियान्यूज से बातें करते हुए उन्होंने बतलाया कि दक्षिणी सीरिया का शहर जो प्रमुख संघर्ष क्षेत्र था उसमें अभी भी नागरिक युद्ध चल रहा है, इदलिब और हमात अलग थलग पड़ गये हैं तथा राजमार्ग और हवाई अड्डों को फिर से खोला नहीं गया है, नौकरियों और संसाधनों की कमी है। यह स्थिति मानव जीवन एवं मानव प्रतिष्ठा के लिए स्वीकारीय नहीं है।

फादर ने सीरियाई शासन के खिलाफ अमेरिका और पश्चिमी तटबंध की शिकायत की जिसने "जनता की पीड़ा को स्थायी बना दिया है।" उन्होंने कहा कि यह प्रतिष्ठित जीवन के हर अवसर को सीमित कर देता है। लोगों को ट्रेन, बस अथवा एक गैस सिलेंडर के लिए घंटों इंतजार करना पड़ता है। नवजात शिशुओं एव बुजूर्गों को ठंढ का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि वे गर्म करने का ईंधन नहीं खरीद सकते।

1971 में दमिश्क में जन्मे फादर ने युद्ध के दौरान ख्रीस्तियों एवं मुसलमानों सभी लोगों की सहायता की है जहाँ युद्ध में आधे मिलियन लोगों की मौत हो गयी तथा करीब सात मिलियन से अधिक लोग विस्थापित हुए हैं।

पास्का के पूर्व वे कठिनाई में पड़े परिवारों को दया और उदारता के कार्य के रूप में जैतून तेल द्वारा मदद करना चाहते हैं।   

फादर ने कहा, "अभी भी कई घाव खुले हैं किन्तु हमारे चिकित्सक येसु पर भरोसा है जो अपनी कृपा से हमारे सभी घावों एवं बीमारियों को चंगा कर सकते हैं। यह आँसू बहाने का समय नहीं है। हमें उठना और कुछ करना चाहिए। हम उस दुःख को झेलने में गर्व महसूस करते हैं जो ख्रीस्त की पीड़ा में है।

12 March 2019, 17:00