Cerca

Vatican News
मछली बटोरते लोग मछली बटोरते लोग  (AFP or licensors)

विश्व मत्स्य दिवस पर कार्डिनल टर्कसन का संदेश

2016 के आंकड़े अनुसार विश्व के करीब 59.6 लाख लोग मछली पालन के उद्योग से जुड़े हैं जिनमें से 14 प्रतिशत महिलाएँ हैं। इस कार्य से जुड़े अधिकतर लोग एशिया (85%) अफ्रीका, लातीनी अमरीका तथा करेबियन के हैं। ये एक साथ विश्व बाजार में में कुल 171 लाख टन मछली उपलब्ध कराते हैं। मछली उत्पादन के द्वारा करीब 820 लाख लोगों को जीविका मिलता है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार, 21 नवम्बर 2018 (रेई)˸ समग्र मानव विकास हेतु गठित परमधर्मपीठीय परिषद् के अध्यक्ष कार्डिनल पीटर टर्कसन ने विश्व मत्स्य दिवस के उपलक्ष्य में एक संदेश प्रकाशित कर मछली उद्योग से जुड़े लोगों की आवश्यकताओं पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि ये महत्वपूर्ण आंकड़े, खाद्य सुरक्षा, आर्थिक विकास और गरीबी उन्मूलन के लिए मछली पकड़ने के क्षेत्रों के महत्व और योगदान को प्रकट करते हैं, जिसमें अनगिनत और लगातार चुनौतीपूर्ण मुद्दे उठ रहे हैं। शारीरिक एवं मौखिक शोषण के अलावा इस क्षेत्र में मानव तस्करी एवं समुद्र में लुप्त होने की भी गंभीर समस्याएँ हैं। हमें मछली भंडार, प्रदूषण और अन्य पर्यावरणीय चिंताओं पर ध्यान देने की चुनौती को नहीं भूलना चाहिए। इस परेशानी और दर्दनाक सच्चाई से, मछली उद्योग के श्रमिक मदद के लिए रो रहे हैं और कलीसिया के रूप में, हम अपने कान बंद कर चुप नहीं रह सकते।

उन्होंने कहा कि मानव अधिकार की घोषणा की 70वीं वर्षगाँठ पर हम अनुच्छेद 4 की घोषणा को पुनः पुष्ट करना चाहते हैं, "दास या गुलाम के रूप में किसी को भी नहीं रखा जाएगा; गुलामी और दास व्यापार अपने सभी रूपों में निषिद्ध होगा"।

व्यक्ति की सच्ची प्रतिष्ठा

कार्डिनल टर्कसन ने संदेश में कहा कि कलीसिया के रूप में हम संत पापा फ्राँसिस के आह्वान की याद करते हैं जिन्होंने लाभ के सामने व्यक्ति को महत्व देने की सलाह दी है। धन को केंद्रबिन्दु मानकर कर जब कार्य किया जाता है तब उसके पीछे गलत तरीके से धन अर्जित करने का प्रलोभन होता है। सच्चा धन कार्यों द्वारा प्राप्त किया जाता है। कार्य ही व्यक्ति को सम्मान प्रदान करता है न कि धन।

अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों से अपील

उन्होंने मछुवारों की स्थिति पर सुधार लाने का आग्रह करते हुए कहा कि आज जब हम विश्व मत्स्य दिवस मना रहे हैं हम उम्मीद करते हैं कि मछली उद्योग में कार्य करने वाले श्रमिकों की परिस्थिति पर जागरूकता बढ़े, उनके जीवन में मौलिक परिवर्तन आये। उन्होंने अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों से अपील की कि वे अंतरराष्ट्रीय उपकरणों के व्यापक संपुष्टि और कार्यान्वयन पर ध्यान दें।

मानव तस्करी एवं समुद्र में जबरन मजदूरी पर रोक

उन्होंने कहा कि एक साथ कार्य करते हुए हम मानव तस्करी एवं समुद्र में जबरन मजदूरी पर रोक लगा सकते हैं, काम करने की स्थिति में सुधार ला सकते हैं तथा एक सामाजिक, पर्यावरणीय और व्यावसायिक रूप से सतत् मत्स्य पालन क्षेत्र बनाने की उम्मीद में अवैध, अप्रतिबंधित और अनियमित मछली पकड़ने से लड़ सकते हैं।

कार्डिनल टर्कसन ने कहा कि यह एक बड़ी चुनौती है लेकिन उम्मीद है कि हम वैश्विक मत्स्य उद्योग में मानवाधिकारों और मौलिक स्वतंत्रता के सार्वभौमिक सम्मान के पालन की पुष्टि कर पायेंगे।

21 November 2018, 15:30