Cerca

Vatican News
स्पेन में पानी पर माता मरियम की शोभायात्रा स्पेन में पानी पर माता मरियम की शोभायात्रा  (AFP or licensors)

मत्स्य उद्योग की कठिनाइयों में प्रभु से प्रार्थना

विश्व मत्स्य दिवस पर समग्र मानव विकास हेतु गठित परमधर्मपीठीय परिषद् के अध्यक्ष कार्डिनल पीटर टर्कसन ने मत्स्य उद्योग से जुड़े लोगों के लिए प्रार्थना अर्पित की।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

प्रार्थना इस प्रकार है-

हे ईश्वर, पिता एवं विश्व के प्रभु

मनुष्यों की सृष्टि करने के लिए हम तेरी प्रशंसा करते हैं, तूने उन्हें परिश्रम द्वारा सृष्टि के कार्य में सहयोग देने के लिए बुलाया है। आज विश्व मत्स्य दिवस है, हम विनम्रता पूर्वक तुझसे याचन करते हैं कि तू उन लोगों को आशीष एवं सुरक्षा प्रदान कर जो मत्स्य व्यापार में उत्पादन, प्रौद्योगिकी और वितरण के कार्यों में संलग्न हैं जो भोजन सुरक्षा, आर्थिक विकास एवं गरीबी के निवारण में सहायक है। आपके बेटे-बेटियों की तरह, दृढ़ विश्वास के साथ हम प्रार्थना करते हैं कि मछुवारों पर हर प्रकार के शारीरिक एवं मौखिक शोसन एवं भेदभाव को रोका जाए, जिसमें जबरन मजदूरी, मानव तस्करी एवं समुद्र में खो जाने जैसे मुद्दे शामिल हैं। हमें हर प्रकार की बुराई से बचा जो जीवन, समुद्र एवं कार्य की सुन्दरता के दान को मलिन करते हैं, जिसकी बड़ी सावधानी के साथ देखभाल की जानी चाहिए।  

येसु ख्रीस्त हमारे प्रभु

आपकी कलीसिया के लिए अर्जी करते हैं कि वह मछुवारों की दारूण पुकार सुन सके जो अपने मानव अधिकार एवं मौलिक स्वतंत्रता को रौंदा हुआ पाते हैं। हृदय से प्रार्थना करते हैं कि आप हमारे विश्व के नेताओं के मन को आलोकित कर ताकि वे अंतरराष्ट्रीय उपकरणों को संपुष्ट कर सकें, जिससे कि मछली उत्पादन के क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिकों एवं परिवारों के जीवन तथा मछली भंडार की पर्यावरण स्थिति बदल सके। आपके दुःखभोग, मृत्यु एवं पुनरूत्थान द्वारा आपने पाप एवं मृत्यु की दासता से हमें मुक्त किया है यह सुनिश्चित कर कि अब कोई भी गुलाम न रहे। हरेक व्यक्ति को काम करने का अधिकार प्रदान कर तथा बेरोजगारी से उनकी रक्षा कर। यह कृपा दे कि हर व्यक्ति बिना किसी भेदभाव के, समान मजदूरी, न्याय एवं संतोषजनक पारिश्रमिक प्राप्त करे। इस तरह उनके परिवारों में मानव प्रतिष्ठा एवं सामाजिक सुरक्षा सुनिश्चित हो। हर व्यक्ति ट्रेड यूनियन की रचना कर सके अथवा उससे जुड़ सके ताकि अपने लाभ को बचा सके और इस तरह मछुवारों के मानव अधिकारों की रक्षा हमेशा होती रहे।

सागर के ऊपर विचरण करनेवाले पवित्र आत्मा

मत्स्य उद्योग में कार्यरत लोगों के मन एवं हृदय को परिवर्तित कर जो कठोर हैं तथा लोगों से बढ़कर लाभ प्राप्ति को महत्व देते हैं। उन्हें याद दिला कि लाभ से बढ़कर व्यक्ति का महत्व है तथा कार्य ही व्यक्ति को सम्मान प्रदान करता है।

धन्य कुंवारी मरियम, सागर का सितारा

हमें मानव तस्करी एवं सागर में जबरन मजदूरी से लड़ने हेतु एक साथ कार्य करने में सहायता दे ताकि उनके कार्य करने की स्थित एवं सुरक्षा में सुधार हो सके तथा गैर-कानूनी, अप्रतिबंधित और अनियमित मछली पकड़ने का सामना किया जा सके। इस तरह मछली उत्पादन का एक ऐसा क्षेत्र निर्मित किया जा सके जो सामाजिक, पर्यावरण और व्यावसायिक रूप से उत्तम हो।

पिता, आपके पुत्र येसु मसीह के द्वारा, संत पेत्रुस के पोत पर और पवित्र आत्मा की सहायता से, हमें कठिनाइयों और मुसीबतों के पार स्वर्गीय बंदरगाह की ओर ले चल।

आपको सब प्रशंसा, महिमा और सम्मान अब और हमेशा के लिए। आमेन, अल्लेलूया।

21 November 2018, 16:51