बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
अल्बानिया के राष्ट्रपति एवं संत पापा फ्राँसिस अल्बानिया के राष्ट्रपति एवं संत पापा फ्राँसिस  (ANSA)

अल्बानिया के राष्ट्रपति से संत पापा की मुलाकात

संत पापा फ्राँसिस ने सोमवार 17 सितम्बर को वाटिकन में अल्बानिया के राष्ट्रपति इलिर मेता से मुलाकात की। राष्ट्रपति ने बाद में वाटिकन राज्य सचिव कार्डिनल पियेत्रो परोलिन और वाटिकन उप-विदेश सचिव मोनसिन्योर अनतोइने कमिल्लेरी से मुलाकत की।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 18 सितम्बर 2018 (रेई)˸ वाटिकन प्रेस कार्यालय द्वारा जारी वक्तव्य में कहा गया है कि मुलाकात के दौरान परमधर्मपीठ एवं अल्बानिया के बीच सकारात्मक संबंधों पर चर्चा की गयी, साथ ही साथ, अल्बानियाई समाज को कलीसिया के योगदान पर भी गौर किया गया, खासकर, युवाओं के प्रति कलीसिया की प्रतिबद्धता, धार्मिक स्वतंत्रता को प्रोत्साहन, अल्बानिया का यूरोपीय संघ के साथ एकीकरण प्रक्रिया तथा पश्चिमी बलकान की स्थिति आदि।

ऐतिहासिक घटना

वाटिकन न्यूज से बातें करते हुए अल्बानिया के राष्ट्रपति ने कहा, "यह एक ऐतिहासिक घटना है न केवल मेरे और मेरे परिवार के लिए, बल्कि मेरे देश और मेरे लोगों के लिए।" उन्होंने बतलाया कि संत पापा के साथ उनकी मुलाकात सौहार्दपूर्ण एवं मित्रवत रही। 

युवाओं एवं परिवारों पर ध्यान

राष्ट्रपति ने कहा, "संत पापा ने हमें युवाओं पर विशेष ध्यान देने की सलाह दी और कहा कि विस्थापन को रोकने के प्रयास द्वारा एवं परिवार पर विशेष ध्यान देकर अल्बानिया के समाज की रीढ़ मजबूत की जा सकती है।" उन्होंने बतलाया कि संत पापा ने उन्हें अन्य धर्मों एवं राष्ट्रों के साथ निर्माणात्मक वार्ता को जारी रखने का परामर्श दिया है।   

संत पापा के साथ एक गहरा संबंध

अल्बानिया के राष्ट्रपति ने कहा, "मैंने उन सब कुछ के लिए संत पापा को धन्यवाद दिया जिनको उन्होंने हमारे लिए किया है विशेषकर, उनकी तत्परता एवं उनके प्रोत्साहन के लिए। उन्होंने हमारे देश के प्रति विशेष प्रेम दिखलाया है, खासकर, हमारे देश के शहीदों के प्रति जो कम्युनिस्ट शासन काल में मार डाले गये, मदर तेरेसा की संत घोषणा, 38 शहीदों की धन्य घोषणा, कार्डिनल सिमोनी एवं एक नये धर्माध्यक्ष की नियुक्ति तथा कोसोवो धर्माप्रांत की स्थापना, इनके द्वारा उन्होंने हमारे लोगों के प्रति विशेष रूचि दिखाई है।"

यूरोप की ओर   

राष्ट्रपति ने संत पापा के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करते हुए कहा कि मेरा हृदय वाटिकन के साथ मजबूत संबंध के कारण खुशी से भर गया है। संत पापा ने बेहतर भविष्य के लिए प्रतिबद्धता हेतु प्रोत्साहन दिया है जो जॉर्जो कास्त्रोता स्कानदर्बग की नींव एवं मूल्यों पर स्थापित है जिन्होंने पद्रहवीं शताब्दी में ही अल्बानिया को यूरोपीय सहभागिता में जुड़ने का स्वप्न देखा था।

18 September 2018, 13:11