Cerca

Vatican News
राष्ट्रपति ट्रम्प द्वारा मंत्रीमंडल की बैठक राष्ट्रपति ट्रम्प द्वारा मंत्रीमंडल की बैठक  (ANSA)

धार्मिक स्वतंत्रता एक मौलिक अधिकार, मैक पोम्पेओ

अमरीकी राज्य सचिव मैक पोम्पेओ ने वाटिकन न्यूज से कहा कि धार्मिक स्वतंत्रता एक मौलिक मानव अधिकार है तथा उन्होंने सभी धर्मानुयायियों एवं राष्ट्रों को निमंत्रण दिया कि इसे बढ़ावा दें।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

अमरीका, मंगलवार, 24 जुलाई 2018 (वाटिकन न्यूज)˸ वॉशिंगटन डी.सी में 24 से 26 जुलाई को धार्मिक स्वतंत्रता पर एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया गया है, जिसमें 40 विदेश मंत्रियों समेत कुल 80 प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं। 

मैक पोम्पेओ ने वाटिकन न्यूज से कहा, "जब व्यक्तियों को अपनी आस्था के साथ स्वतंत्र रूप से कार्य एवं व्यवहार करने की छूट दी जाती है तब उनके पास महान कार्य करने की क्षमता होती है।"  

वास्तविक प्राथमिकता

उन्होंने कहा कि मंत्रालय का मिशन है, विश्व के हर व्यक्ति की धार्मिक स्वतंत्रता के महत्व की बात को फैलाना। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प के प्रशासन में विभाग ने इस मामले को "एक वास्तविक प्राथमिकता" प्रदान की है।

मैक ने कहा कि हर धर्म के लोगों को अपना धर्म मानने की स्वतंत्रता होनी चाहिए और यदि वे ऐसा करना नहीं चाहते हैं तो वे उसके लिए भी स्वतंत्र हैं। 

धर्मगुरूओं की भूमिका

सचिव ने कहा कि धार्मिक नेता, साथ ही साथ सरकार, अपने धर्म एवं आस्था की स्वतंत्रता के लिए प्रेस सम्मेलन करें तथा सभी की स्वतंत्रता सुनिश्चित करें। 

उन्होंने कहा कि इस मिशन के लिए काथलिक कलीसिया एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकती है यही कारण है कि वॉशिंगटन में सम्मेलन का आयोजन किया गया है। 

अंत में, सचिव पोम्पेओ ने बताया कि निवेशक और वाणिज्यिक कलाकार व्यापक धार्मिक स्वतंत्रता वाले स्थानों को "अधिक खुले और कम जोखिम के साथ" देखते हैं।

मैक ने कहा, "हम धार्मिक स्वतंत्रता को मौलिक मानव अधिकार के रूप में एवं आर्थिक लाभ के बीच गहरा संबंध देखते हैं जो उन देशों में विकसित होता है जहाँ धार्मिक स्वतंत्रता है।"

उनकी आशा है कि इसे मजबूत करने के द्वारा अमरीकी विदेश नीति को लाभ होगा।

 

24 July 2018, 17:31