Vatican News
युद्ध से ध्वस्त इराक की इमारतें युद्ध से ध्वस्त इराक की इमारतें  (AFP or licensors)

वैश्विक युद्धविराम को बढ़ावा देने हेतु वाटिकन का प्रयास

समग्र मानव विकास हेतु गठित परमधर्मपीठीय समिति एवं वाटिकन कोविड-19 आयोग द्वारा आयोजित एक ऑनलाईन सभा का मकसद है वैश्विक युद्ध विराम को प्रोत्साहन देना, निरस्त्रीकरण को आगे बढ़ाने और पारिस्थितिक एवं परस्पर संवाद की भूमिका को उजागर करने के लिए ठोस तरीके को अपनाना।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 18 मार्च 2021 (रेई)- ऑनलाईन सभा की विषयवस्तु है, "महामारी के समय में अभिन्न व्यवहार को आगे बढ़ाना" जो हथियार उत्पादन को रोकने की आवश्यकता पर चिंतन करना चाहता है। वैश्विक युद्ध विराम का समर्थन संत पापा फ्राँसिस एवं संयुक्त राष्ट्रसंघ कर रहे हैं।

पहल का आयोजन लंदन के एसओएएस विश्वविद्यालय के शस्त्र और प्रसार (एससीआरएपी) को हटाने के लिए रणनीतिक संकल्पना के सहयोग से समग्र मानव विकास हेतु गठित परमधर्मपीठीय परिषद एवं वाटिकन कोविड-19 आयोग द्वारा की गई है।

पहली श्रृंखला में 3 ऑनलाईन कार्यक्रम 23 मार्च को सम्पन्न होंगे। वेबिनार में धर्मों के प्रतिनिधि एवं शोधकर्ताओं के भाग लेने का अनुमान है जो हथियार उत्पादन एवं प्रसार को रोकने के द्वारा वैश्विक युद्धविराम को बढ़ावा दिये जाने के प्रयास पर चिंतन करेंगे। आयोजकों द्वारा जारी एक बयान में बतलाया गया है कि पहल का उद्देश्य है प्रेरितिक पत्र फ्रातेल्ली तूत्ती के प्रत्युत्तर में अंतरराष्ट्रीय समुदाय एवं धार्मिक नेताओं को पूरी तरह हथियार रहित रास्ते पर चलने के लिए ठोस विकल्प प्रदान करना।

वैश्विक युद्ध विराम को समर्थन देने हेतु पोप फ्राँसिस का समर्थन

संत पापा फ्रांसिस ने वैश्विक युद्ध विराम को समर्थन देने के लिए बरम्बार अपील की है। जुलाई 2020 को देवदूत प्रार्थना के दौरान संयुक्त राष्ट्र की सराहना करते हुए उन्होंने कहा था, "एक वैश्विक और तत्काल संघर्ष विराम के लिए आह्वान सराहनीय है जिससे मानवीय सहायता प्रदान करने हेतु आवश्यक शांति और सुरक्षा प्रदान की जा सके।"

वैश्विक युद्ध विराम हेतु संत पापा की अपील, काकेशस में

संत पापा फ्राँसिस की अपील संयुक्त राष्ट्र के महासचिव के युद्धविराम हेतु प्रस्ताव रखे जाने के बाद आई थी। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सदस्यों ने सर्वसम्मति से अपने एजेंडे में "सभी स्थितियों में शत्रुता की तत्काल समाप्ति" की मांग करते हुए एक संकल्प अपनाया था।"

1 जुलाई 2020 को अपनाया गया संकल्प, हथियाबंद संघर्ष में शामिल दलों का आह्वान करता है कि वे तत्काल "टिकाऊ मानवीय ठहराव" को अपनायें, जिससे कि कोविड-19 महामारी से जूझते देशों को सहायता पहुँचाया जा सके।

संस्थागत परिचय

वेबिनार के पहले सत्र में वाटिकन के राज्य सचिव कार्डिनल पिएत्रो पारोलिन और समग्र मानव विकास हेतु गठित परमधर्मपीठीय परिषद के अध्यक्ष कार्डिनल पीटर टर्कसन, एवं साथ-साथ अंतर्राष्ट्रीय अध्ययन और कूटनीति के विशेषज्ञों द्वारा हस्तक्षेप किया जाएगा।

अंतरराष्ट्रीय नियम

अंतरराष्ट्रीय कानून एवं निरस्त्रीकरण की ठोस प्रणाली की व्याख्या करते हुए दूसरे सत्र में निरस्त्रीकरण समुदाय के सदस्य अपनी विशेष जानकारी साझा करेंगे, जिसमें जेनेवा में संयुक्त राष्ट्र के लिए परमधर्मपीठ के स्थायी पर्यावेक्षक महाधर्माध्यक्ष इवन युरकोविक भी शामिल होंगे।

ख्रीस्तीय एकता एवं अंतरधार्मिक वार्ता

तीसरे सत्र में, निरस्त्रीकरण के लिए ख्रीस्तीय एकता एवं अंतरधार्मिक वार्ता की भूमिका पर प्रकाश डाला जाएगा। इस सत्र में ख्रीस्तीय एकता को प्रोत्साहन देने हेतु गठित परमधर्मपीठीय समिति के अध्यक्ष कार्डिनल कूर्ट कोच और अंतर-धार्मिक वार्ता हेतु गठित परमधर्मपीठीय समिति के अध्यक्ष कार्डिनल मिग्वेल अयूसो गिक्सोत भाग लेंगे। उनके साथ विभिन्न ख्रीस्तीय समुदायों एवं धर्मों के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे।  

वेबिनार अंग्रेजी में संचालित होगा और समग्र मानव विकास हेतु गठित परमधर्मपीठीय परिषद के यूट्यूब चैनल पर लाईव स्ट्रीम किया जाएगा।

 “Vatican IHD”: www.youtube.com/VaticanIHD.

18 March 2021, 15:25