खोज

Vatican News
1931 में गुलिएल्मो मार्कोनी और संत पापा पियुस ग्यारहवें वाटिकन रेडियो का उद्घाटन करते हुए 1931 में गुलिएल्मो मार्कोनी और संत पापा पियुस ग्यारहवें वाटिकन रेडियो का उद्घाटन करते हुए 

वाटिकन रेडियो के नब्बे साल, एक मिशन की वजहें

संत पापा और लोगों के बंधुत्व की सेवा में, इस प्रकार संत पापा पियुस ग्यारहवें द्वारा शुरु किया गया ब्रॉडकास्ट महामारी के समय में अपने मिशन पर पुनःविचार कर रहा है। संपादकीय निदेशक, अंद्रेया तोर्नेल्ली

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 10 फरवरी 2021 (रेई) : “वाटिकन रेडियो, जो दूरदर्शी ज्ञान के साथ स्थापित है, संत पापा के विचार और आवाज की सेवा में है, समय-समय पर गति और प्रभावशीलता के साथ अपनी गूँज फैलाने के लिए है और यह संत पापा के मजिस्टेरियम के प्रसार का एक साधन है। शुरू से ही यह आधुनिक तकनीक सार्वभौमिक अर्थ में लोगों के बीच आपसी भाईचारे का सेवा में समर्पित था।" संत पापा जॉन तेईस्वें द्वारा 12 फरवरी, 1961 को बोले गए शब्द इन दिनों भी अपनी प्रासंगिकता को बरकरार रखते हैं जब वाटिकन रेडियो अपने नब्बे साल का समारोह मनाता है और कलीसिया संत पापा फ्राँसिस के विश्वपत्र, "फ्रातेल्ली तुत्ती" के संदेश को आत्मसात कर रही है।

लोगों को जोड़ने का प्रयास

गुलिएल्मो मार्कोनी द्वारा निर्मित और जेसुइट पुरोहितों को सौंपा गया संत पापा पियुस ग्यारहवें द्वारा संचालित प्रसारण का यह विशेष समारोह महामारी के कारण मानवता के इतिहास में एक मुश्किल समय में आता है। कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई जो फेफड़ों को संक्रमित करती है, वायरस की उदासीनता जो अक्सर हमें खुद को भाइयों के रूप में पहचानने से रोकता है, एक कार्यक्रम, अनुसूचि और मिशन के अर्थ को फिर से परिभाषित करता है। कोविद -19 के वर्ष में, संत  पापा के प्रसारक ने नेटवर्क बनाने और लॉकडाउन के कारण अलग-थलग पड़े लोगों को जोड़ने का प्रयास किया। उन्होंने दुनिया में हो रहे कई अच्छे रचनात्मक अनुभवों के बारे में प्रसार किया।

एक प्रकरण है जिसने पिछले वर्ष सबसे ज्याद वाटिकन रेडियो के इतिहास को चिह्नित किया है। यह दो साल से नाइजर और माली के बीच जिहादियों के कैदी फादर लुइजी मैक्काल्ली की गवाही है। फादर लुइजी ने कहा,“उन जिहादियों ने मेरे लिए एक रामशेकले रेडियो दिया था, मैं हर शनिवार वाटिकन रेडियो से रविवारीय पाठों पर चिंतन सुनता था। एक बार पवित्र मिस्सा का सीधा प्रसारण सुनने को मिला ... यह वास्तव में संत पापा का पेंतेकोस्त 2020 का पवित्र मिस्सा था।"

संत पापा का संदेश

इन शब्दों में, हम ब्रॉडकास्ट, इसके तकनीशियनों और 69 विभिन्न देशों के इसके संपादकों द्वारा की गई सेवा के कारणों का पता लगाते हैं, जो रोज पेत्रुस के उत्तराधिकारी और दुनिया में कलीसिया के जीवन की कहानियों का संदेश प्रसारित करते हैं। उन्हें विभिन्न भाषाओं और संस्कृतियों में दर्शकों के जुनून के बिना, पसंद या आत्म-संदर्भित नायक के बिना प्रसारित करते हैं। सितंबर 2019 में संत पापा फ्राँसिस ने संचार के लिए एक विभाग देते हुए चेतावनी दी थी। उन्होंने कहा,“संचार कैसे होना चाहिए? उन चीजों में से एक जो आपको नहीं करनी चाहिए वह है विज्ञापन ... आपको मानव उद्यमों के रूप में नहीं करना चाहिए जो कि अधिक लोग करने की कोशिश करते हैं ... मैं चाहता हूँ कि हमारा संचार ख्रीस्तीय हो और अभियोग का कारक नहीं बने।"

इस संकेत के बाद, वाटिकन रेडियो संत पापा के संदेश को फादर मैक्काल्ली जैसे कई पुरोहितों के लिए जारी रखता है जो पृथ्वी के सबसे दूरदराज के कोनों में सुसमाचार के लिए अपने जीवन को "अर्पित" करते हैं। वह दुनिया को बताता है, वह हर किसी का ध्यान रखता है और उनकी कहानियों को साझा करता है।

10 February 2021, 15:34