खोज

Vatican News
संत पेत्रुस महागिरजाघर संत पेत्रुस महागिरजाघर   (Vatican Media)

कार्डिनल परिषद ने महामारी में कलीसिया के जीवन पर चिंतन किया

कार्डिनलों की विशेष परिषद ने निर्धारित समय अनुसार मंगलवार को दूसरी बेला एक वर्चुवल सभा में भाग लिया।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 3 दिसम्बर 2020 (रेई)- कोरोना वायरस महामारी के कारण उत्पन्न परिस्थिति को ध्यान में रखते हुए कार्डिनल परिषद ने मंगलवार को होने वाली सभा को ऑनलाईन सम्पन्न किया। कार्डिनल ऑस्कर ए. रोड्रीग्वेज माराडियगा, कार्डिनल रेनहार्ड मार्क्स, कार्डिनल सीन पैट्रिक ओमाल्ले, कार्डिनल ऑस्वल्ड ग्रेसियस और कार्डिनल फिडोलिन अमबोंगो बेसुन्गू ने अपने देशों से जबकि कार्डिनल पीयेत्रो परोलिन, कार्डिनल जुस्सेपे बेरतोने और परिषद के सचिव धर्माध्यक्ष मार्को मेल्लिनो ने वाटिकन से सभा में भाग लिया। संत पापा फ्राँसिस भी प्रेरितिक आवास संत मर्था से सभा में भाग लिये।

वाटिकन प्रेस कार्यालय ने मंगलवार को सभा की घोषणा की थी, जिसमें कहा गया था कि "संत पापा फ्राँसिस के साथ एक छोटी मुलाकात के बाद परिषद के नये सदस्य कार्डिनल अमबोंगो बेसुन्गू, किनशसा के महाधर्माध्यक्ष को सभा के सदस्यों के सामने प्रस्तुत किया गया तथा विभिन्न महादेशों से कलीसिया के जीवन में सहयोग दिये जाने पर चिंतन किया गया, खासकर, वर्तमान स्वास्थ्य परिस्थिति में।"

वक्तव्य में बतलाया गया है कि "परिषद के सचिव ने नये प्रेरितिक संविधान के प्रारूपण में उठाए गए कदमों को संक्षेप में प्रस्तुत किया है जबकि इसी बीच, हाल के महीनों में परामर्शित आपदाओं से प्राप्त टिप्पणियों, संशोधनों और प्रस्तावों का भी अध्ययन किया गया।"

अंततः वक्तव्य में यह भी कहा गया कि कार्डिनलों की अगली सभा फरवरी माह में निश्चित की गयी है।

03 December 2020, 14:39