खोज

Vatican News
कार्डिनल तौराँ की स्मृति में रोम के सन्त जॉन लातेरान में कला प्रदर्शनी का दृश्य - 31.10.2019 कार्डिनल तौराँ की स्मृति में रोम के सन्त जॉन लातेरान में कला प्रदर्शनी का दृश्य - 31.10.2019  (ANSA)

कार्डिनल तौराँ वार्ता के महापुरुष

कार्डिनल ग्वीक्सो ने कहा कि परमधर्मपीठीय अन्तरधर्म सम्वाद परिषद के पूर्वाध्यक्ष कार्डिनल जाँ लूई तौराँ वार्ता के महापुरुष थे। उन्होंने कहा, "अस्मिता, विविधता, और ईमानदारी" कार्डिनल जाँ लूई तौराँ द्वारा प्रचारित अन्तरधर्म सम्वाद की तीन विशिष्टताएँ थीं।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

इटली, मिलान, शुक्रवार, 17 जनवरी 2020 (रेई,वाटिकन रेडियो): इटली के मिलान शहर स्थित काथलिक विश्वविद्यालय में 16 जनवरी को धर्मों के बीच वार्ता पर सम्पन्न एक सम्मेलन में परमधर्मपीठीय अन्तरधर्म सम्वाद परिषद के अध्यक्ष कार्डिनल आयुसो ग्वीक्सो ने परिषद के पूर्वाध्यक्ष दिवंगत कार्डिनल तौराँ को वार्ता के महापुरुष की संज्ञा प्रदान की।  

इस्लाम एवं काथलिक धर्म के अनुयायियों के बीच वार्ताओं की आवश्यकता पर आयोजित सम्मेलन में वाटिकन से कार्डिनल ग्वीक्सो के नेतृत्व में परमधर्मपीठीय शिष्ठ मण्डल तथा मिलान काथलिक विश्वविद्यालय में अरबी भाषा एवं साहित्य के प्राध्यापक वैल फ़ारूक एवं वर्ल्ड मुस्लिम लीग के महासचिव मुहम्मद बिन अब्दुल करीम आल-ईसा के नेतृत्व में इस्लाम धर्म के प्रतिनिधिमण्डल ने भाग लिया।

"अस्मिता, विविधता और ईमानदारी"

सम्मेलन के प्रतिभागियों को सम्बोधित करते हुए गुरुवार को कार्डिनल ग्वीक्सो ने कहा कि परमधर्मपीठीय अन्तरधर्म सम्वाद परिषद के पूर्वाध्यक्ष कार्डिनल जाँ लूई तौराँ वार्ता के महापुरुष थे। उन्होंने कहा, "अस्मिता, विविधता, और ईमानदारी" कार्डिनल जाँ लूई तौराँ द्वारा प्रचारित अन्तरधर्म सम्वाद की तीन विशिष्टताएँ थीं। उन्होंने कहा कि 11 वर्षीय अपने कार्यकाल के दौरान कार्डिनल तौराँ विभिन्न धर्मों के लोगों के बीच निष्कपट सम्वाद एवं मैत्री को बढ़ावा देने के प्रति पूर्णतः समर्पित रहे।

कार्डिनल तौराँ के अन्तयेष्टि याग के दौरान कहे सन्त पापा फ्राँसिस के शब्दों को उद्धृत कर कारडिनल ग्वीक्सो ने कहा कि कार्डिनल तौराँ का सम्पूर्ण पुरोहितिक जीवन सार्वभौमिक कलीसिया के प्रतिष्ठित सहयोगी रूप में बीता और उन्होंने अपने समपर्ण द्वारा कलीसिया के जीवन को रचनात्मक ढंग से प्रभावित किया।

आपसी समझदारी की ज़रूरत

कार्डिनल ग्वीक्सो ने कहा कि कार्डिनल तौराँ के कार्यों के फलस्वरूप ही काथलिक एवं इस्लाम धर्मों के बीच सम्वाद एवं मैत्री को प्रोत्साहन मिला है। इसके अतिरिक्त, विभिन्न धर्मों के लोगों, सरकारों एवं अन्तरराष्ट्रीय संस्थाओं में उनके कूटनैतिक कार्यों ने कई संघर्षों को रोका तथा शांति का रास्ता सुगम बनाया। इस सन्दर्भ में कार्डिनल ग्वीक्सो ने कहा, "केवल अपने क़रीब की घटनाओं पर ग़ौर करना तथा उन्हें समझना एवं रोकना ही पर्याप्त नहीं है, अपितु आपसी समझदारी की नई संभावनाओं का पता लगाना आवश्यक है ताकि विभिन्न धार्मिक परंपराओं में निहित रचनात्मक तथ्यों का प्रसार शांति स्थापना के लिये हो सके।"

17 January 2020, 12:17