खोज

Vatican News
संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्राँगण में लगे शिविर के कर्मचारियों के साथ संत पापा फ्राँसिस संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्राँगण में लगे शिविर के कर्मचारियों के साथ संत पापा फ्राँसिस  (ANSA)

गरीबों के लिए विश्व दिवस, वाटिकन में मुफ्त चिकित्सा सुविधा

वाटिकन स्थित संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्राँगण में 2018 से ही गरीबों के लिए विश्व दिवस के अवसर पर मुफ्त चिकित्सा सुविधा प्रदान की जाती है। इस साल भी इस शिविर का उद्घाटन 11 नवम्बर को संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्रांगण में किया गया है जो अगले सप्ताह रविवार तक खुला रहेगा।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 12 नवम्बर 2019 (रेई)˸ यह पहल संत पापा फ्राँसिस द्वारा ईश्वर के प्रिय लोगों के लिए खोला गया है। गरीबों को सप्ताह भर मुफ्त चिकित्सा सुविधा प्रदान किया जाना, गरीबों के लिए तीसरे विश्व दिवस के अनेक कार्यक्रमों में से एक है जिसकी चरमसीमा संत पेत्रुस महागिरजाघर में अगले सप्ताह रविवार को ख्रीस्तयाग में होगी।

वाटिकन में चिकित्सा शिविर

चिकित्सा सुविधा

पिछले साल की तरह चिकित्सा सेवा का समय प्रातः 8.00 बजे से 12.00 बजे है और विशेष मुलाकात प्रातः 9.00 बजे से शाम 8.00 बजे तक। जाँच हेतु हृदय रोग विशेषज्ञ, मधुमेह विशेषज्ञ, नेत्र रोग विशेषज्ञ और रेडियोलॉजिस्ट उपलब्ध होंगे।

नवीन सुसमाचार प्रचार हेतु गठित परमधर्मपीठीय समिति के अध्यक्ष मोनसिन्योर रिनो फिसिकेल्ला ने गरीबों के लिए विश्व दिवस के प्रयासों को प्रस्तुत करते हुए कहा, "यह एक वास्तविक अस्पताल है।"

विगत साल संत पापा फ्राँसिस ने इस चिकित्सा शिविर का आकस्मिक दौरा किया था जहाँ उन्होंने चिकित्सा सेवा में लगे कर्मचारियों को धन्यवाद दी थी एवं गरीबों से मुलाकात भी की थी। इस चिकित्सा शिविर में पूरी इटली के चिकित्सक एवं स्वंयसेवक भाग ले रहे हैं जो प्रेसिडियुम की सामान्य दवा विभाग के प्रमुख डॉक्टर लोरिस पागानो के अनुसार स्थानीय समुदाय में स्वास्थ्य की स्थिति को समझने का भी अवसर देता है।

आशा कभी निराश नहीं करती

गरीबों के लिए विश्व दिवस के उपलक्ष्य में प्रकाशित संदेश में संत पापा फ्राँसिस ने कहा है, "कई बार आशा को पुनः प्राप्त करने के लिए थोड़ा ही काफी होता है, थोड़ा रूकना, मुस्कुराना और सुनना।" संत पापा के संदेश की विषयवस्तु है, "आशा कभी निराश नहीं करेगी।"  

नवीन सुसमाचार प्रचार हेतु गठित परमधर्मपीठीय समिति के अध्यक्ष मोनसिन्योर रिनो फिसिकेल्ला ने कहा कि गरीबों का दिवस न केवल एक भाव है किन्तु आशा का चिन्ह है। गरीबों के साथ मुलाकात करना है जिनमें युवा, बुजूर्ग और अकेले लोग हैं, उन्हें अपने घर में भोजन के लिए निमंत्रण दिया जाना चाहिए। कई लोग मैत्रीपूर्ण बातचीत के लिए तरसते हैं।  

गरीबों के लिए ख्रीस्तयाग एवं भोज

गरीबों के विश्व दिवस के उपलक्ष्य में 9 नवम्बर को संगीत कार्यक्रम का आयोजन, वाटिकन के पौल षष्ठम सभागार में किया गया था। अगले रविवार को संत पेत्रुस महागिरजाघर में ख्रीस्तयाग का आयोजन किया गया है उसके बाद दोपहर को भोजन भी परोसा जाएगा।

12 November 2019, 17:03