Cerca

Vatican News
कार्डिनल पार्षदों के संग संत पापा कार्डिनल पार्षदों के संग संत पापा  

नये प्रेरितिक संविधान का प्रकाशन वर्ष के अंत तक

संत पापा फ्रांसिस के साथ कार्डिनल पार्षदों की 29वीं बैठक पर वेटिकन प्रेस कार्यालय में कल समाप्त हुई गई। अगला सत्र 25 से 27 जून 2019 तक चलेगा।

दिलीप संजय एक्का-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, गुरूवार, 11 अप्रैल 2019 (रेई) "नए प्रेरितिक संविधान पर परामर्श के लिए प्रक्रिया" का विकास, "चर्च में धर्मसभा की प्रक्रिया को मजबूत करने की प्रतिबद्धता" और "वाटिकन में महिलाओं की उपस्थिति" वाटिकन में चली संत पापा और कार्डिनल पार्षदों की 29वीं बैठक की विषयवस्तु रही।

8 से 10 अप्रैल तक चली इस बैठक में वाटिकन प्रेस कार्यालय के "अंतरिम" निर्देशक, आलेक्सद्रो जिसोत्ती ने बतलाया कि कार्डिनल पिएत्रो पारोलिन, कार्डिनल ओस्कर अंद्रेयस, रॉड्रिग्ज़ मार्डियागा, कार्डिनल रेइनहार्ड मार्क्स और कार्डिनल सेआन के अलावे पैट्रिक ओ'माल्ली, कार्डिनल ग्यूसेप बर्टेलो और कार्डिनल ओसवाल्ड ग्रेसिया ने सत्रों में भाग लिया। इस बैठक में परिषद के सचिव, मॉन्स मार्सेलो सेमारो और उप-सचिव, मॉन्स मार्को मेलिनो भी उपस्थित थे। कार्डिनल परिषद की अगली बैठक 25 से 27 जून को निर्धारित की गई है।

एक व्यापक परामर्श

सुबह और दोपहर में चले, तीन दिनों के दौरान, सत्र में  "नए प्रेरिताई संविधान पर परामर्श की प्रक्रिया का शीर्षक प्रेडिकेटेट इवांगेलियम था। "कार्डिनलों की परिषद द्वारा अनुमोदित ड्राफ्ट, अब राष्ट्रीय कलीसियाई सम्मेलनों के अध्यक्षों, पूर्वी कलीसिया की धर्मसभा, रोमन कूरिया विभागों, धर्मसमाजी सम्मेलन के उच्च अधिकारियों तथा कुछ परमधर्मपीठीय विश्वविद्यालयों को भेजा जाएगा जो उस पर टिप्पणी करते हुए अपना सुझाव देंगे।

परिषद का कार्य जारी है

एलेक्सद्रो जिसोत्ती ने बतलाया कि बैठक सत्रों के दौरान कई मुद्दों पर भी चर्चा किये गये जैसे, “मिशनरी उन्मुखीकरण हेतु रोमन कूरिया को नए प्रेरितिक संविधान की स्थापना, कलीसिया के हर स्तर पर धर्मसभा की प्रक्रिया को मजबूत करने की प्रतिबद्धता, कलीसियाई नेतृत्व के संबंध में महिलाओं की भूमिका और उपस्थिति की आवश्यकता"। अंत में, इस बात पर बल दिया गया कि कार्डिनलों की परिषद एक निकाय है, जो सार्वभौमिक कलीसिया के शासन में संत पापा को मदद करने का कार्य करती है अतः इसका कार्य प्रेरितिक संविधान के प्रकाशन के साथ समाप्त नहीं होता है।

कल, विशेष रूप से, कार्डिनल सीन पैट्रिक ओ'माली ने संत पापा और समिति को पिछले हफ्ते आयोजित मोंटिफिकल कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ माइनर्स के प्लेनरी असेंबली के कार्यों के बारे में समझाया। कार्डिनल ने पिछले फरवरी आयोजित "कलीसिया में नाबालिगों की सुरक्षा" पर वाटिकन में हुई बैठक के आलवे वाटिकन राज्य के लिए मानदंडों से संबंधित प्रकाशन जो कलीसियाई प्रतिबद्धता तथा बच्चों और कमजोर वयस्कों के खिलाफ दुरचार की रोकथाम को सशक्त बनाता है संत पापा के प्रति कृतज्ञता के भाव अर्पित किये।  

11 April 2019, 16:52