Vatican News
चक्रवात में फंसे लोगों के लए सहायता सामग्री चक्रवात में फंसे लोगों के लए सहायता सामग्री 

मोजाम्बिक, जिम्बाब्वे, मलावी को संत पापा का अनुदान

चक्रवात इडाई से हुई तबाही की चपेट में आए लोगों के लिए संत पापा की ओर से एक राशि भेजी गई है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार 23 मार्च 2019 (वाटिकन सिटी) : चक्रवात इडाई से तबाह हुए मोजाम्बिक, जिम्बाब्वे और मलावी के लोगों के लिए संत पापा की निकटता और एकजुटता ने एक ठोस रूप ले लिया है।

समग्र मानव विकास को बढ़ावा देने हेतु परमधर्मपीठीय विभाग ने शुक्रवार को घोषणा की कि संत पापा ने आपातकाल के पहले चरण में मदद करने के लिए 3 देशों को € 150,000 यूरो का प्रारंभिक योगदान भेजने का फैसला किया।

संत पापा की पहल बुधवार को अपने आमदर्शन समारोह के दौरान अपील के तुरंत बाद आई, जिसमें उन्होंने आपदा के पीड़ितों की मदद करने हेतु प्रार्थना और आर्थिक सहयोग देने का आग्रह किया था।

15 मार्च को तीव्र उष्णकटिबंधीय चक्रवात ने, मोजाम्बिक बेइरा के पास भूस्खलन हुआ, जिसमें मोजाम्बिक, मलावी और जिम्बाब्वे में व्यापक रूप से क्षति हुई और बाढ़ आ गई।

संयुक्त राष्ट्र ने इसे दक्षिणी गोलार्ध में आने वाली सबसे बुरी आपदाओं में से एक के रूप में वर्णित किया है। चक्रवात इडाई से मोजाम्बिक में 242, जिम्बाब्वे में 259 और मलावी में 56 लोगों की मौत हुई है और मृतकों की संख्या बढ़ने की उम्मीद है। इससे लगभग दो मिलियन लोग प्रभावित हुए हैं।

परमधर्मपीठीय विभाग ने कहा कि राहत प्रयासों में संत पापा का योगदान आपदा से प्रभावित लोगों और क्षेत्रों के प्रति संत पापा की आध्यात्मिक निकटता और समर्थन की तत्काल अभिव्यक्ति है।

यह राशि, तीनों देशों के प्रेरितिक राजदूतों के माध्यम से समान रूप से वितरित किये जाएंगे और इसका उपयोग आपदा से प्रभावित क्षेत्रों के लोगों की सहायता और राहत कार्यों में उपयोग किया जाएगा।

यह संपूर्ण कोष का हिस्सा है जिसे काथलिक कलीसिया के विभिन्न धर्माध्यक्षीय सम्मेलनों और कई उदारवादी संगठनों द्वारा जमा किया जा रहा है।

23 March 2019, 16:49