खोज

Vatican News
कार्डिनल परिषद के साथ संत पापा कार्डिनल परिषद के साथ संत पापा  (AFP or licensors)

कार्डिनल परिषद की सभा, कुरिया सुधार एवं बाल सुरक्षा पर चर्चा

वाटिकन में कार्डिनल परिषद की तीन दिवसीय सभा में दो खास मुद्दों पर विचार किया गया, नया प्रेरितिक संविधान एवं कलीसिया में नाबालिगों की सुरक्षा।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 21 फरवरी 19 (वाटिकन न्यूज)˸ कार्डिनल परिषद के छः कार्डिनलों ने 18 से 20 फरवरी को एक सभा में भाग लिया जो 2019 की पहली सभा थी। वाटिकन प्रवक्ता एवं वाटिकन प्रेस कार्यालय के अंतरिम निदेशक अलेसांद्रो जिसोत्ती ने प्रेस ब्रीफिंग में इस बात की पुष्टि दी कि परिषद ने नये प्रेरितिक संविधान के मसौदे के पुनः अवलोकन को प्राथमिकता दी।

नया प्रेरितिक संविधान

"प्रेडिकेट एवंजेलियुम" शीर्षक से नये संविधान पर कार्य जारी है जो अलेसांद्रो जिसोत्ती के अनुसार व्यवहारिक तौर पर तैयार हो चुका है। जो काम बाकी रह गया है वह है समिति के कानूनी वकील महाधर्माध्यक्ष मार्को मेल्लिनो के द्वारा निरीक्षण।

संत पापा की इच्छा अनुसार, धर्माध्यक्षीय सम्मेलनों एवं परमाध्यक्षीय रोमी कार्यालय के विभागों द्वारा फिर एक बार उस पर चिंतन किया जाएगा। उसके बाद अंतिम अनुमोदन एवं प्रकाशन के लिए दस्तावेज को संत पापा को सौंप दिया जाएगा।

नाबालिगों की सुरक्षा पर सभा

कार्डिनल पीयेत्रो परोलिन, कार्डिनल ऑस्कर अंद्रेस रोडरिगेज माराडियगा, कार्डिनल रेनहार्ड मार्क्स, कार्डिनल शॉन ओ माले, कार्डिनल ऑस्कर ग्रेसियस एवं कार्डिनल जुसेप्पे बेरतेल्लो ने सभा में भाग लिया। बुधवार को आमदर्शन समारोह के कारण सुबह के सत्र को छोड़ बाकी दिनों में संत पापा फ्राँसिस ने भी सभा में भाग लिया।

कार्डिनलों ने कलीसिया में नाबालिगों की सुरक्षा विषय पर भी विचार किया क्योंकि इसपर सम्मेलन बृहस्पतिवार से रविवार को रखा गया है।

जिसोत्ती ने जानकारी दी कि नाबालिगों की सुरक्षा पर होने वाले सम्मेलन के तुरन्त बाद अगली सभा 25 फरवरी को रखी गयी है, जिसमें विभाग के प्रतिनिधि, सम्मेलन के आयोजक और कुछ विशेषज्ञ भाग लेंगे। कार्डिनल परिषद की अगली सभा 8 से 10 अप्रैल को रखी गयी है।

कार्डिनल ओमाले नाबालिगों की सुरक्षा पर सभा से खुश

वाटिकन प्रेस कार्यालय के अंतरिम निदेशक ने बतलाया कि कार्डिनल परिषद के कार्य सत्र के बाद उन्हें कार्डिनल ओ माले से बातचीत करने का अवसर मिला।

उन्होंने बतलाया कि कार्डिनल ओमाले कलीसिया में नाबालिगों की सुरक्षा पर होने वाले सम्मेलन से खुश हैं जिसके लिए कार्डिनल परिषद ने सितम्बर में हुई अपनी पिछली सभा में विचार किया था।

उन्होंने कहा कि कार्डिनल ओमाले इस सभा में सहर्ष अपना योगदान देना चाहते हैं और विश्वास करते हैं कि यह एक अत्यन्त महत्वपूर्ण अवसर होगा।

पूर्व कार्डिनल मैकरिक पर

कार्डिनल परिषद की सभा में वॉशिंगटन के पूर्व महाधर्माध्यक्ष एवं पूर्व कार्डिनल थेओदोर मैकरिक के याजक पद से पदच्युति का मुद्दा भी उठाया गया था।

परिषद ने इस बात पर जोर दिया कि विश्वास के सिद्धांत हेतु गठित परमधर्मपीठीय धर्मसंघ के अपरिवर्तनीय निर्णय को संत पापा द्वारा अनुमोदन दिया जाना, मैकरिक के पाप और अपराध से न्याय के लिए एक आधारभूत कदम है।

कार्डिनलों ने इस बात की पुष्टि दी कि संत पापा के साथ मिलकर कार्य करने के द्वारा वे अगला कदम ले सकते हैं जिसकी शुरूआत कलीसिया में नाबालिगों की सुरक्षा पर सभा द्वारा की जायेगी। इसके द्वारा हर प्रकार के दुराचार से लड़ने के लिए कलीसिया की प्रतिबद्धता में विश्वास को दृढ़ करने के लिए ईश प्रजा को एक मजबूत संदेश मिलेगा।

21 February 2019, 15:43