खोज

Vatican News
संत पापा वाटिकन क्रिकेट टीम के संग संत पापा वाटिकन क्रिकेट टीम के संग 

वाटिकन क्रिकेट टीम अर्जेंटीना दौरे पर

संत पेत्रुस क्रिकेट क्लब 27 दिसम्बर, 2018 से 3 जनवरी, 2019 तक ब्यूनस आयर्स के 'विश्वास की प्रकाश यात्रा' के दौरे पर है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी,बुधवार 26 दिसम्बर 2018 (रेई) : वाटिकन की क्रिकेट टीम 27 दिसंबर को यूरोप के बाहर अपने पहले दौरे पर रवाना हो रही है, जो ब्यूनस आयर्स के स्पोर्ट्स क्लब के निमंत्रण पर अर्जेंटीना की यात्रा कर रही है। वाटिकन की क्रिकेट टीम ‘सीमा के परे क्रिकेट’ के नाम से जानी जाती है।

8 दिवसीय 'विश्वास के प्रकाश' दौरे के दौरान, वाटिकन की क्रिकेट टीम अर्जेंटीना की राष्ट्रीय टीम के साथ खेलेगी। यह ब्यूनस आयर्स जेल के अंदर और शहर के सबसे गरीब बस्तियों में भी अपने खेल का प्रदर्शन करेगी।

दौरे की तैयारी में, संत पापा फ्राँसिस ने बुधवार, 12 दिसंबर को आमदर्शन के अंत में खिलाड़ियों से मुलाकात की और एक क्रिकेट बैट पर हस्ताक्षर किए जो मेजबान क्लब को उपहार के रूप में प्रस्तुत किया जाएगा। संत पापा ने झोपड़ियों और बस्तियों के बच्चों और उनके परिवारों में वितरित की जाने वाली कई सौ रोजरी मालाओं पर भी आशीर्वाद दिया।

दौरे का कार्यक्रम

‘सीमा से परे क्रिकेट’ की स्थापना 2009 में ब्यूनस आयर्स के महाधर्माध्यक्ष, कार्डिनल जॉर्ज बर्गोग्लियो (वर्तमान संत  पापा फ्रांसिस) के अनुमोदन के साथ हुई थी। इसका मिशन सम्मान, समावेश और टीम कार्य के मूल्यों को सिखाना है, और वर्तमान में करीब 1,500 बच्चों और युवाओं के साथ काम करता है, जिनकी आयु 6 से 20 वर्ष है।

अक्टूबर 2017 में अर्जेंटीना की क्रिकेट टीम संत पापा फ्राँसिस के साथ मुलाकात करने और वाटिकन की क्रिकेट टीम के साथ मैच खेलने के लिए रोम आई थी। खेल में वाटिकन टीम ने जीत हासिल की, इसलिए ब्यूनस आयर्स क्लब 27 दिसंबर को अपने देश में खेलने के लिए आमंत्रित किया और खेल में बराबरी की उम्मीद कर रहा है।

अगले दिन, 28 दिसम्बर को  वाटिकन की टीम अर्जेंटीना राष्ट्रीय टीम को चुनौती देगी जो 1974 से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद का सहयोगी सदस्य रहा है। वहाँ 1800 के दशक में ब्रिटिश प्रवासियों द्वारा यह खेल पहली बार प्रस्तुत किया गया था।

29 दिसंबर को, वाटिकन क्रिकेट टीम संत पापा के उत्तराधिकारी कार्डिनल मारियो पोली और ब्यूनस आयर्स के सहायक धर्माध्यक्ष जोवाकिन सुकुनज़ा के मुलाकात करेगी और उनकी अध्यक्षता ब्यूनस आयर्स के मेट्रोपोलिटन महागिरजाघऱ में पवित्र मिस्सा समारोह में भाग लेगी।

अगले दिन, रविवार को, वाटिकन क्रिकेट टीम अर्जेंटीना, पराग्वे, और उरुग्वे की संरक्षिका, लुजैन की माता मरियम महागिरजाघर की तीर्थयात्रा करेगी।

रोम लौटने से ठीक पहले 3 जनवरी को, टीम ब्यूनस आयर्स के मार्टन जेल का दौरा करेगी तथा कैदियों और कर्मचारियों के साथ बने दल के खिलाफ खेलेगी।

27 दिसम्बर, 2018 से 3 जनवरी, 2019 तक ब्यूनस आयर्स का दौरा सेंट पेत्रुस क्रिकेट क्लब की 5वीं 'विश्वास की प्रकाश यात्रा' है।

26 December 2018, 15:32