Cerca

Vatican News
कैलाश सत्यार्थी से बात करते संत पापा फ्राँसिस कैलाश सत्यार्थी से बात करते संत पापा फ्राँसिस   (ANSA)

कैलाश सत्यार्थी से संत पापा फ्राँसिस की मुलाकात

कैलाश सत्यार्थी ने वाटिकन न्यूज को बतलाया कि उन्होंने संत पापा फ्राँसिस से मुलाकात कर, उनसे बाल यौन शोषण के खिलाफ अपने प्रयासों में उनसे सहायता की मांग की है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार, 17 नवम्बर 2018 (वाटिकन न्यूज) संत पापा फ्राँसिस ने शुक्रवार को एक व्यक्तिगत मुलाकात के दौरान भारत के बाल अधिकार कार्यकर्ता कैलाश सत्यार्थी से मुलाकात की, जिन्हें वर्ष 2014 में पाकिस्तान की मलाला युसूफजाई के साथ नोवेल शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। 

"बचपन बचाओ आंदोलन" के संस्थापक तथा बाल श्रमिक, बच्चों के शोषण एवं उनके साथ दुर्व्यवहार के खिलाफ प्रयास करने वाले 64 वर्षीय पूर्व विद्युत्त इंजिनियर एवं शिक्षक को भारत एवं विदेशों में कई सम्मानों से सम्मानित किया गया है।

सत्यार्थी ने संत पापा को अपने कार्यों की हल्की जानकारी दी। संत पापा फ्राँसिस खुद बाल सुरक्षा एवं उनके अधिकारों के महान समर्थक हैं तथा उन्होंने काथलिक कलीसिया में बच्चों पर यौन दुराचार के खिलाफ कड़ा कदम उठाया है।   

सत्यार्थी ने वाटिकन न्यूज को बतलाया कि संत पापा के साथ उनकी एक छोटी मुलाकात हुई जो व्यक्तिगत थी, जिसमें उन्होंने अपने कुछ प्रस्तावों को संत पापा के समक्ष रखा। उन्होंने कहा, "मैं ऑनलाइन बाल यौन दुर्व्यवहार और अश्लील साहित्य को रोकने हेतु कानूनी तौर पर बाध्यकारी संयुक्त राष्ट्र की मांग पर, समर्थन के एक खास एजेंडा के साथ उनके पास गया था।" 

उन्होंने बतलाया कि संत पापा ने न केवल उनके प्रयास को समर्थन देने बल्कि इस पर कार्य करने का भी प्रण किया जिसको सत्यार्थी एक महान उपलब्धि मान रहे हैं। 

मानव अधिकार कार्यकर्ता ने ऑनलाइन पोर्नोग्राफ़ी और बच्चों के यौन शोषण एवं तस्करी के खिलाफ वैश्विक कार्यबल के लिए अपनी बुलाहट के बारे में भी बात की। उन्होंने कहा कि इस कार्य के लिए अतिरिक्त अधिकार क्षेत्र की आवश्यकता है क्योंकि ऑनलाईन अपराध सीमा से बाहर जाता है।    

सत्यार्थी एक वैश्विक हेल्प-लाइन की अपील कर रहे हैं जहाँ पीड़ित, बचाये गये लोग तथा उनके शुभचिंतक फोन कर सकें। इस हेल्प-लाइन को इंटरपोल (अंतरराष्ट्रीय अपराध पुलिस संघ) या किसी यूएन एजेंसी द्वारा निगरानी की जानी चाहिए। 

अंततः सत्यार्थी ने काथलिक कलीसिया में यौन दुराचार के मुद्दे पर संत पापा फ्राँसिस के प्रयासों की सराहना की।

 

17 November 2018, 17:21