Cerca

Vatican News
पलेरमो के युवाओं के साथ संत पापा पलेरमो के युवाओं के साथ संत पापा  (AFP or licensors)

सिनॉड द्वारा मन एवं हृदय तक पहुँच

"युवा, विश्वास एवं बुलाहटीय आत्मजाँच" पर धर्माध्यक्षीय धर्मसभा के उद्घाटन हेतु संत पापा फ्राँसिस बुधवार को संत पेत्रुस महागिरजाघर में ख्रीस्तयाग का अनुष्ठान करेंगे।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 2 अक्तूबर 2018 (वाटिकन न्यूज)˸ कलीसिया के जीवन में धर्माध्यक्षीय धर्मसभा एक महत्वपूर्ण समय होता है। यह वर्तमान की विषय वस्तुओं पर चिंतन करने एवं भविष्य की ओर देखने का समय है, परिवर्तन के इस दौर में विश्व के साथ सामंजस्य करने तथा नया लक्ष्य रखने का वक्त है। उक्त बातें सिनॉड के महासचिव कार्डिनल लोरेंत्सो बालदिस्सेरी ने सोमवार को वाटिकन में आयोजित एक प्रेस सम्मेलन में कही।

प्रेरितिक संविधान

कार्डिनल ने सिनॉड की प्रक्रियाओं को प्रस्तुत करते हुए बतलाया कि संत पापा फ्राँसिस ने दो सप्ताह पहले नये प्रेरितिक संविधान पर अर्थपूर्ण ढंग से हस्ताक्षर किया जो ईश प्रजा की सहभागिता को बल प्रदान करता है तथा धर्माध्यक्षों एवं संत पापा के बीच वार्ता एवं सहयोग को आगे प्रोत्साहन देता है।  

अंतिम दस्तावेज

सिनॉड अंतिम दस्तावेज को बल प्रदान करेगा जिसके निर्माण हेतु सिनॉड के धर्माचार्य बुलाये गये हैं। सिनॉड के धर्माचार्यों के हस्ताक्षेप को सुनने के बाद तथा 49 लेखा परीक्षकों, जिनमें से 36 युवा हैं जिन्हें युवाओं का प्रतिनिधित्व करने के लिए पाँच महादेशों से चुना गया है।  

चीन के धर्माध्यक्ष

सिनॉड में कुल 300 कार्डिनल, धर्माध्यक्ष, पुरोहित, धर्मसमाजी एवं लोकधर्मी भाग ले रहे  हैं। जिनमें, 1965 में, संत पापा पौल छाटवें द्वारा सिनॉड की स्थापना के बाद यह पहली बार है जब चीन के दो धर्माध्यक्ष सिनॉड में भाग लेकर संत पापा को अपना सहयोग देंगे। यह चीन एवं परमधर्मपीठ के बीच अस्थायी समझौता के कारण सम्भव हो पाया है। 

सिनॉड पर संचार

सिनॉड सभागार में क्या हो रहा है इसकी जानकारी उपलब्ध कराने के लिए वाटिकन संचार विभाग के पत्रकार विभिन्न भाषाओं में रिपोर्ट एवं वीडियो प्रसारित करेंगे, साथ ही साथ, सामाजिक संचार माध्यमों द्वारा भी समाचार प्रकाशित किया जाएगा।   

याजकीय यौन दुराचार

याजकों द्वारा हाल में हुए यौन दुराचार की घटनाओं ने क्या युवाओं में अविश्वास एवं नराजगी उत्पन्न की जो कलीसिया के साथ उनके सम्पर्क को तोड़ दिया है इसके उत्तर में कार्डिनल बलदिस्सेरी ने कहा कि सिनॉड निश्चय ही एक सुनहरा अवसर प्रदान करेगा जब वे इस महत्वपूर्ण मुद्दे पर चर्चा करेंगे।

संत पापा फ्राँसिस 

आशा की जा रही है कि संत पापा फ्राँसिस यदि सिनॉड के सभी सत्रों में भाग नहीं भी ले पायेंगे किन्तु वे अधिकतर सत्रों में भाग जरूर लेंगे। उन्होंने कहा कि एक स्पष्ट चिन्ह दिखाई पड़ रहा है कि सिनॉड एक बंद दरवाजे के अंदर कुछ विशेष रूप से चयनित सदस्यों के लिए नहीं  होगा क्योंकि संत पापा ने सैंकड़ों युवाओं को निमंत्रण दिया है कि वे शनिवार के संगीत एवं आदान-प्रदान के कार्यक्रम में भाग लें।

कलीसिया अपना कार्य करना चाहती है

कार्डिनल बलदिस्सेरी ने बारंबार दुहराया कि कलीसिया लोगों के साथ चलना चाहती है और जिसे वह सिनॉड में खुले आँख, कान, हृदय एवं मन के साथ करना चाहती है। वह चुनौतियों को स्वीकारना तथा युवाओं की बेचैनी पर ध्यान देना चाहती है।

 

02 October 2018, 16:36