बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस के साथ वाटिकन प्रवक्ता ग्रेग बर्क संत पापा फ्राँसिस के साथ वाटिकन प्रवक्ता ग्रेग बर्क  (AFP or licensors)

ईश प्रजा के लिए संत पापा के पत्र पर वाटिकन प्रवक्ता का स्पष्टीकरण

वाटिकन प्रेस कार्यालय के निदेशक एवं वाटिकन प्रवक्ता ग्रेग बर्क ने संत पापा फ्राँसिस के उस पत्र का स्पष्टीकरण दिया है जिसको उन्होंने ईश्वर की प्रजा के नाम लिखा है। पत्र 20 अगस्त को प्रकाशित हुआ।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 21 अगस्त 2018 (रेई)˸ वाटिकन प्रवक्ता ग्रेग बर्क ने संत पापा के पत्र के बारे में कहा, "यह आयरलैंड के संबंध में है, अमरीका एवं चिली के बारे है किन्तु इतना ही नहीं संत पापा ने इसे ईश्वर की प्रजा के लिए लिखा है, जिसका मतलब है प्रत्येक जन के लिए।"

यौन दुराचार की क्षतिपूर्ति असम्भव

उन्होंने 20 अगस्त को एक प्रेस विज्ञाप्ति जारी करते हुए कहा कि इसका अर्थ है कि संत पापा यौन दुराचार को एक अपराध मानते हैं। वे न केवल उसे पाप समझकर उसके लिए माफी मांगते किन्तु वे यह स्वीकार करते हैं कि उस क्षति की पूर्ति किसी भी प्रयास पर, उस पीड़ित और बचाये गये व्यक्ति के लिए पर्याप्त नहीं हो सकती।   

बर्क ने कहा, "संत पापा ने साल भर में कई पीड़ितों की दास्तां सुनी है जो उनके इस पत्र में स्पष्ट झलकता है। उन्होंने इस बात को स्पष्ट किया है कि दुराचार का घाव कभी नहीं मिटता।"

उत्तरदायित्व की आवश्यकता

संत पापा ने पत्र में कहा है कि इसके लिए जवाबदेही होने की अति आवश्यकता है न केवल उन लोगों के लिए जिन्होंने अपराध किया है बल्कि उन लोगों के लिए भी, जिन्होंने उन अपराधों को ढ़कने का प्रयास किया है जिनमें कई बार धर्माध्यक्षों का भी हाथ है।

बर्क ने बतलाया है कि संत पापा ने काथलिक कलीसिया का आह्वान किया है कि वह अपने संस्थानों में आवश्यक सुरक्षा प्रदान करे। संत पापा ने सभी विश्वासियों से भी आग्रह किया है कि वे अपनी ओर से प्रार्थना एवं पश्चाताप के माध्यम से सहयोग दें।

21 August 2018, 15:13