Vatican News
नसीरिया स्थित अल हुस्सैन अस्पताल नसीरिया स्थित अल हुस्सैन अस्पताल  

इराकी अस्पताल में लगी आग के शिकार लोगों के लिए पोप की प्रार्थना

संत पापा फ्रांसिस ने इराक के नसीरिया स्थित अल हुस्सैन अस्पताल में लगी आग के शिकार लोगों के प्रति अपना आध्यात्मिक सामीप्य व्यक्त की है तथा उनके लिए प्रार्थना का आश्वासन दिया है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 13 जुलाई 2021 (रेई)- सोमवार को अल-हुस्सैन टीचिंग हॉस्पिटल के कोरोनावायरस वार्ड में आग लगने से 60 से अधिक लोगों की मौत हो गई, जबकि कई अन्य घायल हो गए। इराकी अस्पताल में तीन महीने में कोविड इकाई में आग लगने की यह दूसरी आग की घटना है।

मंगलवार 13 जुलाई को वाटिकन राज्य सचिव कार्डिनल पीयेत्रो परोलिन ने संत पापा फ्रांसिस की ओर से एक तार संदेश भेजकर कहा कि पोप फ्रांसिस इराक के नसीरिया में अल-हुसैन अस्पताल के एक कोविड आइसोलेशन वार्ड में आग से प्रभावित सभी लोगों के प्रति अपनी आध्यात्मिक निकटता व्यक्त करते हैं। वे पीड़ितों और उनके परिवारों तथा प्रियजनों के लिए प्रार्थना करते हैं।

कार्डिनल परोलिन ने तार संदेश इराक के प्रेरितिक राजदूत महाधर्माध्यक्ष मितजा लेस्कोवार को भेजा। जिसमें उन्होंने कहा, पोप "नसीरिया में अल-हुसैन अस्पताल के कोविड आइसोलेशन वार्ड में दुखद आग से प्रभावित सभी को अपनी आध्यात्मिक निकटता का आश्वासन भेजते हैं और गहरे दुःख के साथ, विशेष रूप से उन लोगों के लिए प्रार्थना करते हैं जो मौत के शिकार हो गए हैं।"

कार्डिनल ने लिखा है कि संत पापा मरीजों, अस्पताल के कर्मचारियों एवं देखभाल करने वालों पर ईश्वर की आशीष, शक्ति एवं शांति की कामना करते हैं।

13 July 2021, 16:26