Vatican News
येरूसालेम का पुराना शहर येरूसालेम का पुराना शहर 

पोप ने इस्राएल एवं साइप्रस के लिए नया प्रेरितिक राजदूत नियुक्त किया

73 वर्षीय महाधर्माध्यक्ष अडोल्फो तितो यलाना को संत पापा फ्राँसिस ने इस्राएल एवं साइप्रस के प्रेरितिक राजदूत और येरूसालेम एवं फिलीस्तीन के प्रेरितिक प्रकिनिधि नियुक्त किया।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटा

इस्राएल, बृहस्पतिवार, 3 जून 2021 (वीएनएस)- फिलीपीनी महाधर्माध्यक्ष अडोल्फो को चार महादेशों ˸ अफ्रीका, एशिया, यूरोप और ऑशिनिया में वाटिकन के प्रतिनिधि नियुक्त करने के बाद, संत पापा फ्रांसिस ने उन्हें पवित्र भूमि का महत्वपूर्ण मिशन सौंपा है।

संत पापा ने महाधर्माध्यक्ष अडोल्फो को इस्राएल एवं साईप्रस के लिए प्रेरितिक राजदूत एवं येरूसालेम तथा फिलीस्तीन के लिए प्रेरितिक प्रतिनिधि नियुक्त किया है। इस नियुक्ति की घोषणा बृहस्पतिवार को वाटिकन में कोरपुस दोमिनी महापर्व के दिन की गई। वे मोनसिन्योर लेओपोल्दो गिरेल्ली के स्थान पर नियुक्त किये गये हैं जिन्हें मार्च में भारत का प्रेरितिक राजदूत नियुक्त किया गया।  

महाधर्माध्यक्ष अडोल्फो तितो यल्लाना का जन्म 6 फरवरी 1948 को फिलीपींस के नागा शहर में हुआ था। उनका पुरोहिताभिषेक 19 मार्च 1972 को हुआ था। रोम के लातेरन विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री प्राप्त करने और कलीसिया के अन्य अध्ययनों को पूरा करने के बाद, 1984 में उन्होंने परमधर्मपीठ में राजनयिक सेवा शुरू की।  

उन्होंने परमधर्मपीठ के प्रतिनिधि के रूप में घाना, श्रीलंका, तुर्की, लेबनान, हंगरी और ताईवान में सेवा दी है। दिसम्बर 2001 में संत पापा जॉन पौल द्वितीय ने उन्हें पापुआ न्यू गिनी का प्रेरितिक राजदूत नियुक्त किया तथा उन्हें 6 जनवरी 2002 को संत पेत्रुस महागिरजाघर में धर्माध्यक्षीय पावन अभिषेक प्रदान किया।

संत पापा बेनेडिक्ट 16वें ने 2006 में उन्हें पाकिस्तान एवं 2010 में कोंगो के प्रेरितिक राजदूत नियुक्त किये थे। फरवरी 2015 में संत पापा फ्राँसिस ने उन्हें ऑस्ट्रेलिया के प्रेरितिक राजदूत नियुक्त किया था।  

वे अंग्रेजी, स्पानी, इताली और फ्रेंच भाषाओं के कुशल ज्ञाता हैं।

03 June 2021, 15:46