खोज

Vatican News
कोलोम्बिया में प्रदर्शन कोलोम्बिया में प्रदर्शन  (AFP or licensors)

कोलोम्बिया में वार्ता का आह्वान

देवदूत प्रार्थना के उपरांत संत पापा ने विभिन्न देशों एवं घटनाओं की याद दिलायी। उन्होंने कोलोम्बिया, कोंगो एवं चीन के लोगों के लिए प्रार्थना की एवं लौदातो सी सप्ताह में भाग लेने वालों को धन्यवाद दिया।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

कोलोम्बिया के लिए चिंता व्यक्त करते हुए संत पापा ने कहा, "पेंतेकोस्त के इस महापर्व के अवसर पर, मैं प्रार्थना करता हूँ कि प्यारे कोलोम्बिया के लोग पवित्र आत्मा के वरदानों का स्वागत करना जान सकें, ताकि गंभीर वार्ता के द्वारा, कई समस्याओं के सही समाधान पा सकें जिनसे, खासकर, महामारी के कारण गरीब पीड़ित हैं। मैं सभी से अपील करता हूँ कि शांति पूर्ण प्रदर्शन के अधिकार का प्रयोग करनेवाली जनता पर मानवीय कारणों से ऐसे व्यवहार न करें, जो लोगों के लिए हानिकारक हो।"

गोमा शहर के लोगों के लिए प्रार्थना

संत पापा ने कोंगो के गोमा शहर के लोगों के लिए प्रार्थना की। उन्होंने कहा, "हम कोंगो के गोमा शहर के लोगों के लिए प्रार्थना करते हैं जिन्हें निएरागोंगो ज्वाला मुखी विस्फोट के कारण भागना पड़ रहा है।"   

चीन के विश्वासियों की याद

चीन के विश्वासियों की याद करते हुए संत पापा ने कहा, "चीन के काथलिक विश्वासी कल ख्रीस्तियों की सहायता एवं उनके देश की स्वर्गीय संरक्षिका धन्य कुँवारी मरियम का पर्व मनाते हैं। प्रभु और कलीसिया की माता को शंघाई के शेशान तीर्थस्थल में विशेष भक्ति दी जाती है और दैनिक जीवन की परीक्षाओं एवं आशाओं में ख्रीस्तीय परिवारों के लिए आह्वान की जाती है।"

संत पापा ने कहा, "परिवार के सदस्यों एवं ख्रीस्तीय समुदायों के लिए यह कितना अच्छा एवं आवश्यक है कि वे हमेशा प्रेम एवं विश्वास में एक बने रहें। इस तरह माता-पिता एवं बच्चे, दादा-दादी और पोता-पोती एवं बच्चे तथा विश्वासी प्रथम शिष्यों का अनुसरण कर सकें जो पेंतेकोस्त के समय माता मरियम के साथ प्रार्थना में एकजुट थे और पवित्र आत्मा का इंतजार कर रहे थे। अतः मैं उत्कट प्रार्थना के साथ चीन के विश्वासियों का साथ देने का निमंत्रण देता हूँ। जिनको में अपने दिल की गहराई में रखता हूँ। पवित्र आत्मा, विश्व में कलीसिया के मिशन के नायक उन्हें अपने मातृभूमि में सुसमाचार के वाहक बनने, अच्छाई और उदारता एवं न्याय तथा शांति निर्माता बनने में मदद दे और उनका मार्गदर्शन करे।"

संत मरियम ख्रीस्तियों की सहायता का पर्व

24 मई को संत मरियम ख्रीस्तियों की सहायता का पर्व मनाया जाता है, जिसको सलेशिन धर्मसमाजी विशेष रूप से मनाते हैं संत पापा ने कहा, "कल माता मरियम ख्रीस्तीयों की सहायता का पर्व है मैं सलेशियनों की याद करता हूँ जो कलीसिया में सबसे दूर, सबसे हाशिये पर जीवनयापन करनेवाले लोगों एवं युवाओं की मदद करते हैं। प्रभु उन्हें आशीष प्रदान करे तथा बहुत सारे पवित्र बुलाहट के द्वारा उन्हें आगे ले चले।  

"लौदातो सी सप्ताह" में भाग लेनेवालों के प्रति आभार

संत पापा ने लौदातो सी सप्ताह की याद की और कहा, "कल लौदातो सी सप्ताह समाप्त हो जाएगा। मैं उन सभी लोगों को धन्यवाद देता हूँ जिन्होंने विश्व भर में विभिन्न पहलों के द्वारा इसमें भाग लिया है। यह एक यात्रा है जिसमें हम सभी को एक साथ आगे बढ़ना है, पृथ्वी एवं गरीबों की पुकार सुनते हुए। यही कारण है कि जल्द ही "लौदातो सी मंच" की शुरूआत की जायेगी, जो सात सालों तक परिवारों, पल्ली एवं धर्मप्रांतीय समुदाय, स्कूल, विश्वविद्यालयों, अस्पतालों, व्यापार, दलों, आंदोलनों संगठनों, धर्मसमाजी संस्थाओं को एक सतत् जीवन शैली ग्रहण करने के लिए मार्गदर्शन देगा।" संत पापा ने आमघर की देखभाल एवं सृष्टि के सुसमाचार को फैलाने का अधिदेश प्राप्त करनेवाले स्वयंसेवकों को शुभकामनाएँ दी।

तत्पश्चात् संत पापा ने रोम, इटली एवं अन्य देशों के विश्वासियों का अभिवादन किया। उन्होंने प्राँगण में उपस्थित विश्वासियों को सम्बोधित कर कहा, "मैं पोलैंड, मेक्सिको, चिली, पनामा, कोलोम्बिया और कई अन्य देशों के लोगों को उनके झंडे के साथ यहाँ देख रहा हूँ। यहाँ उपस्थित होने के लिए धन्यवाद। खासकर, मैं फोकलारे मूवमेंट के युवाओं का अभिवादन करता हूँ।"      

अंत में संत पापा ने अपने लिए प्रार्थना का आग्रह करते हुए सभी को शुभ रविवार की मंगलकामनाएं अर्पित की।  

23 May 2021, 16:32