खोज

Vatican News
कोलंबिया में क्षतिग्रस्त किये गये घर एवं आग को देखते लोग कोलंबिया में क्षतिग्रस्त किये गये घर एवं आग को देखते लोग 

कोलंबिया में हिंसा के शिकार लोगों के प्रति संत पापा का सामीप्य

पोप फ्राँसिस ने दक्षिणी कोलंबिया में हिंसा के शिकार लोगों के प्रति अपना आध्यात्मिक सामीप्य व्यक्त किया है। उन्होंने एक तार संदेश भेजकर उनके प्रति अपनी सहानुभूति प्रकट की है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार, 10 अप्रैल 2021 (वीएनएस)- संत पापा की ओर से वाटिकन राज्य सचिव कार्डिनल पीयेत्रो परोलिन ने 10 अप्रैल को कोलंबियाई काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के अध्यक्ष को एक तार संदेश भेजकर कहा कि संत पापा ने कोलोम्बिया के दक्षिणी क्षेत्र की उत्तेजक स्थिति की याद की है।

कोलंबिया में 2016 में बोगोटा एवं कोलंबिया के क्रांतिकारी सशस्त्र बल (एफएआरसी) के बीच शांति समझौता से नागरिक युद्ध का अंत हुआ था किन्तु इन दिनों हिंसक घटनाएँ बढ़ गई हैं। मार्च में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की एक रिपोर्ट के अनुसार, कोलंबिया में 13,000 से अधिक नागरिकों, जिनमें 5,000 से अधिक बच्चे शामिल हैं, जनवरी और फरवरी में राष्ट्रव्यापी सशस्त्र समूहों की गतिविधियों के कारण उन्हें विस्थापित होना पड़ा है अथवा उन्होंने प्रतिबंध का अनुभव किया है।

कार्डिनल परोलिन ने कोलंबिया के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के अध्यक्ष विल्लाविंचेंसो के महाधर्माध्यक्ष ऑस्कर उरबिना ओरतेगा को प्रेषित पत्र में कहा, "पोप फ्राँसिस ने हिंसक घटना की निंदा की है और उन लोगों के प्रति अपना सामीप्य व्यक्त किया है जो कोलंबिया के दक्षिण-पश्चिम प्रशांत क्षेत्र में बहुत अधिक पीड़ा के बीच रह रहे हैं। पत्र में उन्होंने धर्माध्यक्षों, पुरोहितों, धर्मसमाजियों और लोकधर्मियों की प्रतिबद्धता की याद की है जिन्होंने पूरे प्रांत में शांति स्थापित करने का अथक प्रयास किया है।"

हमला और हिंसा  

पिछले कुछ दिनों में देश के दक्षिणी भाग में कई हिंसक घटनाएँ दर्ज की कई हैं। 26 मार्च को एक बम विस्फोट में दक्षिण-पश्चिमी कोलंबियाई के कोरिंथ में दर्जनों लोग घायल हो गए थे। कोलंबिया में आदिवासी समुदाय के प्रतीकात्मक स्थल पर टाऊन हॉल के सामने एक कार बम विस्फोट हुआ था। यह क्षेत्र, हाल के दशक में एफएआरसी सशस्त्र समूह और गिरोह का गढ़ है जो नशीली पदार्थों की तस्करी से जुड़ा है। पड़ोसी नगरपालिका, तोरिबियो की तरह कोरिंथ ऐतिहासिक रूप से आदिवासी नेतृत्ववाली नगरपालिका है। तोरिबियो में, फादर अलवानो उलक्वे कोलोम्बिया के पहले आदिवासी पुरोहित थे, जिनकी हत्या 1984 में हुई थी। कोन्सोलाता के मिशनरी उनके कामों को आगे बढ़ा रहे हैं। शांति के लिए ख्रीस्तीय एकता मेज एवं अन्य संगठनों की हाल की रिपोर्ट अनुसार, कलीसियाई संगठन दशकों से हिंसा का सामना कर रही है एवं गरीब लोगों के लिए आवाज उठा रही है।  

10 April 2021, 14:19