Vatican News
संत पेत्रुस के खाली प्राँगण में कोविड-19 महामारी से बचने के लिए संत पापा ने अकेले प्रार्थना की थी संत पेत्रुस के खाली प्राँगण में कोविड-19 महामारी से बचने के लिए संत पापा ने अकेले प्रार्थना की थी 

कोरोना वायरस से बचने के लिए संत पापा की प्रार्थना

संत पापा फ्राँसिस ने पिछले साल आज ही के दिन 27 मार्च 2020 को कोरोनावायरस महामारी से बचने के लिए विशेष प्रार्थना की थी तथा सभी पीड़ित लोगों को सांत्वना दिया था।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार, 27 मार्च 2021 (रेई) – संत पापा फ्राँसिस ने पिछले साल आज ही के दिन 27 मार्च 2020 को कोरोनावायरस महामारी से बचने के लिए विशेष प्रार्थना की थी तथा सभी पीड़ित लोगों को सांत्वना दिया था। एक साल बाद वैक्सिन की खोज के कारण उम्मीद जरूर जगी है लेकिन हालात में अधिक सुधार नहीं हो पाया है।

संत पापा ने 27 मार्च के ट्वीट में आंधी के बीच डगमगाते नाव में भयभीत शिष्यों को कहे गये येसु के शब्दों की याद दिलाते हुए लिखा, "तुम लोग इस प्रकार क्यों डरते हो? क्या तुम्हें

 अब तक विश्वास नहीं?" (मार.4,35-41) हमने महसूस किया है कि हम सब एक ही नाव पर सवार हैं, हम सभी कमजोर और गुमराह हैं किन्तु महत्वपूर्ण एवं आवश्यक भी, हम सभी एक ही पंक्ति में खड़े होने के लिए बुलाये गये हैं।"

27 मार्च 2020 को पोप ने मानवता के लिए ईश्वर से जोरदार एवं शक्तिशाली अर्जी की थी तथा विश्वभर के विश्वासियों को उर्बी एत ओरबी आशीष प्रदान की थी।

27 मार्च 2020 को कोविड-19 से बचने के लिए संत पापा की विशेष प्रार्थना
27 March 2021, 14:22