खोज

Vatican News
नाईजीरिया के स्कूल से 317 बालिकाओं के अपहरण के बाद विरान पड़ा शयन कक्ष नाईजीरिया के स्कूल से 317 बालिकाओं के अपहरण के बाद विरान पड़ा शयन कक्ष  (AFP or licensors)

नाईजीरिया में अपहृत छात्राओं की रिहाई के लिए पोप की अपील

रविवार को देवदूत प्रार्थना के उपरांत संत पापा फ्रांसिस ने विश्वासियों का अभिवादन किया और विभिन्न घटनाओं की याद की।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

संत पापा ने नाईजीरिया में स्कूल छात्राओं के अपहरण पर खेद प्रकट करते हुए कहा, "मैं नाईजीरिया के धर्माध्यक्षों के साथ अपनी आवाज उस नीच अपहरण के लिए उठाता दूँ जिसमें देश के उत्तर पश्चिम में यांजेबे स्थित स्कूल से 317 छात्राओं का अपहरण कर दिया गया है। मैं उन बालिकाओं के लिए प्रार्थना करता हूँ कि वे जल्द अपना घर लौट सकें। मैं उनके तथा उनके परिवारवालों के करीब हूँ। आइये हम उनके लिए प्रार्थना करें।" संत पापा ने उनके लिए प्रणाम मरिया की प्रार्थना की।...

संत पापा ने विश्व दुर्लभ रोग दिवस की याद करते हुए, इस क्षेत्र से जुड़े सभी लोगों का अभिवादन किया। उन्होंने दुर्लभ रोग से पीड़ित लोगों के लिए प्रार्थना की और उनके तथा उनके परिवार की मदद करनेवाले संगठन के सदस्यों को प्रोत्साहन दिया।

तब संत पापा ने सभी तीर्थयात्रियों का अभिवादन करते हुए कहा, "मैं आप सभी का सारे हृदय से अभिवादन करता हूँ, रोम के विश्वासी एवं विभिन्न देशों के तीर्थयात्री, आप सभी के लिए इस चालीसा काल की शुभयात्रा की कामना करता हूँ।"

खास तरह का उपवास

संत पापा ने इस पुण्य काल में उपवास करने हेतु प्रोत्साहित करते हुए कहा, "मैं आप सभी को उपवास करने की सलाह देता हूँ, एक ऐसा उपवास जिसमें आपको भूख सहन करना नहीं पड़ेगा ˸ गपशप और पीठ पीछे शिकायत करने से उपवास। यह एक खास तरीका है। हम संकल्प लें, कि इस चालीसा काल में दूसरों की चुगली नहीं करूँगा, गपशप नहीं करूँगा...। संत पापा ने कहा कि इसको हम सभी कर सकते हैं। यह एक अच्छा उपवास है।"

संत पापा ने सुसमाचार का पाठ करने की सलाह दुहरायी और कहा, "यह न भूले कि हर दिन सुसमाचार के एक अंश का पाठ करना भी लाभदायक होगा। अपने पॉकेट या बैग में सुसमाचार की छोटी प्रति रखें, और जब कभी संभव हो, कहीं से भी इसे पढ़ लें। यह हृदय को ईश्वर के लिए खोलने में मदद देगा।"  

अंत में, संत पापा ने अपने लिए प्रार्थना का आग्रह करते हुए सभी को शुभ रविवार की मंगलकामनाएँ अर्पित की।      

01 March 2021, 13:33